scriptठेकेदार ने अटकाया नागौर से नेतड़ा तक हाइवे की मरम्मत का काम, अब ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी | Patrika News
नागौर

ठेकेदार ने अटकाया नागौर से नेतड़ा तक हाइवे की मरम्मत का काम, अब ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी

मरम्मत के लिए ठेकेदार को दिया था कार्यादेश, आठ महीने बाद भी शुरू नहीं हुआ काम
– नागौर-जोधपुर सडक़ जगह-जगह से हुई जर्जर, फोरलेन बनने में अभी लगेगा समय

नागौरJun 22, 2024 / 11:22 am

shyam choudhary

NH 62
नागौर. राष्ट्रीय राजमार्ग-62 के नागौर से नेतड़ा तक 87 किलोमीटर की सडक़ की मरम्मत करने के लिए पीडब्ल्यूडी एनएच विभाग ने करीब आठ महीने पहले कार्यादेश जारी किए गए थे, लेकिन ठेकेदार ने अब तक काम ही शुरू नहीं किया। पीडब्ल्यूडी एनएच नागौर के अधिकारियों ने जनवरी से अब तक ठेकेदार को छह नोटिस दे दिए हैं, लेकिन ठेकेदार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है। अब विभारीय अधिकारी ठेका निरस्त करने के साथ ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करके जुर्माना लगाने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए ठेकेदार को 15 दिन का अंतिम नोटिस दिया जा चुका है।
हाइवे जगह-जगह से जर्जर

नागौर से नेतड़ा तक राष्ट्रीय राजमार्ग – 62 की सडक़ बने पांच साल से अधिक समय होने से जगह-जगह गड्ढ़े पड़ गए हैं एवं जर्जर हो चुकी है। हालांकि विभाग ने मरम्मत के लिए अच्छा-खासा बजट जारी कर कार्यादेश दिए, लेकिन विभाग को ठेकेदार ऐसा मिला कि उसने काम ही नहीं किया। जगह-जगह से सडक़ टूटने व गड्ढ़े पडऩे से आए दिन दुर्घटनाएं भी होती हैं।
फोरलेन बनने में लगेगा समय

गौरतलब है कि नागौर से नेतड़ा तक फोरलेन बनाना प्रस्तावित है, लेकिन अभी डीपीआर तैयार करने का काम चल रहा। इस प्रोजेक्ट को एनएच ने वार्षिक प्लान में शामिल किया है, ऐसे में डीपीआर तैयार होने के बाद बजट जारी होने व टेंडर प्रक्रिया पूरी होने में एक से डेढ़ साल का समय लग जाएगा। तब तक हाइवे की महत्वपूर्ण सडक़ की मरम्मत आवश्यक है। अन्यथा बारिश के सीजन में हादसों की संख्या बढ़ जाएगी।
सख्ती की तो समेट लिया सामान

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ठेकेदार को 87 किलोमीटर की सडक़ की मरम्मत के साथ सडक़ के दोनों तरफ की पटरियां भी तैयार करनी थी। ठेकेदार इस कार्य में लीपापोती करने की फिराक में था, क्योंकि डेढ़-दो साल बाद यहां फोरलेन बनना है, लेकिन नागौर एनएच के अधिकारियों ने काम सख्ती दिखाई तो उसने खेड़ापा के पास लगाए गए प्लांट को समेटना शुरू कर दिया। गौरतलब है कि नागौर के कृषि मंडी तिराहे से गोगेलाव तिराहे तक फोरलेन बनाने वाले ठेकेदार ने ही एनएच-62 की मरम्मत का ठेका लिया था।बीकानेर रोड फोरलेन में भी लीपापोती करने व काफी समय से उसमें सुधार नहीं करने पर यहां भी उसका ठेका निरस्त करने की तैयारी हो रही है।
उच्चाधिकारियों को लिखा पत्र

नागौर एनएच एक्सईएन ने पीडब्ल्यूडी एनएच सर्किल ऑफिस बीकानेर के एसई को पत्र लिखकर वस्तुस्थिति से अवगत कराया है। एक्सईएन दीपक परिहार ने बताया कि ठेकेदार ने नागौर से नेतड़ा तक हाइवे की मरम्मत का काम अब तक शुरू नहीं किया है। जबकि उसे बार-बार नोटिस दिए गए हैं। अब तो उसका 30 दिन का क्योर पीरिडय भी पूरा हो चुका है।
पत्रिका व्यू… ऐसे ठेकेदारों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

सडक़ निर्माण हो या फिर मरम्मत के काम, कई ठेकेदार ठेके लेकर काम नहीं करते हैं, जिसका खमियाजा आम जनता को भुगतना पड़ता है। नागौर-जोधपुर रोड पर पिछले काफी सालों से दो जगह टोल वसूला जाता है, हाल ही टोल दरों में बढ़ोतरी भी की है। यदि किसी वाहन चालक के पास फास्ट टैग नहीं हो तो उससे दुगुना टोल वसूला जाता है, लेकिन सडक़ जगह-जगह से टूट चुकी है। जिस ठेकेदार को ठेका दिया, उसने काम नहीं किया। ऐसा ही पहले नागौर शहर के बीकानेर रेलवे फाटक पर आरओबी का काम अटका कर दूसरा ठेकेदार कर चुका है, जिसके कारण शहरवासी पिछले छह साल से परेशान हैं। नए ठेकेदार का समय भी इस माह पूरा होने वाला है, लेकिन वर्तमान स्थिति को देखते हुए नहीं लगता कि आगामी दो महीने में काम पूरा हो पाएगा। कृषि मंडी से गोगेलाव तिराहे तक फोरलेन का काम भी पिछले ढाई-तीन महीने से बंद है। इस प्रकार बीच में काम लटकाने या धीमी गति से काम करने वाले ठेकेदारों के खिलाफ विभाग केवल जुर्माना लगाने की कार्रवाई करता है, जबकि उनके खिलाफ गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज करके कड़ी सजा देनी चाहिए, ताकि दूसरे ठेकेदार इस प्रकार काम लटकाने से पहले सौ बार सोचे।
ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई करेंगे

नागौर से नेतड़ा तक राष्ट्रीय राजमार्ग 62 की मरम्मत करने के लिए विभाग ने ठेका दिया था, लेकिन ठेकेदार ने काम नहीं किया। ठेकेदार को कई नोटिस भी दिए जा चुके हैं, अब उसका ठेका निरस्त करके ब्लैक लिस्ट करेंगे तथा नियमानुसार पैनल्टी भी लगाएंगे।
– दीपक परिहार, एक्सईएन, पीडब्ल्यूडी एनएच, नागौर

Hindi News/ Nagaur / ठेकेदार ने अटकाया नागौर से नेतड़ा तक हाइवे की मरम्मत का काम, अब ब्लैक लिस्ट करने की तैयारी

ट्रेंडिंग वीडियो