scriptPolice sought extension of ten days, Riyabri markets opened on the six | पुलिस ने मांगी दस दिन की मोहलत, धरना समाप्त, आज खुलेंगे रियाबड़ी के बाजार | Patrika News

पुलिस ने मांगी दस दिन की मोहलत, धरना समाप्त, आज खुलेंगे रियाबड़ी के बाजार

- पुलिस प्रशासन ने दिया आरोपी की गिरफ्तारी का आश्वासन

- कस्बे से एक विवाहिता को भगा ले जाने का मामला

- सर्व समाज की मांगों पर बनी सहमति- ग्रामीणों ने पांच दिन से चल रहा धरना समाप्त

नागौर

Updated: June 14, 2022 06:23:58 pm

रियांबड़ी @ पत्रिका

कस्बे में पांच दिन से चल रहा धरना प्रदर्शन मंगलवार पुलिस प्रशासन की समझाइश व सर्व समाज की मांगों पर सहमति बनने के बाद धरना समाप्त कर दिया गया। सर्व समाज ने पुलिस प्रशासन के समक्ष पांच मांगे रखी थी। इस में दस दिन में विवाहिता को दस्तयाब कर आरोपी को गिरफ्तार कर कड़ी सजा दिलाने के अलावा अन्य मांगें शामिल थी।पुलिस प्रशासन से फूले ब्रिगेड़ के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रप्रकाश सैनी, राजस्थान प्रदेश माली महासभा अध्यक्ष नवीन कच्छावा, किसान मोर्चा नागौर शहर जिलाध्यक्ष मदनराम गोरा, ग्राम पंचायत सरपंच गिरधारी लाल माली, आरएलपी नेता विजयपाल राव, अन्नाराम बावरी, महंत हरीशगिरी, पूर्व उप प्रधान राजूराम माली, पूर्व व्यापार संघ अध्यक्ष राजूराम डांगा ने विवाहिता को दस्तयाब कर आरोपी को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की। इसको लेकर रियांबड़ी उपखंड अधिकारी गौरीशंकर शर्मा, डेगाना पुलिस उपाधीक्षक नंदलाल सैनी, डेगाना सीआई सुभाष पूनियां, पादूकलां थानाधिकारी सुमन चौधरी ने उनकी मांगें सुनकर कार्रवाई के लिए दस दिन का समय मांगा है।
पुलिस ने मांगी दस दिन की मोहलत, छठे दिन खुले रियाबड़ी के बाजार
रियांबड़ी. धरनास्थल पर मौजूद ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए डेगाना सीओ नंदलाल सैनी।
पुलिस प्रशासन की समझाइश के बाद सभी लोग सहमत हो गए। उसके बाद धरना समाप्त करते हुए सभी लोगों ने अपनी दुकानें खोल दी। रियांबड़ी कस्बे का बाजार पिछले पांच दिन से बंद था। इस दौरान पुलिस का भारी जाप्ता तैनात था।इनका कहना
ग्रामीणों से समझाइश कर पांच दिन बाद धरना खत्म करवा दिया है। ग्रामीणों की मांगों पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी।गौरी शंकर शर्मा, उपखंड अधिकारी, रियांबड़ी।

रियांबड़ी में धरने पर बैठे लोगों से समझाइश कर धरना खत्म कर दुकानें खोलने का आग्रह किया था। उनसे कार्रवाई के लिए दस दिन का समय मांगा है। सभी लोगों ने सहमति जताते हुए धरना खत्म कर दिया । नंदलाल सैनी, सीओ डेगाना।यह रहे मौजूद
इस दौरान पूर्व सरपंच सम्पतराज भाटी, रामनिवास भाटी, सुखदेव भाटी, चेनाराम दगदी, मुकेश माली, भरतकुमार सैनी, एडवोकेट रामकिशोर तिवाड़ी, मेघाराम सामरिया, हरिराम भाटी, गेंदीराम पालड़िया, दिनेश गहलोत, भागीरथ डांगा सहित बडी संख्या में लोग मौजूद थे।फोटो - आरबी- 150651- रियांबड़ी. धरनास्थल पर ग्रामीणों को सम्बोधित करते फूले ब्रिगेड़ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीपी सैनी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

NSA अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक को लेकर केंद्र का बड़ा एक्शन, हटाए गए 3 कमांडो'रूसी तेल खरीदकर हमारा खून खरीद रहा है भारत', यूक्रेन के विदेश मंत्री Dmytro KulebaNagpur Crime: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर मजदूर ने किया सुसाइड, मचा हड़कंपरोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियालालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाPunjab Bomb Scare: अमृतसर में SI की गाड़ी में बम लगाने वाले दो आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, कनाडा भागने की फिराक में थेगुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानशाबाश भावना: यूरोप की सबसे बड़ी चोटी भी नहीं डिगा पाई मध्यप्रदेश की बेटी का हौसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.