Video : पुलिस के हत्थे चढ़ा गैंगस्टर आनंदपाल का साथी बलबीर दरोगा

shyam choudhary

Publish: Dec, 07 2017 09:26:08 (IST)

Nagaur, Rajasthan, India
Video : पुलिस के हत्थे चढ़ा गैंगस्टर आनंदपाल का साथी बलबीर दरोगा

बलबीर पर था एक लाख रुपए का इनाम, आनन्दपालसिंह गैंग का था सहयोगी, दुर्घटना के बाद जख्मी होने पर ग्राम बुड़सू के समीप आया था आर्युर्वेदिक उपचार के लिए

कुचामनसिटी (Nagaur). आनन्दपाल का साथी व एक लाख रुपए के इनामी बदमाश बलवीरसिंह को गुरुवार को पुलिस ने धर दबोचा। डीडवाना अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमनलाल मीना ने बताया कि नागौर, बीकानेर , चूरू व सीकर क्षेत्र में सक्रिय बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए नागौर जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने पुलिस उपाधीक्षक विद्या प्रकाश की अगुवाई में पुलिस टीम गठित की है। गुरुवार को पुलिस उपाधीक्षक कुचामन की टीम ने बलवीरसिंह निमोद को ग्राम बुड़सू के समीप सरकारी तलाई से दबोचा। आरोपी को शहीद कांस्टेबल खुमाराम प्रकरण, पीडीपीपी एक्ट व आम्र्स एक्ट थाना पांचौड़ी में वांछित होने पर अनुसंधान अधिकारी राजेन्द्र दीवाकर उपाधीक्षक मेड़ता सिटी को अग्रिम अनुसंधान के लिए सुपुर्द किया जाएगा।

जानकारी के बाद किया टीम का गठन
कुचामन पुलिस उपाधीक्षक की टीम में शामिल सिपाही जतनाराम को जानकारी मिली थी कि बलवीर सिंह 22 नवम्बर को मकराना के समीप बोरावड़ क्षेत्र में मोटरसाइकिल से दुर्घटनाग्रस्त होकर कुचामन शहर के समीप कहीं गुप्त रूप से इलाज करवा रहा हैं। इसके बाद पुलिस उपाधीक्षक विद्याप्रकाश ने टीम प्रभारी हेड कांस्टेबल पर्वत सिंह की अगुवाई में सिपाही पुखराज, रोहिताश, जतना राम, महावीर प्रसाद, विमला, छोटूराम की टीम गठित की। ठीम को गुरुवार सुबह ही ग्राम निमोद व बुड़सू क्षेत्र में तैनात कर दिया। इसके साथ ही डीडवाना अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए डीडवाना सेक्टर के सभी थानाप्रभारियों को नाकाबंदी के लिए निर्देशित किया।

 

दुर्घटना के बाद करवा रहा था उपचार
गुरुवार को हैड कांस्टेबल पर्वत सिंह को सूचना मिली कि अपराधी अपने जख्म की मरहम पट्टी करवाने बुड़सू गांव में मेगा हाई-वे के समीप स्थित गोचर भूमि (तलाई) में मोटर साइकिल लेकर आ रहा हैं। सूचना के बाद उपाधीक्षक विद्याप्रकाश ने हथियार बंध पुलिस टीम के हैड कांस्टेबल पर्वतसिंह, सिपाही पुखराज, रोहिताश, जतनाराम, छोटूराम को निजी वाहन से निमोद से बुड़सू आने व अन्य पुलिस टीम निजी साधन से स्वयं के साथ सिपाही महावीर प्रसाद, विमला के साथ बुड़सू तलाई के लिए रवाना हो गए। बुड़सू हाई-वे से ग्राम जाखली जाने वाली सड़क के किनारे एक संदिग्ध मोटर साइकिल पर मुंह व सिर को ढके एक व्यक्ति पास में खड़ा और दूसरा थोड़ी दूरी पर इन्तजार में खड़े दिखाई दिए। इस पर हैड कांस्टेबल पर्वतसिंह ने मोटरसाइकिल से दूर खड़े व्यक्ति की ओर इशारा किया। इस पर पुलिस टीम में शामिल सभी जवानों ने घेराबंदी कर दोनों व्यक्तियों को वहीं खड़े रहने की हिदायत की। संदेह होने पर दोनों ही संदिग्ध व्यक्ति भागने लगे, जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ लिया। मुंह छिपाए हुए व्यक्ति का कपड़ा हटाने पर पर्वतसिंह ने वांछित अपराधी बलवीर सिंह दरोगा के रूप में शिनाख्त की। आरोपी से एक रिवॉल्वर, छह राउंड लोडेड, कारतूस व एक मोबाइल बरामद किए।


बलवीर सिंह कई मामलों में है आरोपी
कुख्यात अपराधी बलवीर सिंह निमोद आनदंपाल गैंग का लम्बे समय से सहयोगी रहा हैं। इसकी गिरफ्तारी पर राजस्थान पुलिस मुख्यालय, जयपुर से एक लाख रुपए का ईनाम घोषित था। आरोपी पर आम्र्स एक्ट पुलिस थाना सुजानगढ़, आम्र्स एक्ट पुलिस थाना साण्डवा (गुमाना राम तेहनदेसर हत्याकाण्ड), आम्र्स एक्ट परबतसर (आनंदपाल फरारी प्रकरण), आम्र्स एक्ट पुलिस थाना परबतसर, (राजेन्द्र सिंह शिक्षक हत्याकाण्ड), आम्र्स एक्ट परबतसर (आनंदपाल फरारी प्रकरण), डीडवाना (इन्द्रचन्द अपहरण काण्ड), आम्र्स एक्ट थाना पांचौड़ी(खुमाराम हत्याकाण्ड), परबतसर (गांगवा फायरिंग प्रकरण), मदनगंज किशनगढ, आम्र्स एक्ट थाना जसवंतगढ़,( लादू सिंह थानाधिकारी जसवंतगढ़ फायरिंग प्रकरण), पुलिस थाना भादरा जिला हनुमानगढ़ के मामले दर्ज हैं।

लम्बे समय से है सहयोगी
पुलिस ने बताया कि वांछित अपराधी ग्राम निमोद निवासी बलवीर सिंह दरोगा उर्फ बबलू (38) आम्र्स एक्ट थाना पांचौड़ी में वांछित होने से दस्तयाब कर पुलिस हिरासत में लिया, जिसे अग्रिम अनुसंधान के लिए अनुसंधान अधिकारी राजेन्द्र दीवाकर, उपाधीक्षक मेड़ता शहर को सुपुर्द किया जाएगा। आरोपी के सहयोगी निमोद निवासी राजू सिंह (35) को गिरफ्तार कर मोटरसाइकिल बरामद जब्त की है। बलवीर सिंह आनदंपाल गैंग का लम्बे समय से सहयोगी रहा हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned