लंका दहन कर लौटे श्री हनुमान, दी मुद्रिका

Nagaur. रामपोल में चल रही रामलीला में बजरंग मंडल के कलाकारों की जीवंत भूमिका से रामायणकालीन दृश्य हुए साकार

By: Sharad Shukla

Published: 13 Oct 2021, 10:36 PM IST

नागौर. लायंस क्लब व नगरपरिषद के संयुक्त तत्वावधान में चल रही रामलीला में सातवें दिन श्री हनुमान लंका पहुंचे, और माता सीता से अशोक वाटिका में मिलकर उनकी मुद्रिका लेने के बाद कई राक्षसों को मारा, और लंका दहन किया आदि प्रसंगों का मंचन देखकर श्रद्धालू श्रद्धा से वशीभूत नजर आए। रामलीला में मंचन के दौरान माता सीता की आज्ञा से फल खाने के साथ वृक्षों को उखाडकऱ फेकने के दौरान पहुंचे अक्षय कुमार का वध व मेघनाथ यानी कि इंद्रजीत की ओर से ब्रह्मास्त्र से हनुमान का बंधना सरीखे दृश्य से पूरा वातावरण रामायणमय बना रहा। रामायण के किरदारों में भगवान श्रीराम, लक्ष्मण, रावण एवं सीता आदि की भूमिका निभा रहे कलाकारों के अभिनय से रामायणकालीन दृश्य पूरी तरह से साकार नजर आए। व्यास पीठ पर रहे अशोक आर्य ने भजन प्रस्तुत किया। संचालन मांगीलाल देवड़ा ने किया। इस दौरान कार्यक्रम प्रभारी स्वरूप देहरा, लायंस क्लब के अध्यक्ष ईश्वर सोनी ,महंत मुरली राम, बाल संत रामगोपाल जी, सूबेदार राजेंद्र राणा ,मनोज डांगी आदि मौजूद थे। लायंस क्लब के रीजन चेयरमैन मुरली मनोहर सोलंकी ने बताया कि बुधवार का कार्यक्रम क्षेत्रीय अध्यक्ष कृपा राम भाटी , एडवोकेट आईदानराम भाटी एवम् मनीष बंसल के सौजन्य से हुआ।
राज्य भर में अवकाश रद्द करने के आदेश की जलेगी होली
नागौर. राजस्थान शिक्षक शेखावत संघ ने आरोप लगाया है कि निदेशक माध्यमिक शिक्षा बीकानेर ने कोरोना को बहाने के रूप में इस्तेमाल करते हुए मध्यावधि अवकाश,संस्था प्रधान अधिकृत अवकाश और शैक्षिक सम्मेलनों पर रोक के तानाशाही पूर्ण तुग़लकी आदेश जारी किए हैं। संघ के जिलाध्यक्ष अर्जुनराम लोमरोड ने कहा कि संघ की ओर से प्रांतीय आह्वान पर इन आदेशों की होली जलाई जाएगी। इस आदेश को वापस लेना ही पड़ेगा। राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत शैक्षिक सम्मेलनों का आयोजन करने के साथ ही आंदोलन का आग़ाज़ भी करेगा। 14 अक्टूबर को अपराह्न बजे से जिला मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन करते हुए तथा इस आदेश की होली जलाई जाएगी।
उपखण्ड अधिकारी ने रोका अवैध निर्माण
नागौर. शहर के खत्रीपुरा में एक जगह अवैध निर्माण व अतिक्रमण की शिकायत पर पहुंचे उपखण्ड अधिकारी सुुनील पंवार ने कार्य रोकवा दिया। बताया जाता है कि उपखण्ड अधिकारी पंवार को सूचना मिली कि खत्रीपुरा में अवैध निर्माण किया जा रहा है। अवैध निर्माणकर्ता की ओर से बिना स्वीकृति बिल्डिंग निर्माण हो रहा है। सूचना मिलने पर पहुंचे उपखण्ड एवं नगरपरिषद कर्मियों के साथ ही मौके पर निर्माण कार्य को रोकने के आदेश के साथ ही कार्रवाई की चेतावनी दी।

Sharad Shukla Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned