महिला की मौत से डर गए थे परिजन, पत्रिका की मदद से हुआ अंतिम संस्‍कार

मकराना तहसीलदार दिनेश शर्मा व चिकित्सा प्रभारी डॉ. सुनिल विश्रोई ने दिखाई संवेदनशीलता

By: Rudresh Sharma

Published: 05 May 2021, 09:41 AM IST

बोरावड़. कस्बे के बालूखेड़ा कॉलोनी में सोमवार देर शाम को कोरोना संदिग्ध महिला की मौत हो गई। जिसके बाद उसके अन्तिम संस्कार को लेकर उसके परिजन सहित स्थानीय निवासी घबरा गए। परिजनों के अनुसारएक दिन पहले वे खाटू से आ रहे थे तो वहां उन सभी का मेडिकल टीम ने थर्मल गन से शरीर का तापमान जांच किया।

जिसमें महिला को संदिग्ध बताते हुए कोरोना जांच की सलाह दी।
उन्होंने बताया कि महिला को बुखार आ रहा था, जिसके दूसरे दिन सोमवार देर शाम को उसकी मृत्यु हो गई। परिजन महिला की मौत के बाद शव के हाथ लगाने या नजदीक जाने से ही घबराने लगे। इस पर स्थानीय निवासी भागचन्द सोनी ने पत्रिका के जरिए यह सूचना मकराना तहसीलदार दिनेश कुमार शर्मा व बोरावड़ चिकित्सा प्रभारी डॉ.सुनिल विश्रोई तक पहुंचाई।

सूचना पर तहसीलदार शर्मा ने संवेदनशीलता दिखाते हुए शव के अन्तिम संस्कार के लिए चिकित्सा प्रभारी को आवश्यक निर्देश दिए। इस पर डॉ.विश्रोई ने एक टीम गठित की। जिसमें मेलनर्स हनुमानलाल रायका, स्टाफ नर्स छोटीदेवी व सफाईकर्मी जगदीश को शामिल किया। टीम ने मृतका के परिजनों को शांत किया तथा शव के अंतिम संस्कार के लिए उन्हें पीपीई किट उपलब्ध करवाए। वहीं बोरावाड़ ग्राम विकास अधिकारी मूलचन्द वर्मा ने अन्तिम संस्कार के लिए उन्हें कालवा फाटक के पास स्थान बताया।

जिसके बाद मंगलवार सुबह महिला का कोरोना प्रोटोकोल के तहत अन्तिम संस्कार किया। चिकित्सा टीम ने महिला के सम्पर्क में आए सभी परिजनों को कोरोना जांच की सलाह दी। शव के अन्तिम संस्कार से स्थानीय निवासियों ने राजस्थान पत्रिका व मकराना तहसीलदार सहित चिकित्सा टीम का आभार जताया।

Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned