निरीक्षण में अनुपस्थित मिले मौलासर तहसीलदार व बीडीओ, एसीईओ भार्गव ने दिए नोटिस

राजस्थान के नागौर जिले में आयोजित न्याय आपके द्वार अभियान के तहत शिविरों में मिली खामियां, जिप एसीईओ ने की कार्रवाई।

By: Dharmendra gaur

Published: 16 May 2018, 07:43 PM IST

नागौर. जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिनेश चन्द्र भार्गव ने 15 मई न्याय आपके द्वार अभियान के तहत पंचायत समिति मौलासर के ग्राम पंचायत छापरी कला, लाडनूं पंचायत समिति की ढींगसरी, जायल की ग्राम पंचायत गौराऊ का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान छापरी कला में तहसीलदार दयानंद व विकास अधिकारी प्रेमराज मीणा अनुपस्थित पाए गए। ढींगसरी में महिला पर्यवेक्षक योजनाओं की जानकारी नहीं दे पाई। शिविर में भार्गव ने ग्राम पंचायत रिकार्ड का निरीक्षण करने पर पंचायत प्रसार अधिकारी द्वारा समुचित निरीक्षण करना नहीं पाया गया। ग्राम विकास अधिकारी पीरामल सैनी द्वारा पंचायत के रिकॉर्ड का उपयुक्त संधारण एवं भुगतान में गंभीर अनियमितताएं पाई गई। अनुपस्थित कर्मचारियों व अनियमितता के संबंध में संंबंधित को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।

बाजरवाड़ा में लिए पानी के नमूने


शहर में दूषित पानी की आपूर्ति की शिकायत पर नगर परिषद आयुक्त धर्मपाल जाट ने मंगलवार को शहर के बाजरवाड़ा क्षेत्र में जलापूर्ति के समय मौके पर जाकर पानी के नमूनों की जांच करवाई। आयुक्त ने मौके पर जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियंता राकेश, फीटर माणकचंद सांखला, कनिष्ठ रसायनज्ञ पांचूराम को मौके पर बुलाकर अलग-अलग घरों से पानी के नमूने लेकर क्लोरीन की जांच करवाई। जांच सही पाई गई। आयुक्त ने मौके पर जलापूर्ति को लेकर निर्देश दिए कि गर्मी के मौसम में नियमित जलापूर्ति की जाए व गंदे पानी की आपूर्त की जानकारी मिलते ही टीम से जांच करवाकर साफ पानी की आपूर्त की जाए। इस अवसर पर सचिव नरेन्द्र बापेडिय़ा, स्वच्छता शाखा प्रभारी नरेन्द्र सिंह चौधर,स्वच्छता निरीक्षक अनिल कुमार, नंद किशोर भाटी समेत अन्य उपस्थित थे।

नियमित रोजगार देने की मांग


अखिल राजस्थान डीआरजी संघ नागौर ने कलक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर नियमित रोजगार देने की मांग की है। जगदीश, प्रेमप्रकाश, पे्ररणा, कमला, शिवलाल, जस्साराम समेत अन्य जिला संदर्भ व्यक्तियों ने ज्ञापन में लिखा है कि राजस्थान के खुले में शौच मुक्त होने के बाद स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण में संदर्भ व्यक्ति के रूप में काम करने वाले व्यक्तियों को सेवा मुक्त करने से वे बेरोजगार हो गए हंैं। डीआरजी संघ ने नियमित रोजगार देने की मांग की है।


भर्ती प्रकिया पूरी करने की मांग


महात्मा गांधी नरेगा कार्मिक संघ नागौर ने कलक्टर को मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। हाथ पर काली पट्टी बंाधकर कलक्ट्रेट पहुंचे प्रदेश प्रवक्ता कर्माराम डांगा, जिलाध्यक्ष अशोक कुमार वैष्णव, रूपाराम नेहरा, रामकिशोर समेत अन्य ने ज्ञापन में लिखा है कि पंचायती राज विभाग की ओर से वर्ष 2013 में निकाली गई कनिष्ठ लिपिक एवं एसएसआर भर्ती के सभी पदों पर सर्वाेच्च न्यायालय के निर्णय अनुसार पूरी की जाए। मनेरगा कार्मिकों ने सात सूत्रीय मांगों को लेकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर उन पर विचार करने की मांग की है।

Dharmendra gaur Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned