RAIL/ROADWAYS: रिजर्व हो रही रेलवे, रोडवेज में रेलमपेल

दीपावली सीजन में यात्रियों की आवाजाही बढऩे से रोडवेज की आय में बढ़ोतरी, सावों की धूम ने भी यात्री भार बढ़ाया, रेलवे में केवल रिजर्व को ही मिल रहा प्रवेश, रोडवेज ने दिल्ली व सूरत तक चलाई बसें, यात्रियों को मिल रही सुविधा

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 27 Nov 2020, 10:28 PM IST


नागौर. रेलवे में सिर्फ रिजर्वेशन से ही यात्री सफर कर रहे हैं। ऐसे में रोडवेज में यात्रियों की रेलमपेल बढ़ गई है। दीपावली का त्योहार मनाने अपने घर आए लोग अब लौटने लगे हैं। रोडवेज में यात्री भार यकायक बढ़ चुका है। आलम यह है कि दिल्ली व गुजरात के लिए भी अतिरिक्त बसें चलानी पड़ रही है। इससे रोडवेज की आय में भी इजाफा हुआ है। मार्च माह में लॉकडाउन लगने के बाद से ही रोडवेज के चक्के थम गए थे, जो अब रफ्ता-रफ्ता रफ्तार पकडऩे लगे हैं। हालांकि कोरोना का असर अब भी साफ नजर आ रहा है, लेकिन दीपावली व सावों की सीजन ने रोडवेज को राहत दी है।

यात्री रोडवेज पर निर्भर
रोडवेज प्रशासन का कहना है कि त्योहार पर लोग अपने घर दीपावली मनाने आए थे, जो अब वापस अपनी कार्यस्थली लौट रहे हैं। रेलवे में महज लोग रिजर्वेशन से ही सफर कर पा रहे हैं। ऐसे में यात्री लम्बी दूरी के लिए भी रोडवेज पर निर्भर है। अभी नागौर से दिल्ली के लिए तीन बसें चलाई जा रही है, वहीं सूरत के लिए एक बस संचालित की जा रही है।

दिल्ली-सूरत के लिए सीधी बसें
इतने दिनों तक नागौर से दिल्ली के लिए भी बसें नहीं थी। सूरत के लिए लम्बे अर्से से बस नहीं चली। इस सीजन में यात्री भार मिला तो दिल्ली व सूरत के लिए भी बसें संचालित कर दी गई। हालांकि अहमदाबाद में कफ्र्यू को देखते हुए सूरत वाली बसों को अभी आबूरोड से ही लौटाया जा रहा है, लेकिन यात्री भार नियमित रूप से मिलता है तो बसे आगे भी संचालित रहने का अनुमान है।

रोडवेज में आए अच्छे दिन
यात्री भारी बढऩे से रोडवेज मुनाफा कमा रही है। कोरोना काल में नुकसान झेल चुकी रोडवेज के लिए ये अच्छे दिन है। राजस्व बढऩे से अतिरिक्त बसों का संचालन किया जा रहा है। इस सीजन में सोलह अतिरिक्त बसें संचालित हो रही है। इसमें अंतराज्यीय बसों का संचालन भी शामिल है। इससे यात्रियों को राहत मिल रही है, वहीं रोडवेज के राजस्व में भी बढ़ोतरी हो रही है।

फैक्ट फाइल
फिलवक्त बस संचालन- 72
अभी तक चल रही थी- 56

बसें बढ़ाई है...
यात्री भार बढऩे से बसों की संख्या भी बढ़ाई है। अतिरिक्त बसें चलाई जा रही है, ताकि यात्रियों को सुविधा मिल सके। अभी हमने दिल्ली के लिए तीन व सूरत के लिए भी एक बस संचालित की है।
- गणेशकुमार शर्मा, रोडवेज आगार प्रबंधक, नागौर

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned