आकाशीय बिजली गिरने से दो महिलाओं की मौत, एक गंभीर रूप से झुलसा

- जिले में तीन जगह गिरी बिजली, मौसम में आए बदलाव से फसलों में खराबा, बारिश का दौर जारी रहा, तेज हवा के साथ बारिश व ओलावृष्टि

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 07 Mar 2020, 02:15 AM IST

नागौर. मौसम में आए बदलाव ने जिले में तबाही मचा दी। बारिश से जहां फसलों में खराब हो गया, वहीं बिजली गिरने से दो महिलाओं की मौत हो गई। हादसे में एक जना गंभीर रूप से झुलस गया। जिले में गुरुवार देर रात से ही बारिश का दौर चलता रहा। इस दौरान आकाश में बिजली कड़कड़ाती रही। शुक्रवार अलसुबह भी बारिश का दौर जारी रहा, लेकिन तीन जगह बिजली गिरी। नांवा तहसील के मिंडा गांव के समीप खेत में काम कर रहे दम्पति पर बिजली गिरने से महिला की मौत हो गई। हादसे में देदिया का वास निवासी भंवरीदेवी की मौत हो गई। वहीं पति रामूराम गंभीर रूप से घायल हो गया। इसी तरह लाडनूं के समीप खेत में कार्य करते समय बिजली गिरने से महिला की मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि मृतका रायधना गांव निवासी गीता का शव लाडनूं के राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया गया। वहीं बड़ी खाटू कस्बे में सुबह सात बजे हिन्दू बेरा राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय व लाडनूं डेगाना हाईवे के बीच खेजड़ी के पेड़ पर भी बिजली गिरी। हादसे में पेड़ बुरी तरह से बिखर गया। यहां जान-माल के नुकसान के कोई समाचार नहीं है। उधर, खेतों में पकी-पकाई फसलों को भारी नुकसान हुआ है। बारिश व तेज हवा के कारण फसलें आड़ी हो गई, जिससे मुंह तक आया निवाला छिन जाने की स्थिति बनी हुई है।

ओलावृष्टि से भारी नुकसान

तरनाऊ, रोज समेत ढेहरी, मातासुख, बरसुणा, सिलारिया सहित आसपास के गांवों में बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। तेज हवा के साथ बारिश व ओलावृष्टि से जीरा, इसबगोल सहित कई फसलों में भारी नुकसान हुआ है।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned