वीडियो : छूटे हुए बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण शुरू

सघन मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण अभियान 22 फरवरी से, दो चरणों में होगा आयोजित

By: shyam choudhary

Published: 22 Feb 2021, 11:12 AM IST

नागौर. जिले में सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान सोमवार (22 फरवरी) से प्रारंभ हो गया। अभियान का शुभारम्भ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मेहराम महिया व आरसीएचओ डॉ. मुश्ताक की देखरेख में नागौर शहर के बासनी रोड स्थित कच्ची बस्ती से किया गया।
इस अभियान में टीकाकरण से छूटे व वंचित जन्म से 2 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को आवश्यक रूप से टीका लगाकर उन्हें प्रतिरक्षित किया जाएगा। अभियान के अन्तर्गत ऐसे उप स्वास्थ्य केन्द्र जिनका पूर्ण टीकाकरण 95 प्रतिशत से कम है, उनके अधीन आने वाले गांवों की पहचान करके उन जगहों पर विशेष टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया जाएगा।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मेहराम महिया ने बताया कि नियमित टीकाकरण से वंचित रहे बच्चों व गर्भवतियों तक पहुंचकर उन्हें 10 जानलेवा बीमारियों से प्रतिरक्षित करने के लिए सघन मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण अभियान 3.0 आयोजित किया जाएगा।
जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुश्ताक अहमद ने बताया कि मिशन इंद्रधनुष ऐसे क्षेत्र, गांव, ढाणियों एवं शहरी क्षेत्र की उन जगहों पर टीकाकरण सत्र आयोजित किया जाएगा, जहां पर टीकाकर्मी की नियमित टीकाकरण के लिए पहुंच नहीं है तथा पूर्ण टीकाकरण से वंचित लाभार्थियों की संख्या अधिक है। सूची में उन सभी बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के नाम सम्मिलित किए जाएंगे, जिनको कोई भी टीका छूटा हुआ हो तथा जिन्हें 22 फरवरी 2021 तक का बकाया टीका लगाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि जिले में टीकाकरण से वंचित या छूटे बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का हैड काउंट सर्वे का कार्य पूर्ण कर लिया गया है और एएनएम, आशा सहयोगिनियों सहित अन्य कार्मिक द्वारा यह सर्वेक्षण कर ड्यू-लिस्ट तैयार कर ली गई हैं अभियान की जिला, ब्लाक एवं सेक्टर स्तर से दैनिक मानिटरिंग की जाएगी।

यह है मुख्य उद्देश्य
अभियान के तहत 0 से 2 वर्ष तक के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जाएगा। इसका मुख्य उद्देश्य नियमित टीकाकरण का सुदृढ़ीकरण करते हुए पूर्ण टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त करना, कमजोर एवं वंचित टीकाकरण क्षेत्रों में टीकाकरण दर में सुधार लाना एवं समुदाय में टीकाकरण मांग को बढ़ाना तथा वैक्सीन के प्रति विश्वास जगाना है। इस मिशन का उद्देश्य है, हम पहुंचे उन तक जो न पहुंचे हम तक।

2 चरण में होगा आयोजित
जिला आईईसी समन्वयक हेमन्त उज्जवल ने बताया कि सघन मिषन इन्द्रधनुष अभियान का प्रथम चरण 22 फरवरी 2021 एवं दूसरा चरण 22 मार्च 2021 से संचालित किया जाएगा। अभियान का प्रत्येक चरण 15 कार्यदिवस का होगा तथा अभियान के दौरान आवश्यक कोविड 19 प्रोटोकॉल को फोलो किया जाएगा। अभियान में प्रत्येक स्तर पर महिला एवं बाल विकास, पंचायती राज, शिक्षा विभाग, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग, पुलिस विभाग, श्रम विभाग, नेहरू युवा केन्द्र सहित विभिन्न विभागों का सक्रिय सहयोग रहेगा।

इन क्षेत्रों में होगा आयोजित
टीकाकरण सेवाओं से वंचित क्षेत्र जैसे स्लम एरिया, ईंट भट्टे, घुमंतू एरिया एवं अन्य उच्च जोखिम क्षेत्रों एवं जिन गांव, ढाणियों एवं शहरी क्षेत्र में नियमित टीकाकरण सत्र निर्धारित नहीं है या गत 3 माह से किसी भी कारणों से टीकाकरण सत्र आयोजित नहीं हो रहा है। उन स्थानों के लिए सघन इंद्रधनुष टीकाकरण अभियान के तहत विशेष सत्र आयोजित किए जाएंगे।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned