ट्रक में चावल की भूसी के नीचे दबी साढ़े छह सौ पेटी शराब बरामद

डीडवाना. शहर की पुलिस ने साढ़े छह सौ पेटी शराब की बरामद की है। शराब का बाजार मूल्य करीब 70 लाख रुपए बताया जा रहा है।

डीडवाना. शहर की पुलिस ने साढ़े छह सौ पेटी शराब की बरामद की है। शराब का बाजार मूल्य करीब 70 लाख रुपए बताया जा रहा है। आबकारी पुलिस ने उक्त शराब एक ट्रक से बरामद करते हुए दो जनों को गिरफ्तार किया है। जसवंगढ के यह कार्रवाई की गई। जसवंतगढ चेक पोस्ट पर ट्रक की तलाशी के दौरान शराब बरामद की गई। पंचायत चुनाव को ध्यान में रखते हुए सहायक आबकारी अधिकारी अरविंद प्रताप सिंह के नेतृत्व में थानाप्रभारी मुरलीधर सोदा व प्रहराधिकारी गोरधन राम की टीम ने जसवंतगढ चेक पोस्ट के पास वाहनों की जांच कर रहे थे। इस दौरान एक ट्रक की तलाशी ली गई तो चावल की भूसी के नीचे शराब की साढ़ छह सौ पेटी बरामद की गई। आरोपी भागचन्द व श्रवण को भी मौके से गिरफ्तार किया गया। शराब अंबाला से गुजरात जा रही थी।

इनका कहना
नाकाबंदी के दौरान एक ट्रक में शराब परिवहन किए जाने की सूचना मिली। जिसके बाद वाहनों की तलाशी लेते हुए एक ट्रक जब्त करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। ट्रक में शराब की कीहब साढ़े छह सौ शराब की पेटिया मिली, जिनकी कीमत 70 लाख रुपए आंकी जा रही है।

अरविन्द्र प्रतापसिंह, सहायक आबकारी अधिकारी

शराब बेचने का आरोपी गिरफ्तार, जेल भेजा

पीलवा. चुनावी माहौल के मद्देनजर अवैध रूप से शराब बेचने पर लगाम को लेकर पुलिस ने मंगलवार रात कंवलाद निवासी एक जने को परचुन की दुकान पर शराब बेचते गिरफ्तार किया। हैड कांस्टेबल रामूराम ने बताया कि माल सिंह पुत्र केशर सिंह राजपूत निवासी कंवलाद को परचुनी की दुकान में से 132 पव्वे देशी शराब ढोलामारू, 43 बोतल अंग्रेजी शराब, 88 पव्वे अंग्रेजी शराब व 31 बोतल बीयर की जब्त की। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर गुरुवार को न्यायालय परबतसर में पेश किया। जहां से आरोपी को जेल भेज दिया। पुलिस टीम में एएसआई श्रवण लाल, कंास्टेबल प्रदीप चौधरी व नरसी किलक शामिल थे।

Sandeep Pandey Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned