Video : पुलवामा आतंकी हमला : नागौर ने दिल खोलकर की शहीदों के परिजनों की सहायता

आतंकी घटना के विरोध में दिखा आक्रोश तो शहीदों के सम्मान में जलाए कैंडल

By: shyam choudhary

Updated: 03 Mar 2019, 07:47 PM IST

नागौर. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में गत माह सैनिकों के दल पर किए गए आतंकी हमले के शहीदों के परिजनों के लिए नागौरवासियों ने दिल खोलकर सहयोग राशि दी है। आतंकी हमले के बाद नागौर के लोगों में एक ओर जहां आतंकियों एवं आतंकवाद को संरक्षण देने वाले पाकिस्तान के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश देखा गया, वहीं शहीदों के सम्माान में जगह-जगह कैंडल मार्च निकालकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

शहीदों के परिजनों की सहायतार्थ नागौर नगर परिषद के सभापति एवं पार्षदों ने जहां पांच लाख की सहायता दी, वहीं मूण्डवा नगर पालिका चेयरमेन व कस्बेवासियों ने छह लाख से अधिक राशि दी। राजस्वकर्मियों ने अपने एक दिन की तनख्वाह के मिलाकर करीब 11 लाख रुपए शहीदों के परिजनों के लिए भिजवाए तो आम लोगों के साथ शिक्षकों, व्यापारियों, सामाजिक संगठनों आदि ने लाखों-करोड़ों रुपए प्रधानमंत्री रक्षा कोष, सेना कोष, मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करवाई तो कुछ ने सीधे शहीदों के परिजनों को सहायता राशि पहुंचाई।

शहीदों की सहायतार्थ साबिर हुसैन ने मुख्यमंत्री गहलोत को सौंपा 51 हजार का चेक
जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सैनिकों पर किए गए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के परिवारों की सहायतार्थ रविवार को जयपुर में भारत सेवा संस्थान द्वारा वीरांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शहीद परिवारों के लिए समर्पित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अब तक मिले सम्मान और स्मृति चिह्नों की नीलामी की गई, ताकि यह राशि शहीदों के परिवारों को उपलब्ध कराई जा सके।

इस अवसर पर नागौर के समाज सेवी एवं वरिष्ठ कांग्रेसी साबिर हुसैन ने शहीदों के परिजनों की सहायतार्थ 51 हजार रुपए का चेक मुख्यमंत्री गहलोत को मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए प्रदान किया। मुख्यमंत्री गहलोत ने हुसैन को इस सहयोग के लिए साधुवाद देते हुए महात्मा गांधी का चरखा स्मृति चिह्न के रूप में दिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री के विशेषाधिकारी फारूक आफरीदी और सूफिया कॉलेज के निदेशक जावेद अख्तर भी मौजूद रहे। जवानों के परिवारों को सहायता राशि प्रदान करने के बाद डांग क्षेत्र विकास बोर्ड के पूर्व चेयरमैन डा. सत्यनारायण सिंह, मीडिया प्रभारी नफीस आफरीदी, नागौर एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र डूकिया, नागौर यूथ कांगेस के जिलाध्यक्ष हनुमान बांगडा, सांझी विरासत के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी अकबर कासमी, मुख्यमंत्री के पूर्व सांस्कृतिक सलाहकार रमेश बोराणा, राजस्थान लघु उद्योग निगम के पूर्व चेयरमैन सुनील परिहार आदि ने साबिर हुसैन के इस पुनीत कार्य में सहयोग की सराहना की।

pulwama attack
shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned