मांगों को लेकर सरकार पर भडक़ा शिक्षकों का रोष

Nagaur. शिक्षकों की मांगों को लेकर सरकार को किए हजारों ट्वीट

By: Sharad Shukla

Published: 03 Jul 2021, 10:11 PM IST

नागौर. राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत की प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक में लिए गए निर्णयानुसार शिक्षकों की 16 सूत्रीय ज्वलन्त मांगों को लेकर आन्दोलन के द्वितीय चरण में शनिवार से तीन दिवसीय ट्विटर अभियान प्रारंभ किया गया। ट्विटर अभियान के प्रथम दिन संगठन के हजारों शिक्षकों ने संगठन के 16 सूत्रीय मांगपत्र में से ***** नई पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना लागू करने तथा 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 तक डेढ़ बर्ष के फ्रीज किए गए महंगाई भत्ता का अविलंब भुगतान आदि की मांग को लेकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार, शिक्षामंत्री को ट्वीट किए गए। जिलाध्यक्ष अर्जुनराम लोमरोड़ ने बताया कि सरकार के गठन के ढाई साल बाद भी शिक्षकों की माँगों का समाधान नहीं किया गया है। सक्षम स्तर पर संगठन के साथ द्विपक्षीय वार्ता के माध्यम से मांगों के समाधान की प्रक्रिया सरकार द्वारा अपनाई गई है। 14 जून को मुख्यमंत्री, एवं शिक्षामंत्री को ज्ञापन भेजकर संगठन के माँगपत्र पर वार्ता कर शिक्षकों की माँगों का निस्तारण करवाने की माँग की थी लेकिन पूर्ववर्ती सरकार की तरह वर्तमान में भी संवादहीनता की स्थिति बनी हुई है। जिलामंत्री प्रेमसिंह चौधरी व नागौर उपशाखा अध्यक्ष ओमप्रकाश सेन एवं मंत्री हरजीत कला ने कहा कि यदि सरकार ने अविलंब मांगों का समाधान नहीं किया गया तो संगठन व्दारा आन्दोलन तेज किया जाएगा।

Sharad Shukla Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned