scriptTransformer kept burning in the fire for an hour | एक घंटे तक आग में घिरा जलता रहा ट्रांसफार्मर | Patrika News

एक घंटे तक आग में घिरा जलता रहा ट्रांसफार्मर

Nagaur. शहर के राठौड़ी कुआं क्षेत्र में घटी घटना, इलाके लोगों ने डिस्कॉम कर्मियों के साथ मिलकर बुझाई आग

नागौर

Updated: February 23, 2022 10:06:36 pm

नागौर. शहर के राठौड़ी कुआं स्थित बिजली के ट्रांसफार्मर में दोपहर में करीब सवा एक बजे आग लग गई। आग लगने से इलाके में हडक़म्प मच गया। इस दौरान डिस्कॉम को सूचना दी गई। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे सहायक अभियंता अर्जुनसिंह राठौड़ एवं कनिष्ठ अभियंता अप्पू कुमार ने क्षेत्र की लाइट कटवाई। इसकी सूचना दमकल को भी दी गई, लेकिन दमकल कर्मी आग बुझने के बाद पहुंचे। इस दौरान करीब एक घंटे तक आग से घिरे ट्रांसफार्मर पर पानी आदि डालकर लोगों ने आग बुझाई। डिस्कॉम कर्मियों का कहना है कि ट्रांसफार्मर के नीचे लगे कचरे में लगी आग से यह हादसा हुआ। स्थिति यह रही कि सूचना दिए जाने के एक घंटे तक जहां इलाके के लोग डिस्कॉम कर्मियों के साथ आग पर काबू पाने की मशक्कत करने में लगे रहे, वहीं दमकलकर्मी नदारद रहे। ट्रांसफार्मर जलने से इलाके में चार से पांच घ्ंांटे तक बिजली गायब रही। डिस्कॉम ने उसकी जगह दूसरा
ट्रांसफार्मर लगवाकर आपूर्ति व्यवस्था सुचारु कराई।
शादी में ससुराल पक्ष ने लौटाई टीका रस्म की राशि
नागौर. गोगानाडा स्थित शिंभूपुरा गांव के बहादुर सिंह राठौड़ व उसके परिजन ने शादी में टीके दौरान मिली रस्म राशि ससुराल वालों को लौटा दी। लोग राठौड़ परिवार के इस कदम की सराहना कर रहे हैं। कुंदन सिंह राठौड़ के पुत्र बहादुर सिंह राठौड़ ़ का विवाह शैतानसिंह नगर के नाथूसिंह भाटी की पुत्री अंजू कंवर के साथ हुआ। शादी के दौरान टीके की रस्म करते समय दूल्हा बहादुरसिंह राठौड़ एवं इनके परिजन ने मिली राशि सविनय लेने से इंकार कर दिया। हालांकि दुल्हन पक्ष ने इसे लेने का आग्रह किया, लेकिन राठौड़ परिवार टीका रस्म लेने को तैयार नहीं हुआ। शादी में मौजूद ओंकार सिंह फौजी ने बताया कि वर्तमान में समाज में टीका, दहेज प्रथा के बढ़ते चलने के बीच यह प्रयास सराहनीय है। इस मौके पर रणवीरसिंह, प्रेम सिंह, शक्तिसिंह, गिरधारी सिंह, गंगासिंह बाराणी, किशनसिंह, जसवंतसिंह फौजी, करणसिंह लोहरवाड़ा,अनूपसिंह खींवसर, रामसिंह आदि मौजूद थे।

प्रशिक्षार्थियों को समझाई प्रशिक्षण की अवधारणा
नागौर. हनुमानबाग स्थित मुख्य ब्लॉक शिक्षाधिकारी कार्यालय परिसर में मुख्य ब्लॉक शिक्षाधिकारी महालक्ष्मी चौधरी ने प्रशिक्षणार्थियों को एबीएल प्रशिक्षण कार्य की महत्ता समझाई। उन्होंने कहा कि हमें जीवन में कोई भी प्रशिक्षण तल्लीनता से लेना
चाहिए। प्रशिक्षण में नवाचारों के उपयोग से बालकों की समझ एवं कौशलों का निर्माण होता हैं। गतिविधि आधारित प्रशिक्षण से छात्र-छात्राओं की समझ को बढावा मिलता हैं। इसलिए प्रशिक्षण को आनंदपूर्ण तरीके से समझकर बालकों की क्षमता संवद्र्धन करें। एसीबीईओ मेहबूब खान ने कहा कि एबीएल प्रशिक्षण कक्षा 1 से 5 के विद्यार्थियों के लिए अति आवश्यक हैं। एफएलएन अन्तर्गत एबीएल आधारित प्रशिक्षण से छात्रों की समझ का विकास होता हैं। गतिविधि द्वारा किया गया कार्य अमिट होता हैं। उन्होंने ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में बच्चों के लिए पाठ्यचर्या और शास्त्रीय पद्धति को आधारभूत माना गया हैं। निपुण भारत मिशन में कक्षा 3 तक के छात्र.छात्राओं में बुनियादी साक्षरता एवं संख्या ज्ञान की समझ अति आवश्यक हैं। इसलिए प्रशिक्षण को बडे सहज भाव से लेकर छात्र-छात्राओं को गतिविधि के साथ कार्य करवाकर बौद्धिक क्षमता को बढाएं। कार्यक्रम अधिकारी पवन मांझ, शिवनारायण फिड़ोदा व एबीएल एसआरजी श्रवणकुमार वैष्णव ने भी प्रशिक्षण की अवधारणाओं पर चर्चा की।

Transformer kept burning in the fire for an hour
Transformer kept burning in the fire for an hour

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.