परीक्षा देने पहुंचे विद्यार्थियों के दो पहिया वाहनों की डिक्की तोड़कर 26 मोबाइल ले गए

परीक्षा देने पहुंचे विद्यार्थियों के दो पहिया वाहनों की डिक्की तोड़कर 26 मोबाइल ले गए

Gopal Swaroop Bajpai | Updated: 14 Mar 2019, 09:08:42 PM (IST) Nagda, Ujjain, Madhya Pradesh, India

परीक्षा केंद्र के बाहर से, संवेदनशील परीक्षा केंद्र होने के बावजूद नहीं रहता पुलिस का पहरा

नागदा। बिरलाग्राम स्थित भारत कॉमर्स विद्यालय के बाहर रखे दो पहिया वाहनों की डिक्की तोड़कर चोर यहां से 26 मोबाइल चुरा ले गए हैं। ये सभी मोबाइल यहां 12वीं का पर्चा देने पहुंचे विद्यार्थियों के थे। परीक्षा के बाद जब वे अपने वाहनों के पास पहुंचे तो उन्हें अपने वाहनों की डिक्की टूटी मिली और उनमें रखे मोबाइल गायब थे। मामले में पीडि़त विद्यार्थियों ने बिरलाग्राम थाने पर शिकायत की है। पुलिस चोरी गए मोबाइलों की पड़ताल में जुट गई हैं। गुरूवार को 12वीं की परीक्षा थी। प्राइवेट फार्म भरने वाले लगभग 350 विद्यार्थी भारत कॉमर्स स्कूल पर पर्चा देने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने अपने वाहन स्कूल परिसर के अंतिम छोर पर करीब 500 मीटर दूर नियत स्थान पर खड़े करने के बाद परीक्षार्थी परीक्षा देने चले गए थे। दोपहर पर्चा खत्म होने के बाद जब विद्यार्थी अपने वाहनों के पास पहुंचे तो उनके दो पहिया वाहनों की डिक्कियां टूटी थी और मोबाइल गायब थे, एक साथ इतनी बड़ी संख्या में यहां से मोबाइल चोरी होने की सूचना मिलने के बाद यहां अफरा
तफरी की स्थिति बन गई। मामले की सूचना मिलने के बाद यहां पहुंची पुलिस से पीडि़तों ने पूरी कहानी बताई। इसके बाद पुलिस ने सभी पीडि़तों को मोबाइल खरीदी का बिल लेकर आने के लिए कहा है। इसके बाद सभी पीडि़त विद्यार्थी रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए मोबाइल का बिल लेने के लिए अपने अपने घरों के लिए रवाना हो गए थे। स्कूल व पार्किंग के बीच बड़ा खेल मैदान इसलिए आराम से अंजाम दिया वारदात को दरअसल परीक्षा के लिए पहुंचने वाले विद्यार्थियों से मैन गेट जो की बड़ा गणेश मंदिर के सामने की ओर हैं। पर वाहन पार्किंग करवाई जाती है। हालंाकि ये पार्किंग स्कूल परिसर की बॉउड्रीवाल के अंदर होती है। लेकिन पार्किंग व परीक्षा केंद्र के बीच में एक बड़ा खेल मैदान है। आरोपियों ने इसी का फायदा उठाकर वारदात को आसानी से अंजाम दिया। दरअसल परीक्षा के कारण सभी परीक्षार्थी व शिक्षक व अन्य स्टाफ परीक्षा हाल के अंदर रहते हैं, और दूसरे कौने पर किसी की नजर भी नहीं पड़ती। इसी का फायदा आरोपियों ने पूरी तरह से उठाया और एक साथ दो दर्जन से ज्यादा
मोबाइल चोरी की वारदातों को अंजाम दे दिया।
छह दिन पहले चोरी हुई थी दो साइकिल
स्कूल स्टॉफ ने बताया कि मोबाइल चोरी की घटना के छह दिन पहले भी परिसर से दो साइकिल चोरी हुई थी। ये साइकिल भी परीक्षा देने पहुंचे
विद्यार्थियों की ही थी। लेकिन इनमें से एक साइकिल तो मिल गई है। लेकिन दूसरी साइकिल की जानकारी अब तक न तो स्कूल स्टाफ व नहीं परीक्षा देने पहुंचे युवक को मिल पाई है। जो साइकिल स्कूल के पास से वापस मिली है उस साइकिल को विद्यार्थी को वापस लौटाई जाएगी।
दो संदिग्ध देखे गए थे। स्कूल परिसर में दो संदिग्धों को देखा गया था। इनमें से एक ने काले रंग के पकड़े पहन रखे थे। लोगों को शंका है कि कहीं इन संदिग्धों ने ही तो मौके का फायदा उठाकर वारदात को अंजाम नहीं दे दिया। हालंाकि परिसर में निगरानी रखने के लिए कहीं भी सीसीटीवी कैमरे भी नहीं लगे हैं जिनसे की कोई संदिग्ध पहचाना जा सके। जो कैमरे लगे हैं वे सिर्फ स्कूल परिसर की ही निगरानी करते हैं।
संवेदनशील केंद्र पर नहीं रहता पुलिस का पहरा
शहर का सर्वाधिक संवेदनशील परीक्षा केंद्र भारतकामर्स स्कूल ही है क्योंकि यहां सभी ऐसे विद्यार्थी परीक्षा देने पहुंच रहे हैं तो प्राइवेट हैं।
लगभग 350 विद्यार्थियों में से कई तो उत्तर प्रदेश व अन्य जगह से आए हैं ये देखने में भी कालेज के विद्यार्थियों की तरह नजर आते हैं। लेकिन
चौंकाने वाली बात यह है कि इतने संवेदनशील मतदान केंद्र पर भी पुलिस का कोई जवान तैनात नहीं रहता।
इनका कहना
मोबाइल चोरी हो जाने की शिकायत मिली है। जिन परिक्षार्थियों के भी मोबाइल चोरी हुए है उन सभी को मोबाइल के बिल लाने को कहा गया
है। बिल मिलने के बाद चोरी की रिपोर्ट दर्ज कर ली जाएगी । साथ ही आगे से परीक्षा के दौरान वहां नियमित रूप से पुलिसकर्मी की ड्यूटी लगाई जाएगी।
मनोज रत्नाकर
सीएसपी नागदा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned