मांगलिक कार्यों से रोक हटी, अब सावों की धूम मची

पुख्ता प्रबंधों के बीच हुए वैवाहिक आयोजन, खुशियों के बीच किसी तरह का खलल न पडे इसके तमाम इंतजाम किए

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 27 Nov 2020, 10:37 PM IST

नागौर. सावों की धूम भी शुरू हो गई है। पिछले कुछ महीनों से शुभ कार्यों पर रोक थी, जिससे वैवाहिक आयोजन अटके हुए थे। अब देवउठनी एकादशी के साथ ही आगाज हो गया है। कोरोना काल में गाइड लाइन की पालना करते हुए वैवाहिक समारोह हुए। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क पहनना अनिवार्य रखा गया। आयोजन स्थलों पर सेनेटाइजर के प्रबंध भी किए गए। वैवाहिक आयोजन से पहले प्रशासनिक स्तर पर मिली अनुमति में भी इस तरह के निर्देश दे रखे है। विवाह की खुशियों के बीच किसी तरह का खलल न पडे इसके तमाम इंतजाम किए गए।

नहीं बुला पा रहे सगे-सम्बंधी
प्रशासनिक निर्देशों के तहत कम संख्या में लोग एकत्र किए गए। इससे पहले जैसी रौनक तो नहीं दिखी, लेकिन इतने समय बाद वैवाहिक आयोजन होने से आयोजक परिवार में खुशी साफ झलकती रही। वैसे लोगों की संख्या निर्धारित रहने से अधिकतर सगे-सम्बंधियों को कार्यक्रम में नहीं बुलाए जाने का मलाल भी रहा।

दिन में रख रहे अधिकतर कार्यक्रम
वैवाहिक आयोजनों लोगों ने बंदोली व बारात निकाली। बैंड-बाजों के साथ नृत्य व गीत-संगीत की धूम रही। लोगों ने कोरोना गाइड लाइन की पालना करते हुए शादी समारोह आयोजित किए। रात को बारात निकालने पर रोक होने से लोगों ने दिन में ही कार्यक्रम किए।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned