मिलावटखोरी पर चलने लगा डंडा, जागा स्वास्थ्य महकमा

- रंग लाया अभियान: तीन दिन में आठ जगहों से लिए सैम्पल, दो दिवसीय विशेष अभियान भी शुरू

By: Jitesh kumar Rawal

Updated: 26 Aug 2020, 10:07 PM IST

नागौर. जनस्वास्थ्य से खिलवाड़ कर चांदी काटने वाले मिलावटखोरों की अब खैर नहीं रहेगी। स्वास्थ्य महकमे ने डंडा चलाना शुरू कर दिया है। इसके तहत गत तीन दिनों में ही आठ जगहों से सैम्पल उठाए गए हैं। मिलावट पर अंकुश के लिए मंगलवार से दो दिवसीय विशेष अभियान भी शुरू किया है।
सीएमएचओ डॉ.मेहराम महिया के निर्देशन में खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजेश जांगीड़ ने विभिन्न जगह दुकानों व गोदामों में जांच की। मिलावट के संदेह पर कार्रवाई की गई। इस दौरान खाद्य तेल, मिठाई, दही, नमक, मिर्च के सैम्पल लिए गए। विशेष अभियान के तहत बुधवार को भी कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान सहयोगी प्रेमचंद भाटी साथ रहे।

तेल, मसाला व मिठाई पर कार्रवाई
खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि गत २३ अगस्त को नावां तहसील के लाम्बा गांव में कार्रवाई करते हुए मोतीचूर के लड्डू व कुचामन सिटी से नमक का सैम्पल लिया गया। २४ अगस्त को शहर में मिर्च पाउडर व दही का सैम्पल लिया। वहीं मंगलवार से विशेष सर्वे शुरू किया गया। इसके तहत सरसो, मूंगफली व सोयाबीन तेल के कुल चार सैम्पल लिए गए। अभियान के तहत बुधवार को भी कार्रवाई की जाएगी।

पत्रिका ने उठाया मुद्दा
उल्लेखनीय है कि राजस्थान पत्रिका ने इस सम्बंध में सिलसिलेवार समाचार प्रकाशित कर महकमे का ध्यान आकर्षित किया है। इसमें बताया कि मिलावट के मामले बढऩे के बावजूद महकमा कार्रवाई को लेकर ढिलाई बरत रहा है। गत २१ अगस्त को 'इतना बड़ा जिला और जांच करने वाला अकेलाÓ, २३ को 'अभियान में धड़ाधड़ कार्रवाई, नहीं तो गिनती के सेम्पलÓ, २४ को 'त्योहारी सीजन में खुला छोड़ दिया मैदान, मिलावटखोरों की मौजÓ, २५ अगस्त को 'मिलावट में सर्वाधिक मुनाफे की मिठाई और कार्रवाई में उतनी ही ढिलाईÓ शीर्षक से समाचार प्रकाशित किए।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned