तकनीकी दौड़ के साथ विद्याथी बनेंगे स्मार्ट

शासकीय विवेकानंद कॉलेज में पढऩे वाले विद्यार्थी बेशक ही तकनीकी दौड़ के साथ प्रतिस्पर्धा करने वाले विद्यार्थी बनकर स्नातक होंगे।

By: Gopal Bajpai

Published: 10 Nov 2017, 07:45 PM IST

नागदा. शासकीय विवेकानंद कॉलेज में पढऩे वाले विद्यार्थी बेशक ही तकनीकी दौड़ के साथ प्रतिस्पर्धा करने वाले विद्यार्थी बनकर स्नातक होंगे। कारण महाविद्यालय को स्मार्ट क्लास की सौंगात मिलना है। इस बात को भी नकारा नहीं जा सकता है कि शहर का महाविद्यालय निश्चित ही प्रदेश का इकलौता महाविद्यालय बन चुका है, जहां स्नातक की पढ़ाई डिजिटल तकनीक से करवाई जा रही है।

विद्यार्थियों को सौंगात लैंसेक्स उद्योग के सीएसआर फंड व स्थानीय विधायक दिलीपसिंह शेखावत व नगर पालिका अध्यक्ष अशोक मालवीय के प्रयासों से मिली है। डिजिटल तरीके से पढ़ाई की सुविधा देने के लिए गुरुवार को कॉलेज परिसर में वृद्ध समारोह आयोजित किया गया। सबसे बड़ी खुशी की बात यह रही, कि कॉलेज चुनाव में विजेता रहे प्रतियोगियों को स्मार्ट कक्षा के लोकापर्ण का अवसर दिया गया। आगामी दिनों में कॉलेज को ई लाईब्रेरी भी उपलब्ध हो सकेगी। जिसके जरिए अध्यनरत विद्यार्थी ५० लाख पुस्तकों में अपने आगामी भविष्य व अध्यन से जुड़े हुए पहलुओं की खोज करेंगे। इतना ही नहीं कॉलेज की झोली में आगामी ६ माह के भीतर आधुनिक प्रयोगशाला का निर्माण भी किया जाएगा। जिसके निर्माण की जिम्मेदारी जनभागीदारी फंड का दायित्व करने वाले प्रतिनिधियों को सौंपी गई है।

वातानुकुलित कक्ष बनेंगे
कार्यक्रम के दौरान विधायक शेखावत की मांग पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे नपाध्यक्ष अशोक मालवीय ने कॉलेज के प्रोफेसरों व प्राचार्य पद के जिम्मेदार के लिए वातानुकुलित कक्ष बनाए जाने की घोषणा की है। जिसके अंतर्गत नपा द्वारा महाविद्यालय के प्राचार्य व स्टॉफ रूम को वातानुकूलित कक्ष बनाकर चार एसी लगाने की घोषणा की गई।

महाविद्यालय खेल मैदान को, सुव्यस्थित समतल बनाने पर विचार, नपा कार्यालय के समक्ष बस का इंतजार करने वाले विद्यार्थियों के लिए सुर्व सुविधायुक्त वेटिंग बस स्टॉप बनाने की घोषणा की गई। जनभागीदारी समिति अध्यक्षों को पदभार ग्रहण करवाया गया। कार्यक्रम के दौरान विवेकानंद महाविद्यालय एवं कन्या महाविद्यालय के जनभागीदारी समिति के नवनियुक्त अध्यक्ष जितेंद्र कुशवाह व अतुल शर्मा दोनों को विधिवत पदभार ग्रहण करवाया गया। इस मौके पर दोनों अध्यक्षों ने अपने उद्बोधन में महाविद्यालय में विद्यार्थियों के हितों की रक्षा करने व बाहरी तत्वों को महाविद्यालय परिसर में नहीं घुसने देने की बात कही गई।

शिक्षा के मंदिर को ना बनाएं राजनितिक अखाड़ा : विधायक शेखावत ने उपस्थितों को संबोधित करते हुए राजनीतिक विरोधियों पर तंज कसते हुए कहा कि महाविद्यालय को राजनीति का अखाड़ा नहीं बनाएं। राजनीति करने के लिए और बहुत सारे स्थान है। विधायक को यह बात इसलिए कहना पड़ी, कि समारोह में छात्र संघ का एक भी पदाधिकारी मौजूद नहीं था। आरोप है, कि एनएसयूआई एवं कांग्रेस के नेताओं ने सभी पदाधिकारियों व विद्यार्थियों को एक निजी गार्डन में रोक लिया गया था और उन्हें कार्यक्रम में शामिल नहीं होने दिया गया। गौरतलब है, कि छात्र हित में संपन्न हुए छात्र संघ के चुनाव में विवेकानंद महाविद्यालय में एनएसयूआई की सभी पदों पर विजय हुई थी।

इन्होंने ने किया संबोधित

कार्यक्रम को लैंसेक्स उद्योग के प्रोडक्शन मैनेजर एलके झिंगानिया, डॉ.तेज बहादुरसिंह चौहान, एसडीएम डॉ. रजनीश श्रीवास्तव, सीएसपी मानसिंह परमार आदि ने संबोधित किया। स्वागत भाषण महाविद्यालय प्राचार्या डॉ.शीला ओझा ने दिया। आभार कन्या महाविद्यालय प्राचार्य जेपी श्रीवास्तव ने माना।

यह रहे मौजूद

इस मौके पर नपा सांसद प्रतिनिधि धर्मेश जायसवाल, नपा उपाध्यक्ष सज्जनसिंह शेखावत, सीएम अतुल, रामसिंह शेखावत, जसवंत आंजना, विमला चौहान, इंद्रकुंवर शेखावत, रेखा मालवीय के अलावा कन्या महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष सानिया शेख, सीआर महिमा सिंह, सीआर रीना पांचाल, शासकीय महाविद्यालय सीआर पूर्णिमा शर्मा, विमला अग्रवाल, दीव्या राठौर, उमेश कुशवाह सहित बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं व गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned