आरटीओ एसआई ने पकड़े ट्रक ड्राइवर के पैर, फिर भी नहीं बचा, देखिए वीडियो

एसआई गिड़गिडय़ाया, बोला - मैंने अधिकारी होकर ट्रक ड्राइवर के पैर पकड़े, हाथ जोड़े, अब तो वीडियो डिलीट करवा दो साहब, मेरी नौकरी चली जाएगी
- परिवहन विभाग के सब इंस्पेक्टर का वीडियो व ऑडियो वायरल, हाइवे पर कर रहा था अवैध वसूली, ट्रक चालक ने हिम्मत दिखाकर किया भंडोफोड़
- वीडियो वायरल होने के बाद डीटीओ ने सब इंस्पेक्टर को किया रिलीव, गार्ड को हटाया

By: shyam choudhary

Published: 16 May 2021, 08:42 AM IST

नागौर. ‘आप उसको बोलो कि यह वीडियो डिलीट कर दे, आगे मत फैला, बात को यहीं खत्म कर, उसे नागौर में अब कोई दिक्कत नहीं होगी। आपका भाई यहां बैठा है। मैं आपके हाथ जोड़ता हूं, पैर पकड़ता हूं। मुझे बचा लो, यह जिम्मेदारी आपकी है।’ इस प्रकार की मिन्नतें नागौर परिवहन विभाग का एक सब इंस्पेक्टर कर रहा है, जो अपनी टीम के साथ शनिवार को नागौर-लाडनूं हाइवे रोड पर ट्रक चालकों से अवैध वसूली कर रहा था।

दरअसल, बाड़मेर के ट्रक चालक देवेन्द्र ने रोज-रोज की इस अवैध वसूली से छूटकारा पाने के लिए शनिवार को हिम्मत दिखाकर गार्ड द्वारा रुपए लेने तथा वीडियो बनाने की जानकारी मिलने पर उसके पीछे दौडऩे के वीडियो बना लिए। इसके बाद उसने अपनी पहचान के युवा नेता पीएस कलवानिया को वीडियो भेजकर कार्रवाई के लिए कहा। कलवानिया ने सब इंस्पेक्टर से बात की तो वह गिड़गिड़ाने लगा। कहने लगा, नौकरी कितनी मुश्किल से मिलती है साहब, वीडियो वायरल हो गया तो उसकी नौकरी चली जाएगी। साथ ही दोनों के बीच हुई बातचीत के ऑडियो में यह भी कह रहा है कि उसने रुपए लेने की गलती करने के बाद अधिकारी होने के बावजूद ट्रक ड्राइवर के पैर पकड़े और हाथ भी जोड़े। वीडियो और ऑडियो वायरल होने के बाद नागौर जिला परिवहन अधिकारी ओमप्रकाश चौधरी ने सब इंस्पेक्टर रामनारायण भादू को रिलीव कर मुख्यालय भेज दिया तथा पैसे लेने वाले गार्ड को भी हटा दिया।

मारपीट कर डिलीट किए वीडियो, चालक ने एक्सपर्ट से करवाए री-कवर
ट्रक चालक ने बताया कि रोज-रोज के अवैध वसूली से परेशान होकर उसने परिवहन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों का वीडियो बना लिया। इसकी जानकारी जब उन्हें हुई तो वे गाड़ी लेकर आए और ट्रक के आगे लगाकर रुकवाया। नीचे उतरते ही सब इंस्पेक्टर भादू उसे मारने के लिए दौड़ा, लेकिन वह पहले से सचेत था, इसलिए ट्रक छोडकऱ खेतों में भाग गया। इसके बाद चार-पांच कर्मचारी और खुद सब इंस्पेक्टर उसके पीछे आए और उसे पकडकऱ पहले मारपीट की और फिर मोबाइल से वीडियो डिलीट कर दिया, लेकिन उसने एक्सपर्ट से वीडियो वापस री-कवर करवा लिया।

मैं जायल का भादू हूं साहब
वीडियो वायरल होने के बाद सब इंस्पेक्टर भादू कलवानिया के सामने फोन पर बार-बार गिड़गिड़ता दिखा। कलवानिया ने जब सब इंस्पेक्टर से परिचय पूछा तो बोला - मैं जायल का भादू हूं, अभी पिछले महीने ही यहां आया हूं, पहले बाहर था। फिर बोला, ‘आज वाली बात को परोटो साहब, मैं आपसे विनती कर रहा हूं, निवेदन कर रहा हूं’ मैंने बंजारों की ढाणियों में अधिकारी होकर उसके पैर पकड़े, हो गई भूल-चूक, अब इस बात को यहीं दबाओ।

लम्बे समय से चल रहा है खेल
परिवहन विभाग के कर्मचारियों एवं अधिकारियों द्वारा वाहनों की जांच के नाम पर इस प्रकार चौथ वसूली का यह खेल पिछले काफी समय से चल रहा है। खास बात यह है कि जिले से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों पर इस प्रकार उगाही चलती है, लेकिन जिम्मेदारों की नजर इधर नहीं गई। यहां तक कि जिले की एसीबी भी पिछले काफी समय से सुस्त है, पिछले दिनों ट्रेप की कार्रवाई भी सीकर एसीबी की टीम ने की है।

रिलीव करके मुख्यालय भेजा है
ट्रक चालक के साथ हुए घटनाक्रम का वीडियो देखने के बाद सब इंस्पेक्टर को रिलीव करके जयपुर मुख्यालय भेज दिया है। साथ ही वीडियो भी मुख्यालय भिजवाया है, ताकि मुख्यालय स्तर से वीडियो की सत्यता की जांच की जा सके। वीडियो में जो गार्ड दिखाई दे रहा है, उसे भी हटा दिया है।
- ओमप्रकाश चौधरी, जिला परिवहन अधिकारी, नागौर

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned