scriptWith faith and dedication the impossible becomes possible | श्रद्धा व समर्पण से असंभव भी संभव हो जाते हैं | Patrika News

श्रद्धा व समर्पण से असंभव भी संभव हो जाते हैं

Nagaur. जयमल जैन पौषधशाला में जयमल जैन श्रावक संघ के तत्वावधान में शनिवार को साध्वी बिंदुप्रभा ने प्रवचन में कहा कि धर्म सभी मंगलों में सर्वोत्कृष्ट मंगल है

नागौर

Published: August 14, 2021 10:58:47 pm

नागौर. जयमल जैन पौषधशाला में जयमल जैन श्रावक संघ के तत्वावधान में शनिवार को साध्वी बिंदुप्रभा ने प्रवचन में कहा कि धर्म सभी मंगलों में सर्वोत्कृष्ट मंगल है। नवकार मंत्र में पंच परमेष्ठी को सर्वप्रथम मंगल बताया गया है। मंगल का अर्थ होता है विघ्नों का नाश करने वाला। अरिहंत, सिद्ध, आचार्य, उपाध्याय, साधु इन पंच परमेष्ठी का श्रद्धा पूर्वक स्मरण करने से सभी विघ्न दूर हो जाते हैं। गुड़, दही, अक्षत आदि द्वारा मंगल तो कभी अमंगल रूप भी हो सकते हैं। धर्म कभी अमंगल नहीं हो सकता है। धर्म ही सच्चा विघ्नहर्ता, संकटमोचक, विघ्न विनाशक, बाधा निवारक एवं मंगल कारक होता है। धर्म के पुण्य प्रताप से सारे अड़चन, बाधा, अवरोध आदि दूर हो जाते हैं। हर कार्य में सफलता हासिल होती है। हर व्यक्ति जीवन में मंगल चाहता है। अत: उसके लिए धर्म का आलंबन लेना होगा। श्रद्धा एवं समर्पण के बल पर असंभव कार्य को भी संभव बनाया जा सकता है। धर्म के प्रभाव से दुख, कष्ट, रोग, शोक आदि दूर होने से धर्म पर व्यक्ति की श्रद्धा और ज्यादा बढ़ जाती है। संत दर्शन एवं उनके मुखारविंद से जिनवाणी श्रवण करने मात्र से अनंत पुण्य वाणी का उपार्जन होता है। संतों एवं महापुरुषों के सानिध्य में बैठने से उनके ओरे के प्रभाव से जीव को अमिट शांति की अनुभूति होती है। सत्संग एवं धर्म के महत्व को समझने वाला ही उसके प्रति रुचि रखते हुए उसे आचरण में उतारने हेतु तत्पर बन सकता है। प्रवचन में पूछे गए प्रश्नों के उत्तर महावीरचंद भूरट, मनोज ललवानी, दीक्षा चौरडिय़ा एवं प्रेमलता ललवानी ने दिए। विजेताओं को सूरजदेवी, मदनलाल सुराणा की ओर से पुरस्कृत किया गया। प्रवचन की प्रभावना नेमीचंद, नरेश चौरडिय़ा की ओर से वितरित की गयीं। संचालन संजय पींचा ने किया। आगंतुकों के भोजन का लाभ महावीरचंद, पारस भूरट ने लिया। इस मौके पर ज्ञानचंद माली, फतेहचंद छोरिया, भीखमचंद ललवानी, हरकचंद ललवानी, दीपक सैनी आदि मौजद थे।

With faith and dedication the impossible becomes possible
Nagaur. Shravikas listening to discourses in Jaimal Jain Nursery

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.