scriptAttack team stop illegal mining: employees assaulted, one serious | अवैध खनन रोकने गई टीम पर हमला: ठेका कंपनी के कर्मचारियों से मारपीट, एक गंभीर, चार घायल, गाडिय़ों में भी हुई तोडफ़ोड़ | Patrika News

अवैध खनन रोकने गई टीम पर हमला: ठेका कंपनी के कर्मचारियों से मारपीट, एक गंभीर, चार घायल, गाडिय़ों में भी हुई तोडफ़ोड़

locationहोशंगाबादPublished: Nov 16, 2021 11:39:10 am

Submitted by:

devendra awadhiya

-जिले में रेत माफिया चालू नहीं होने दे रहे वैध खदानें, कर रहे खुद अवैध खनन, दूसरी बार हुआ होरियापीपर में कर्मचारियों से मारपीट, अन्य जगह भी हो चुके हमले

अवैध खनन रोकने गई टीम पर हमला: ठेका कंपनी के कर्मचारियों से मारपीट, एक गंभीर, चार घायल, गाडिय़ों में भी हुई तोडफ़ोड़
अवैध खनन रोकने गई टीम पर हमला: ठेका कंपनी के कर्मचारियों से मारपीट, एक गंभीर, चार घायल, गाडिय़ों में भी हुई तोडफ़ोड़
होशंगाबाद. जिले की होरियापीपर रेत खदान पर सोमवार दोपहर करीब एक बजे जमकर झगड़ा हुआ। रेत कंपनी की फ्लाइंग स्कॉट की टीम को अवैध रेत उत्खनन की सूचना मिली थी। जिसके बाद कंपनी के कर्मचारी अवैध रेत उत्खनन रोकने खदान पर पहुंचे। रेत उत्खनन रोकने पहुंचे कर्मचारियों पर पहले से ही घात लगाकर बैठे रेत माफिया के लोगों ने लाठी और डंडों से हमला कर दिया। हमले में कंपनी के पांच कर्मचारियों को गंभीर चोटें आई है। साथ ही तीन गाडिय़ों में भी जमकर तोडफ़ोड़ की गई। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। कंपनी के अन्य कर्मचारियों को हमले की सूचना मिलते ही तत्काल मौके पर दो अन्य गाडिय़ां भेजी गई और तुरंत घायलों को इलाज के लिए नर्मदा अपना अस्पताल में भर्ती कराया है। कर्मचारियों ने तत्काल घटना की जानकारी रामपुर थाना पुलिस को दी।
नर्मदा अस्पताल में चल रहा घायलों का इलाज
रेत ठेका कंपनी आरकेटीसी के राघवेंद्र सिंह राजपूत ने बताया कि सभी घायलों को कंपनी के वाहनों से इलाज के लिए नर्मदा अपना अस्पताल में भर्ती कराया है। मारपीट में कंपनी के आधा दर्जन से अधिक कर्मचारी अमृत सिंह, करन सिंह, अमरीश सिंह, संजय, राजाराम, धीरज, कृष्णा घायल हुए हंै। जिसमें से अमृत सिंह की हालत गंभीर बनी हुई है। राजपूत ने बताया कि मारपीट करने वालों में प्रदीप कीर, नीलेश कीर, मयंक कीर, संतोष, विनोद और बाबा के नाम सामने आ रहे हैं। पुलिस अस्पताल पहुंची है और घायलों के बयान दर्ज कर रही है।

पिछले माह भी तीन बार हो चुका है विवाद
बीते कुछ माह से होरियापीपर रेत खदान काफी विवादों में है। विवाद के चलते कंपनी ने खदान को बंद कर दिया था। बावजूद इसके होरियापीपर और उसके आसपास रहने वाले राजनीतिक संरक्षण प्राप्त दबंग अवैध कारोबारी खदान से रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन कर रहे हैं। राजनीतिक संरक्षण प्राप्त होने के चलते पुलिस के आला अधिकारी भी इन दबंगों पर शिकंजा कसने से डर रहे हैं। आलम यह है कि बीते सवा महीने में यह चौथा विवाद है, लेकिन इन पूरे विवादों में अपराधियों को पकडऩे में पुलिस के हाथ पूरी तरह से खाली हैं। पुलिस व खनिज विभाग इन अवैध कारोबारियों पर कोई अंकुश नहीं लगा पा रहा है।

एक माह से चल रहा है खदान का विवाद
होरियापीपर रेत खदान पर पिछले एक माह से विवाद चल रहा है। कुछ अवैध कारोबारी खदान को चालू नहीं करने दे रहे। पिछले माह भी मुकद्दमों एवं स्थानीय मजदूरों के बीच विवाद और मारपीट के बाद से ही खदान बंद चल रही है। सोमवार को फिर मारपीट की घटना हो गई। पिछले महीने भी तीन बार कंपनी कर्मचारियों पर हमले हो चुके हैं। इटारसी, रसूलिया और डोंगरवाड़ा रायल्टी नाके पर मारपीट की जा चुकी है। इनके आरोपियों को पुलिस नहीं पकड़ पाई है।
......

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

सिर्फ 15 इंच जमीन के लिए चाची ने नाबालिग भतीजी को जिंदा जलायाएक दिसंबर से बदल जाएंगे ये नियम, घट सकता है जेब का बोझFIFA 2022 : मोरक्को से हारने पर बेल्जियम में दंगा, पथराव के दौरान दागे आंसू गैस के गोले, कई गिरफ्तारबाबा रामदेव के बयान पर भाजपा सांसद का ट्वीट, जाको प्रभु दारुण दुख देही, ताकि मत पहले हर लेहीराजस्थान: पार्टी में फूट का डर से बैकफुट पर कांग्रेस, गहलोत खेमा शांत, पायलट समर्थक मुखरगुजरात चुनाव में पीएम मोदी का धुआंधार प्रचार आज करेंगे चार रैलियांश्रद्धा मर्डर केस: आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट आजअनमोल का दिल अहमदाबाद में धड़केगा, लिवर इंदौर के मरीज को लगेगा, पांच लोगों को मिलेगा नया जीवन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.