नागौर के इस अनूठे अभियान में निखरेंगे पारंपरिक जल स्रोत

पांच सौ ग्राम पंचायतों में आज नए अभियान का आगाज

By: Rudresh Sharma

Published: 11 Jun 2021, 11:34 AM IST

नागौर. अब जल एवं पर्यावरण संरक्षण के साथ-साथ हरियाली से गांवों के सौन्दर्यीकरण के लिए जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने एक और अभिनव पहल की है। हरा-भरा तालाब नामक इस महाअभियान की शुरुआत 11 जून से की गई। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी ने इस अभिनव अभियान की पूरी रूपरेखा तैयार की है। इस अभियान में Rajasthan Patrika के अमृतं जलम् व हरियालो राजस्‍थान अभियान का मिला जुला स्‍वरूप है.

कलक्टर की अभिनव पहल हरा भरा तालाब का जायल से शुभारंभ हुआ। जायल के ढीढोलाव तालाब पर जिला कलक्टर डाॅ. जितेंद्र कुमार सोनी ने किया शुभारम्भ।

अभियान हरा-भरा तालाब का आगाज जिले की सभी 500 ग्राम पंचायतों में एक साथ-एक ही दिन में 11 जून को किया गया।


मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी ने बताया कि अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए भामाशाह के साथ आमजन को जोड़ा जाए, जिले की प्रत्येक ग्राम पंचायत में कम से कम एक मॉडल तालाब विकसित किया जाएगा। चौधरी ने बताया कि उपलब्धता के आधार पर एक से अधिक तालाबों का चयन भी किया जा सकता है।

व्यक्तिगत रूप से स्वेच्छा से अभियान में श्रमदान करने वाले ग्रामीणों को तालाब मित्र, वृक्ष-सखा, वृक्ष-सखी नाम दिया है। ये सभी पौधारोपण करने से लेकर पौधो की देख-रेख, सुरक्षा, पानी व खाद देने की जिम्मेदारी वहन करेंगे। अभियान हरा-भरा तालाब के तहत चयनित तालाब पर किए जाने वाले पौधरोपण कार्य में छायादार, फलदार, अच्छी उंचाई के पौधे लगवाए जाएंगे।

Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned