वीडियो : नागौर में इंद्र मेहरबान, सुबह-सुबह बरसा पानी

जिला मुख्यालय सहित खींवसर, मेड़ता, लाडनूं व मूण्डवा तहसीलों में गणेश चतुर्थी पर हुई बारिश, खरीफ की पछेती फसलों को होगा फायदा

By: shyam choudhary

Published: 11 Sep 2021, 11:16 AM IST

नागौर. जिले में सावन का महीना लगभग सूखा बीतने के बाद अब इंद्र मेहरबान हो रहे हैं। शनिवार सुबह-सुबह जिला मुख्यालय सहित जिले के कई क्षेत्रों में कहीं तेज तो कहीं हल्की बारिश हुई। इससे पहले शुक्रवार को गणेश चतुर्थी के अवसर पर जिलेवासी हर्ष व उल्लास से गणेश प्रतिमाओं को स्थापित कर रहे थे, वहीं दोपहर बाद इंद्र भगवान भी मेहरबान हो गए। दोपहर करीब डेढ़ बजे शुरू हुआ बरसात का दौर डेढ़-दो घंटे तक चला। आधे घंटे तक हुई तेज बारिश के चलते शहर की कॉलोनियों में एवं सडक़ पर पानी भर गया। शहर के शिवबाड़ी, कॉलेज रोड, माही दरवाजा, बच्चा खाडा, नकास गेट, बाड़ी कुआं आदि क्षेत्र में बारिश का पानी शाम तक नहीं निकल पाया।
प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को सबसे अधिक 47 एमएम बारिश मेड़ता सिटी में हुई, वहीं नागौर में 30 एमएम तथा खींवसर में 28 एमएम बारिश हुई। बारिश से एक ओर जहां लोगों को गर्मी व उसम से राहत मिली है, वहीं खरीफ की फसलों को भी काफी फायदा होगा। जिले में देरी से हुई बारिश के चलते पछेती फसलों को इस बारिश की आवश्यकता महसूस की जा रही थी।

शुक्रवार को कहां कितनी बारिश
तहसील - बारिश
नागौर - 30 एमएम
मूण्डवा - 6 एमएम
खींवसर - 28 एमएम
मेड़ता - 47 एमएम
डेगाना - 3 एमएम
लाडनूं - 28 एमएम
नावां - 10 एमएम


जिले में अब भी औसत से कम बारिश
तहसील - औसत बारिश - जून से अब तक
नागौर - 309.9 - 433 - 310
मूण्डवा - 309.9 - 282
खींवसर - 309.9 - 182.5
जायल - 325.4 - 244
मेड़ता - 418.6 - 528
रियांबड़ी - 418.6 - 268
डेगाना - 372 - 360
डीडवाना - 309.9 - 411
लाडनूं - 331.4 - 362
परबतसर - 389.3 - 320
मकराना - 389.3 - 464
नावां - 460.8 - 311
कुचामन - 460.8 - 366
औसत - 369.7 - 339.1
(नोट - बारिश के आंकड़े 10 सितम्बर तक के हैं)

Show More
shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned