छेड़छाड़ मामले की जांच करने पहुंची टीम

डेगाना. राजकीय स्वामी विवेकानंद मॉडल स्कूल झगड़वास डेगाना में कुछ दिन पहले स्कूल के प्रधानाचार्य देवेन्द्र कुमार चौधरी पर अस्थाई महिला सफ ाईकर्मी से छेड़छाड़ के मामले को लेकर विभागीय जांच शुरू हो गई है।

डेगाना. राजकीय स्वामी विवेकानंद मॉडल स्कूल झगड़वास डेगाना में कुछ दिन पहले स्कूल के प्रधानाचार्य देवेन्द्र कुमार चौधरी पर अस्थाई महिला सफ ाईकर्मी से छेड़छाड़ के मामले को लेकर विभागीय जांच शुरू हो गई है। सोमवार को मॉडल स्कूल में नागौर से विभागीय टीम ने पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है। टीम में शिक्षा विभाग के नागौर जिला एडीपीसी प्रभारी हरिराम भाटी, सहायक परियोजना समन्वयक बस्तीराम सांगवा व दोतिना राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रधानाचार्या महेन्द्रा मीना भी शामिल हैं। गत दिन ही स्कूल की अस्थाई विधवा महिला सफ ाईकर्मी ने प्रधानाचार्य देवेन्द्र कुमार चौधरी पर छेड़छाड़ करने, अश्लील बाते फ ोन पर करने, रुपए का लालच देते हुए झांसा देकर संबंध बनाने के आरोप लगाए थे। पीडि़ता का कहना था कि मना करने पर चोरी का झूठा इल्जाम लगाकर उसे निकाल दिया।

एडीपीसी प्रभारी हरिराम भाटी ने बताया कि इस मामले में पीडि़ता और स्कूल प्रिंसिपल देवेंद्र कुमार चौधरी के बयान लिए। इनके बयानों के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।

शीघ्र निलंबन की मांग

झगड़वास क्षेत्र के लोगों ने शीघ्र प्रधानाचार्य को निंलबित करने की मांग की। वहीं, पुलिस से भी तुरंत जांच करते हुए कार्रवाई की गुहार लगाई। लोगों ने शिकायत करते हुए बताया कि प्रधानाचार्य नियमों के विरुद्व मॉडल स्कूल में ही अपना निवास बना रखा है, जो गलत है।

इनका कहना है
पूरे मामले को लेकर जांच टीम मॉडल स्कूल पहुंची। तीन सदस्यीय टीम ने सभी एंगल से जांच की है। लोगों की ओर से आई अन्य शिकायतों को भी जांच करते हुए निष्पक्ष जांच क रेंगे।

हरिराम भाटी प्रभारी, नागौर जिला एडीपीसी व जांच अधिकारी।

 

आपत्तिजक पोस्ट पर कार्रवाई की मांग

मेड़ता सिटी. मोबाइल व्हाटसएप गु्रप पर आपत्तिजनक पोस्ट करके धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग का समाज विशेष के लोगों ने मुख्यमंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

एक व्हाटसएप गु्रप पर विगत दिनों आपत्तिजनक पोस्ट करने धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले तत्वों के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर मुख्यमंत्री के नाम मोहम्मद रफीक अहमद कादरी, जावेद खान, मोहम्मद अली बिसायती, रफीक अहमद शेख, सरदार खां काजी, फकीर मोहम्मद शेरानी, मोहम्मद हारुन चौहान सहित लोगों ने उपखण्ड अधिकारी रीडर को ज्ञापन सौंपा। उल्लेखनीय है कि मोबाईल पर आपत्तिजनक पोस्ट करने को लेकर पुलिस ने आरोपी हरिराम जांगिड़ को शांति व्यवस्था भंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

Sandeep Pandey
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned