नागौर जिला प्रशासन के इस कदम से अपराधियों में मचा हडक़म्प

नागौर जिला प्रशासन के इस कदम से अपराधियों में मचा हडक़म्प

Dharmendra Gaur | Publish: Nov, 10 2018 06:06:27 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 06:06:28 PM (IST) Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

नागौर जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा, विस चुनाव में चाक-चौबंद रहे कानून व्यवस्था
-पुलिस एवं प्रशासिनक अधिकारी रहे उपस्थित
नागौर. विधानसभा चुनाव-2018 को लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने शनिवार को जिले के प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक ली। जिला निर्वाचन अधिकारी गौतम ने बैठक में मौजूद उपखण्ड अधिकारियों व उप अधीक्षक पुलिस को निर्देश दिए कि वे निर्वाचन विभाग की ओर से चयनित अति संवेदनशील मतदान स्थलों पर पुलिस व्यवस्था पूरी चाक-चौबंद रखें। उन्होंने कहा कि जिले के सभी थानाधिकारी ऐसे अपराधियों को पाबंद करें जिन पर एक से अधिक संगीन अपराध के मुकदमे हैं।


सीमा पर तैनात करें जाप्ता
जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश दिए कि जिले में लाइसेंसधारी हथियार धारकों से विधानसभा चुनाव के मद्देनजर हथियार संबंधित पुलिस थाना में जल्द से जल्द पूरी संख्या में जमा कर लिए जाएं। जिले की प्रवेश सीमा और समाप्ति सीमा पर विशेष रूप से पुलिस जाप्ता तैनात किया जाए ताकि वाहनों की जांच हो सके। जांच के दौरान यह विशेष ध्यान रखा जाए कि कहीं हथियार, नशीले पदार्थ, मदिरा और हवाला राशि का परिवहन तो नहीं हो रहा है। ऐसा पाया जाए तो तत्काल जिला मुख्यालय को सूचित किए जाने के साथ-साथ कार्रवाई की जाए।


हिस्ट्रीशीटर को करें पाबंद
जिला पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र महावर ने निर्देश दिए कि यह भी तय कर लिया जाए कि निर्वाचन विभाग की ओर से घोषित अतिसंवेदनशील मतदान स्थलों की संख्या के हिसाब से कितना पुलिस बल तैनात करना है। ऐसे अपराधी, जिनकी हिस्ट्रीशीट खुली हुई है, उन्हें विधानसभा चुनाव की आचार संहिता की अवधि तक हर सप्ताह थाने में हाजिर होकर अपनी रिपोर्ट देने के लिए संबंधित थानाधिकारी अपने-अपने थाने के हिस्ट्रीशीटर को पाबंद करें। बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी ब्रजेश कुमार चांदोलिया, डीडवाना एडीएम बीएल मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजकुमार चौधरी सहित जिले के उपखण्ड अधिकारी एवं पुलिस उपाधीक्षक उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned