बाल विवाह रोकने को लेकर नागौर कलक्टर के आदेश ने उड़ाई इनकी नींद

बाल विवाह रोकने को लेकर नागौर कलक्टर के आदेश ने उड़ाई इनकी नींद

Dharmendra gaur | Publish: Apr, 17 2018 10:07:05 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

राजस्थान के नागौर जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि बाल विवाह रोकने आमजन का सहयोग जरुरी।

-जिला प्रशासन ने पूरी की तैयारियां
नागौर. जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम ने कहा कि बाल विवाह की बुराई को जड़ से खत्म करने के लिए आम जन का सहयोग सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन इसकी रोकथाम के लिए पूरी तरह तैयार है। जिला और ब्लॉक स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। उन्होंने आम जन से बाल विवाह के संबंध में किसी भी प्रकार की सूचना मिलने पर तुरंत सूचित करने की अपील की है। जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने एक आदेश जारी कर सभी उपखंड अधिकारियों को निर्देश भी दिए हैं।
लोगों को करें जागरूक
कलक्टर ने निर्देश दिए हैं कि उपखंड अधिकारी अपने कार्यालय में 24 घंटे क्रियाशील रहने वाला नियंत्रण कक्ष स्थापित करें। नियंत्रण कक्ष ई मेल एवं व्हाट्सएप सुविधा से युक्त होना चाहिए। सभी राजस्व कार्मिक पटवारी, ग्राम सेवक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा साथिन के कोर ग्रुप गठित किए जाएं, जो गांव-गांव में घूमकर लोगों को बाल विवाह के दुष्परिणामों के बारे में बताए। उन्होंने कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों को बाल विवाह रोकथाम के लिए होने वाले कायक्रमों में शामिल किया जाए।
नियंत्रण कक्ष को सूचित करें
जिला मजिस्ट्रेट की ओर से जारी आदेश में सभी उपखंड अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि उपखंड स्तर पर प्रिंटिंग प्रेस संचालकों, व्यवसाइयों, बैंड, हलवाई तथा केटरिंग व्यवसाइयों के साथ बैठक आयोजित कर उन्हें भी समझाइश करें कि किसी आयोजन के दौरान उन्हें यह जानकारी मिली कि बाल विवाह हो रहा है तो वह तत्काल उपखंड स्तर पर गठित नियंत्रण कक्ष को सूचित करें।
आज होगा ग्राम स्वराज अभियान का आगाज
जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिनेश चंद्र भार्गव ने बताया कि जिले में बुधवार से 5 मई 2018 तक ग्राम स्वराज अभियान आयोजित किया जाएगा। भार्गव ने बताया कि सामाजिक सामंजस्य को बढ़ावा देने, गरीब ग्रामीणों के घरों तक पहुंचकर केंद्र व राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में बताने के का उद्देश्य से अभियान चलेगा। भार्गव ने बताया कि 18 अपे्रल को स्वच्छ भारत पर्व व 20 को जिला पंचायत दिवस के रूप में मनाया जाएगा। 24 को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस, 28 को ग्राम शक्ति दिवस तथा 30 अप्रेल को आयुष्मान भारत अभियान मनाया जाएगा। 2 मई को किसान कल्याण कार्यशाला तथा 5 मई को आजीविका एवं कौशल विकास मेले का आयोजन किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned