11 बरस से हो रहा है पदयात्रियों की मुस्कान बढ़ाने का काम

11 बरस से हो रहा है पदयात्रियों की मुस्कान बढ़ाने का काम

Dharmendra gaur | Publish: Sep, 16 2018 06:29:49 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 06:51:50 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

पदयात्रियों को उपलब्ध करवा रहे फिजियो थैरेपी, भंडारे व चिकित्सा सुविधा सहित अन्य नि:शुल्क व्यवस्थाएं

डीडवाना. मन में कुछ ठान के सालासर व रामदेवरा पदयात्रा जाने वालों की देख-भाल का जिम्मा कुछ लोगों ने संभाल रखा है। न कोई फायदा न कोई हील-हुज्जत। बस एक धुन है कि पदयात्रियों की थकान दूर करें, उनके भोजन समेत अन्य सुविधाओं की व्यवस्था करें ताकि उनकी मंजिल और आसान हो। पदयात्रियों के लिए सामाजिक संस्थाओं की ओर से भंडारे सहित अन्य व्यवस्था की जा रही है, लेकिन बांगड़ परिवार की ओर से श्रद्धालुओं के लिए की जाने वाली सभी जरूरी सुविधा चर्चा का विषय बनी हुई है। डीडवाना निवासी व हाल निवासी किशनगढ बांगड़ परिवार पदयात्रा पर जा रहे श्रद्धालुओं को पिछले 11 वर्षो से सभी जरूरी सुविधाएं मुहैया करा रहा है। इसके लिए बांगड़ परिवार ने शहर के नजदीक बांगड़ प्रवेश द्वार के पास विशेष व्यवस्थाकर रखी है, जहां पर श्रद्धालुओं के थके शरीर के लिए फीजियो थैरेपी सुविधा, बीमार के लिए दवा, जरूरतमंद के लिए भोजन सहित अन्य जरूरी सुविधाएं है। यहां पर पदिियात्रयों के लिए प्रेमनारायण, प्रकाशनारायण व रामबाबू बांगड़ परिवार अपने खर्च पर सभी सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध करा रहा है। इससे सैकड़ों लोग लाभान्वित हो रहे हैं।

देखा अभाव तब मिली प्रेरणा
पत्रिका से बात करते हुए लक्ष्मीनारायण बांगड़ ने बताया कि वर्ष 2007 में वो सालासर बालाजी मंदिर दर्शन के लिए जा रहे थे। प्रकाशनारायण बांगड़, शांतिदेवी बांगड़, लक्ष्मीनारायण व वेंकटेस बांगड़ सभी वाहन में सवार थे। इस दौरान उन्होंने देखा कि लोगों को पदयात्रा के दौरान शारीरिक परेशानी सहित अन्य प्रकार से समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जिसके बाद बांगड़ परिवार ने निर्णय किया कि चाहे कितना ही खर्च हो जाए प्रति वर्ष श्रद्धालुओं के लिए नि: शुल्क व्यवस्था करेंगे।

21 सितंबर तक जारी

इसके बाद बांगड़ परिवार किशनगढ़ की ओर से पिछले 10 वर्ष से श्रद्धालुओं के लिए सभी जरूरी सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है। इस बार 11वें आयोजन का शुभारंभ 13 सितम्बर से ब्रदी विशाल बांगड़ प्रवेश द्वार पर किया गया जो कि 21 सितम्बर तक जारी रहेगा। इस दौरान भजन संध्या सहित अन्य धार्मिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते है। शनिवार की रात को संगीतमय सुंदरकाण्ड पाठ का आयोजन किया गया। अब 18 सितम्बर मंगलवार को सालासर बालाजी पूजारी परिवार द्वारा विशाल भजन संध्या का आयोजन होगा। इस मौके पर मनोहर पुजारी व पवन पुजारी सहित भजन गायक कलाकार भजन प्रस्तुति देंगे।
भंडारे के अलावा विशेष सुविधा भी

बांगड़ परिवार की ओर से श्रद्धालुओं के लिए 24 घंटे सुविधा वाला भंडारा तो चलाया ही जा रहा है। साथ ही पदयात्रियों के शरीर को आराम मिले इसके लिए अन्य जरूरी सुविधाएं भी संचालित की जा रही है। बांगड़ परिवार की ओर से श्रद्धालुओं के लिए मसाज (फीजियोंथेरेपी), मेडिकल की सुविधा तो दी ही जा रही है। साथ ही वाईफाई जोन की सुविधा 24 घंटे उपलब्ध है। 21 सितम्बर को आयोजक सालासर पैदल यात्रा के लिए रवाना हो जाते हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned