पड़ोसी राज्यों से लगातार हो रही गांजा तस्करी, बस्तर के रास्ते पहुंच रहे प्रदेश

पड़ोसी राज्यों से लगातार हो रही गांजा तस्करी, बस्तर के रास्ते पहुंच रहे प्रदेश

Bhupesh Tripathi | Updated: 26 Jul 2019, 08:39:27 PM (IST) Narayanpur, Narayanpur, Chhattisgarh, India

Chhattisgarh: नगरनार पुलिस की बड़ी कार्रवाई : 105 किलो गांजा समेत दो आरोपी गिरफ्तार, उप्र निवासी दो गांजा तस्कर पुलिस के गिरप्त में

जगदलपुर।प्रदेश पुलिस (chhattisgarh police) का खौफ गुंडों और बदमाशों में दिन प्रतिदिन कम होता नज़र आ रहा है। परिणाम स्वरूप शहरो से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक में बलात्कार, गुंडागर्दी, चोरी और तस्करी (weed smugller) का व्यापार जोरो पर है। आए दिन सप्ताह मे तक़रीबन दो से तीन दिवस जिला पुलिस गांजा तस्करो को दबोच रही है।आपको बता दे छत्तीसगढ़ में सबसे अधिक पडोसी राज्य ओडिशा और आंध्रप्रदेश से गांजा की तस्करी की जा रही है।

अकाल की आशंका, मानसून की बेरूखी से बढ़ी किसानों की चिंता

नगरनार पुलिस ने गुरुवार को एक टाटा सूमो वाहन में अवैध रूप से 105 किलो गांजा का परिवहन करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इसकी कीमत 5 लाख 35 हजार रुपए बताई गई है। पुलिस को सूचना मिली कि ओडि़शा से जगदलपुर की ओर जा रही सफेद रंग की टाटा सूमो वाहन (सीजी 07 टी 4171) में सवार दो व्यक्ति संदिग्ध सामान का परिवहन कर रहे है।

उक्त सूचना पर पुलिस ने थाने के सामने नेशनल हाइवे पर चेकिंग पोस्ट लगाकर वाहनों की जांच शुरू कर की। जांच के दौरान ही संदिग्ध वाहन को पुलिसकर्मियों ने रोक लिया। रोकने के बाद पुलिस ने वाहन में सवार शर्मा यादव (31) निवासी उत्तरप्रदेश और हरेंद्र चौहान (32) निवासी उत्तरप्रदेश से पूछताछ करते हुए वाहन की तलाशी ली।

जब प्रदेश के कैबिनेट मंत्री कवासी लखमा खेलने पहुंचे

तलाशी के दौरान पुलिस ने वाहन में छुपाकर रखे 105 किलो गांजा बरामद कर लिया।पुलिस की कड़ी पूछताछ में दोनों ही आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस ने आरोपियों द्वारा गांजा परिवहन करने के लिए इस्तेमाल किये गए वाहन को भी जप्त किया है।आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस की धारा 20 (ख) के तहत मामला पंजीबद्ध करते हुए आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

 

एक दिन पहले की घटना
जिला मुख्यालय कोंडागांव में कोतवाली पुलिस ने 85 लाख का मादक पदार्थ गांजा पकडऩे में सफलता पाई है। जिसे ओडिशा से राष्ट्रीय राजमार्ग 30 के जरिए मध्यप्रदेश ले जाया जा रहा था। जिसे पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर नाकेबंदी कर पकड़ा है।

नाकेबंदी के दौरान पुलिस
मिली जानकारी के अनुसार कोंडागांव जिला मुख्यालय के कोतवाली थाना को मुखबिर से सूचना मिली की ओडिशा से भारी मात्रा में मादक पदार्थ लाया जा रहा है। जिसके अनसुार पुलिस ने नाकेबंदी की। नाकेबंदी के दौरान पुलिस ने एक अशोक लीलैंड ट्रक की तलाशी ली जिसमें ट्रक के पीछे एक अलग से चेंबर बनाकर आरोपियों ने 1700 किलो गांजे को छिपाया था।

जंगल के रास्ते बेटी के साथ घर लौट रही थी महिला, अचानक झाड़ी से निकले 2 युवक और...

अंर्तराज्यीय गिरोह का हाथा
कोंडागांव एसपी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि, इस घटना में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। यह एक अंर्तराज्यीय गिरोह है। जिसकी छत्तीसगढ़ पुलिस को लंबे समय से तलाश थी। इस गिरोह की तलाश महाराष्ट्र एमपी व पश्चिम बंगाल राज्य के पुलिस को भी है।

इन आरोपियों से दूसरे राज्य की पुलिस भी करेगी पूछताछ
कोंडागांव एसपी सुजित कुमार ने बताया कि, अंर्तराज्यीय गिरोह की तलाश महराष्ट्र पश्चिम बंगाल व मध्यप्रदेश को भी हैं इसलिए ये गिरफ्तार आरोपियों को इन तीनों राज्यों की पुलिस भी रिमांड के लिए अपने राज्य ले जाएगी।

Chhattisgarh Crime News के लिए यहाँ CLICK करें।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned