scriptCouncilors are installing lights worth lakhs at their own expense. St | पार्षद स्वयं के खर्चे पर लगावा रहे लाखों की लाइटें.नगर पालिका के पास लाइटों का स्टॉक खत्म | Patrika News

पार्षद स्वयं के खर्चे पर लगावा रहे लाखों की लाइटें.नगर पालिका के पास लाइटों का स्टॉक खत्म

locationनर्मदापुरमPublished: Jul 03, 2023 10:54:47 pm

Submitted by:

Jitendra Verma

नर्मदापुरम. बारिश शुरू होते ही नगर के कई वार्डो में स्ट्रीट लाइटें बंद होने से लोग परेशान हैं। शाम होते ही अंधेरे में डूबी सडक़ों से निकलना नागरिकों के परेशानी बन गया है। नगर पालिका के पास नई लाइटें का स्टॉक नहीं होने के कारण लोगों को सुविधा नहीं मिल रही है। नपा ने नई लाइटों की आपूर्ति के लिए रेट बुलाए लेकिन वर्क आर्डर जारी नहीं के कारण आपूर्ति नहीं हो पा रही है। हालत यह है कि पार्षद लगातार लाइटें लगाने की मांग कर रहे । इसपर नपा की तरफ से काई कार्रवाई नहीं हो रही है। परेशानी होकर पार्षदों ने अपन

पार्षद स्वयं के खर्चे पर लगावा रहे लाखों की लाइटें.नगर पालिका के पास लाइटों का स्टॉक खत्म
नर्मदापुरम. बारिश शुरू होते ही नगर के कई वार्डो में स्ट्रीट लाइटें बंद होने से लोग परेशान हैं। शाम होते ही अंधेरे में डूबी सडक़ों से निकलना नागरिकों के परेशानी बन गया है। नगर पालिका के पास नई लाइटें का स्टॉक नहीं होने के कारण लोगों को सुविधा नहीं मिल रही है। नपा ने नई लाइटों की आपूर्ति के लिए रेट बुलाए लेकिन वर्क आर्डर जारी नहीं के कारण आपूर्ति नहीं हो पा रही है।
जानकारी के मुताबित 33 वार्डो के शहर मेूं नगर पालिका के गलि मोहल्लों और मुख्य मार्गो पर लगभग 10 हजार स्ट्रीट लाइटें लगी हैं। बारिश और हवा के कारण रोजाना स्ट्रीट लाइटें बंद हो रही हैं। हालत यह है कि प्रतिदिन लगभग 20 से 25 शिकायतें नपा की बिजली शाखा को मिल रही है लेकिन नई पावर सेवर, रॉड और टियूबलाइट नहीं होने के कारण लाइटों को बदलने का काम लगभग बंद पड़ा है। बताया जाता र्ह कि लाइटों की आपूर्ति करने के लिए नगर पालिका ने ठेकेदारों से रेट बुलाए थे। इसमें अभी तक किसी को भी वर्क आर्डर जारी नहीं हुआ हैे। इसलिए स्ट्रीट लाइटों को बदलने का काम बंद पउ़ा है।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.