अब नागौर जिले में मनरेगा के तहत चमकाए जाएंगे गांव-गवाड़

जिले में ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई के लिए जरुरत के मुताबिक मनरेगा से श्रमिकों का नियोजन किया जाएगा।

By: Dharmendra gaur

Updated: 15 Jan 2018, 10:44 PM IST

नागौर. जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि जिले में बने शौचालयों की जियो टैगिंग की जाए तथा ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई के लिए जरुरत के मुताबिक मनरेगा से श्रमिकों का नियोजन किया जाए। गौतम सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में साप्ताहिक समीक्षा बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि शौचालयों की जियो टैगिंग होने से उनकी सम्पूर्ण जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध हो जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों में व्यवस्थित साफ-सफाई के लिए जरूरत के मुताबिक सफाई कर्मियों की नियुक्ति मनरेगा के माध्यम से की जाए तथा जनप्रतिनिधियों व आमजन को स्वच्छता के लिए प्रेरित करने का कार्य किया जाएगा।
जीएलआर की मरम्मत करवाएं
जिला कलक्टर ने कहा कि जल स्वावलम्बन अभियान के तृतीय चरण में जल स्त्रोतों का निर्माण निश्चित समय सीमा में पूर्ण गुणवत्ता के साथ किया जाए, ताकि जब बरसात हो तो वर्षा का पानी संचय किया जा सके। उन्होंने निर्देश दिए कि जीएलआर की मरम्मत करवाकर जीएलआर में पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। कलक्टर ने कहा कि जिले में तय स्थानों पर हैंड पंप का निर्माण करवाया जाए ताकि किसी भी स्थिति में पीने के पानी की समस्या ना हो। कलक्टर ने निर्देश दिए कि भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत हर पात्र व्यक्ति को चिकित्सा सुविधा का लाभ मिलना चाहिए।
अस्पताल के विरुद्ध होगी एफआईआर
कलक्टर ने कहा कि स्वास्थ्य बीमा योजना में किसी निजी अस्पताल द्वारा किसी तरह की गड़बड़ी ना हो, इसके लिए समय-समय पर जांच की जाए। गत दिनों मिली शिकायत का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि स्थानीय भास्कर हॉस्पिटल द्वारा भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत एक मरीज द्वारा स्तन की सर्जरी करवाने के लिए अस्पताल में एडमिशन लिया था। अस्पताल प्रबंधक ने एक स्तन सर्जरी तथा दूसरी हर्निया की सर्जरी के बिल बना दिए। कलक्टर ने सख्त निर्देश दिए कि पूरे प्रकरण की जांच हो। हॉस्पिटल द्वारा दोहरा लाभ लेने के लिए गलत बिल बनाए हैं, तो उसके विरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाई जाए।
मोबाइल पर दें टीकाकरण की सूचना
उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल सहित जिले के सभी अस्पतालों में ई मित्र केंद्र की स्थापना की जाएगी। जिससे यहां आने वाले रोगियों को आधार कार्ड बनाने की सुविधा मिल सके। उन्होंने निर्देश दिए कि शत प्रतिशत टीकाकरण के लिए विभाग संबंधित व्यक्ति को बच्चों के टीका लगाने के लिए समय-समय पर सूचित करने के लिए मोबाइल के माध्यम से एसएमएस या फोन पर बताएं कि बच्चे के टीकाकरण की दिनांक नजदीक है। आप चिकित्सालय में उपस्थित होकर टीका लगवा लें। कलक्टर ने आरयूआईडीपी तथा नगर परिषद के अधिकारी को निर्देश दिए की सीवरेज का कार्य शीघ्र पूरा कर लिया जाए।
रुडिप के विरुद्ध हो कार्रवाई
कलक्टर गौतम ने आरयूआईडीपी द्वारा सार्वजनिक निर्माण विभाग तथा नगर परिषद से बगैर अनुमति लेकर सिविल लाइन डालने के लिए सडक़ तोडऩे को गंभीरता से लिया तथा उन्होंने निर्देश दिए कि सडक़ तोडऩे वाले ठेकेदार व कार्यकारी एजेंसी आरयूआईडीपी के विरुद्ध सख्त कारवाई करते हुए अधिशासी अभियंता व कनिष्ठ अभियंता को चार्जशीट दी जाए। कलक्टर ने कहा कि ट्रांसफॉर्मर बदलने में राज्य सरकार द्वारा जारी निर्देशों के तहत 72 घंटे में ट्रांसफॉर्मर बदल दिया जाए। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना में सभी पात्र व्यक्तियों को अगले 30 दिनों में कनेक्शन दे दिया जाए।

Dharmendra gaur Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned