पंचायत चुनाव के द्वितीय चरण के लिए 26 नवम्बर को रवाना होंगे मतदान दल

मेड़ता, डेगाना, रियां बड़ी व भैरूंदा पंचायत समिति के 94 पंचायत समिति वार्ड एवं जिला परिषद के 12 वार्डों में 27 नवम्बर को होंगे चुनाव

By: shyam choudhary

Published: 25 Nov 2020, 09:12 PM IST

नागौर. पंचायत चुनाव Panchayatiraj elections के द्वितीय चरण में जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्यों के लिए 27 नवम्बर को होने वाले मतदान के लिए 26 नवम्बर को जिला मुख्यालय स्थित श्री बीआर मिर्धा कॉलेज परिसर से मतदान दल रवाना होंगे। मतदान दलों को रवाना करने से पूर्व अंतिम प्रशिक्षण दिया जाएगा। मतदान दलों द्वारा मतदान से संबंधित सामग्री मिलने के बाद सहायक प्रशिक्षण प्रभारी रामेश्वरलाल खीचड़ के नेतृत्व में दक्ष प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी एवं जिला परिषद सीईओ जवाहर चौधरी ने मिर्धा कॉलेज परिसर में मतदान दलों को रवाना करने को लेकर की गई तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

द्वितीय चरण में डेगाना पंचायत समिति की कुल 35 ग्राम पंचायतों द्वारा निर्मित 23 पंचायत समिति वार्डों में चुनाव होंगे, जिसमें 173 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। डेगाना पंचायत समिति में एक लाख 26 हजार 730 पंजीकृत मतदाता हैं। इसी प्रकार मेड़ता पंचायत समिति की 41 ग्राम पंचायतों में 35 पंचायत समिति वार्ड बनाए गए हैं, जिसमें मतदाताओं की सुविधा के लिए 238 मतदान केंद्र घोषित किए गए हैं। मेड़ता पंचायत समिति में जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव के लिए एक लाख 77 हजार 765 मतदाता पंजीकृत हैं। वहीं रियांबड़ी की 20 ग्राम पंचायतों में निर्मित 17 पंचायत समिति वार्ड के लिए 119 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जहां जिले में सबसे कम 84 हजार 95 मतदाता पंजीकृत हैं। इसी प्रकार नवसृजित भैंरूदा पंचायत समिति में कुल ग्राम पंचायतें 23 हैं, जहां पंचायत समिति वार्डों की संख्या 19 हैं। भैरूंदा पंचायत समिति में एक लाख एक हजार 14 पंजीकृत मतदाता 140 मतदान केंद्रों पर मत का प्रयोग कर सकेंगे। इसी प्रकार जिला परिषद के वार्ड संख्या 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 17, 18 व 19 में चुनाव होंगे।

मतदाता प्रस्तुत कर सकेंगे वैकल्पिक फोटो युक्त दस्तावेज
पंचायती राज संस्थाओं के जिला परिषद तथा पंचायत समिति सदस्य चुनाव में मतदान करने के लिए मतदाता को अपनी पहचान साबित करने के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्वाचक फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करना होगा। यदि कोई निर्वाचक अपना निर्वाचक फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करने में असमर्थ रहता है तो उसे अपनी पहचान बताने के लिए 12 अन्य वैकल्पिक फोटोयुक्त दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा।
जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. जितेंद्र कुमार सोनी के निर्देशानुसार मतदाता मतदान करने के लिए आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आयकर पहचान पत्र, मनरेगा जॉब कार्ड, सांसदों एवं विधानसभा सदस्यों को जारी किए हुए सरकारी पहचान पत्र या केंद्र या राज्य सरकार, राज्य पब्लिक लिमिटेड कंपनी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए जाने वाले फोटो युक्त सेवा पहचान पत्र प्रस्तुत कर सकेगा।

द्वितीय चरण को लेकर सूखा दिवस घोषित
राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के आम चुनाव को लेकर संबंधित चुनाव क्षेत्रों तथा ऐसे क्षेत्रों के 5 किलोमीटर परिधी में मतदान दिवस को सूखा दिवस घोषित किया गया है। जिला मजिस्ट्रेट डॉ. जितेंद्र कुमार सोनी ने आदेशानुसार द्वितीय चरण में पंचायत समिति मेड़ता, रियांबड़ी, डेगाना व भैरूंदा के चुनाव क्षेत्रों के 5 किलोमीटर परिधीय क्षेत्र में मतदान दिवस से 48 घंटे पूर्व सूखा दिवस लागू होगा, जो मतदान दिवस 27 नवम्बर शाम 5 बजे तक प्रभावी रहेगा। वहीं तृतीय चरण में मकराना, परबतसर, कुचामन सिटी व नावां पंचायत समिति क्षेत्रों में 29 नवम्बर को 5 बजे से एक दिसम्बर को शाम 5 बजे तक सूखा दिवस घोषित किया गया है। चतुर्थ चरण में डीडवाना, लाडनूं व मौलासर पंचायत समिति में होने वाले चुनाव को लेकर 3 दिसम्बर को शाम 5 बजे से 5 दिसम्बर शाम 5 बजे तक सूखा दिवस रहेगा। इस समयावधि के दौरान चुनाव क्षेत्रों में किसी भी प्रकार से मदिरा विक्रय करना, मदिरा दिया जाना अथवा वितरित किया जाना पूर्णत: निषिद्ध है। जिला मजिस्ट्रेट ने जिला आबकारी अधिकारी नागौर को निर्देशित किया कि इस समयावधि में मदिरा की दुकानों की तालाबंदी के साथ सीलिंग (चप्पड़ी सील से) करवाया जाना सुनिश्चित करें।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned