रिमझिम से कहीं राहत तो कहीं आफत

रिमझिम से कहीं राहत तो कहीं आफत

Sharad Shukla | Publish: Sep, 05 2018 12:10:41 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

जिले भर में हुई रिमझिम बारिश एवं हल्की बूंदाबांदी का चला दौर, शहर की सडक़ों पर फैला कीचड़, कई जगह मार्गों पर बने तालाबों में से होकर गुजरे लोग रहे परेशान

नागौर. जिले में मंगलवार को हुई रिमझिम से फसलों को कोई विशेष राहत नहीं मिल पाई है। विशेषकर मेड़ता नोडल एरिया में बारिश का फसलों में लाभ की स्थिति आंशिक ही रही, जबकि कुचामन नोडल एरिया क्षेत्र में हुई बारिश से कुछ क्षेत्रों में सूखती फसलों को जीवनदान मिला है। इधर, शहर क्षेत्र में हुई रिमझिम बारिश के कारण विभिन्न जगहों पर मार्गों पर पानी भरा रहा। सडक़ों की खराब हालत के कारण कीचड़ की वजह से विकट स्थिति का सामना करना पड़ा। जिले में बारिश नहीं होने के कारण सूख रही फसलों को मंगलवार को हुई हल्की बारिश से डीडवाना, कुचामन, मकराना आदि क्षेत्रों में फसलों को लाभ हुआ है। सोमवार को भी कुचामन नोडल एरिया के शेरानी आबाद एवं खाटू आदि क्षेत्र में सूखती फसलों को जीवनदान मिलने के बाद काश्तकार उत्साहित नजर आए। कुचामन के सहायक कृषि विस्तार निदेशक भंवरलाल बाजिया का कहना है कि हल्की बारिश थोड़ी बहुत हुई है, लेकिन इससे फसलों को लाभ मिला है। तेज बारिश होने पर मूंग की उपज प्रभावित हो सकती है। मेड़ता नोडल एरिया के खींवसर, जायल, रियाबड़ी आदि क्षेत्रों में कई जगह पर बारिश का कोई विशेष प्रभाव नहीं रहा। सहायक निदेशक कृषि विस्तार मेड़ता के अणदाराम चौधरी का कहना है कि मंगलवार केवल कुछ जगहों पर थोड़ी बहुत बारिश हुई है, लेकिन फसलों को इससे कोई राहत नहीं मिली है। जिले के परबतसर, मकराना, कुचामन, नावां, मेड़ता, जायल, खींवसर, गोटन, डेगाना आदि क्षेत्रों में हजारों एकड के एरिया में खरीफ फसलों में बाजरा, मूंग, मोठ, चौला, मूंगफली, तिल, कपास, ग्वार, सब्जियां, हरा चारा आदि की उपज बारिश नहीं होने से अब सूखने के कारण 25-30 प्रतिशत तक खराब हो चुकी है, मंगलवार को कुछ जगह पर बारिश हुई, लेकिन अपेक्षित मात्रा में नहीं होने से राहत की स्थिति निम्नतर रही।
करंट से मरी गाय
शहर के मूण्डवा रोड स्थित पेट्रोल पंप के पास बिजली का पोल में करंट आने से इसकी चपेट में आने से गाय की जान चली गई। इसी तरह दिल्ली दरवाजा स्थित ट्रांसफार्मर में फॉल्ट आने के बाद सुबह दस बजे बिजली आपूर्ति ठप हो गई। दिन भर बिजली नहीं रही, शाम को करीब चार बजे बिजली आई। इस संबंध में बिजली अधिकारियों से लोगों ने संपर्क करने का प्रयास किया तो उनके मोबाइल स्विच ऑफ रहे।
न बारिश से राहत, सडक़ों की बिगड़ी हालत
सुबह करीब सात बजे शुरू हुई रिमझिम बारिश की झड़ी करीब साढ़े 11 बजे तक लगी रही। इससे शहर के प्रमुख मार्गों में नया शहर, सूफी साहब का दरगाह एरिया मार्ग, महिला थाना के पास, सदर बाजार, गांधी चौक, मानासर चौराहा, पुराना जिला हॉस्पिटल से नया शहर की ओर जाने वाला मार्ग, पुराना जिला हॉस्पिटल के पीछे से बीकानेर रोड की ओर जाने वाले मार्गों पर हुई खुदाई के कारण कीचड़ फैला रहा। इन मार्गों पर विभिन्न जगह पर दोनों ओर पानी भरा रहने से लोग परेशान होते रहे। खुदाई के बाद प्रावधान के अनुसार सडक़ों को सुव्यवस्थित नहीं किए जाने के कारण हालात बेहद खराब रहे। नाले एवं नालियों की सफाई नहीं होने एवं सडक़ों पर भरे पानी की निकासी के लिए जगह नहीं होने की वजह से जगह-जगह बने तालाबों में से होकर गुजरना लोगों के लिए दुखदायी रहा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned