नागौर में बीकानेर फाटक पर आरओबी के काम ने पकड़ी रफ्तार

राजस्थान के नागौर में 26 करोड़ की लागत से 18 माह में तैयार होगा दो लेन वाला आरओबी

By: Dharmendra gaur

Published: 24 May 2018, 07:08 AM IST

आगामी 9 माह में काम पूरा होने की उम्मीद , आए दिन लगने वाले जाम से मिलेगी राहत
नागौर. शहर में बीकानेर फाटक स्थित रेलवे क्रॉसिंग सी-61 पर आरओबी ROB के निर्माण कार्य ने गति पकड़ ली है। लम्बे इंतजार के बाद गत सितम्बर में बीकानेर रोड पर कृषि मंडी के सामने आरओबी का कार्य शुरू हुआ था। करीब 18 महीने की समय सीमा में तैयार होने वाले आरओबी के निर्माण पर लगभग 26 करोड़ रुपए की लागत आएगी। गौरतलब है कि केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने गत मई माह में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 89 पर रेलवे क्रॉसिंग पर आरओबी का शिलान्यास किया था।
बारह पिल्लर बनकर तैयार
निर्माण एजेंसी के सुपरवाइजर अभियंता श्याम सिंह ने बताया कि दो लेन वाले 1061 मीटर लम्बे आरओबी का निर्माण 18 माह में पूरा हो जाएगा। फलौदी बस स्टैण्ड के सामनेआरई (रेनफॉर्सड अर्थ) वॉल का निर्माण शुरू हो गया है और ब्रिज का सॉलिड फिल्ड पॉर्सन तैयार किया जा रहा है। पूरे ब्रिज में कुल 16 पिल्लर बनाए जाएंगे। जिनमें से दो रेलवे व 14 सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से तैयार किए जाएंगे। पीडब्ल्यूडी के 14 में से 12पिल्लर बनकर तैयार हैं, जबकि एक पिल्लर फाटक के पास तैयार किया जा रहा है और एक का निर्माण शेष है।
आरओबी बनने से होगा यह फायदा
जानकारी के अनुसार रेलवे की ओर से दो पिल्लर की डिजायन स्वीकृत होने के साथ ही निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। आरओबी निर्माण से नागौर शहर की सबसे बड़ी मांग पूरी हो जाएगी। नेशनल हाईवे पर रेलवे क्रॉसिंग होने के कारण फाटक बंद होने पर दोनों और वाहनों की लंबी कतारें लगने से कई बार जाम की स्थिति बन जाती थी। आरओबी बनने से शहर की जनता के साथ ही एनएच से गुजरने वाले वाहनों को भी जाम से राहत मिलेगी। कृषि मंडी, जेएलएन अस्पताल, बालवा रोड हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी समेत करीब एक दर्जन सरकारी कार्यालयों में जाने वालों को सुविधा होगी।

Dharmendra gaur Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned