scriptnarmadapuram | जलमंच के सामने घाट पर बैठने के लिए जारी होंगे 150 पास, 14 को होगी अतिथियों की फाइनल | Patrika News

जलमंच के सामने घाट पर बैठने के लिए जारी होंगे 150 पास, 14 को होगी अतिथियों की फाइनल

locationनर्मदापुरमPublished: Feb 10, 2024 09:36:24 pm

Submitted by:

rajendra parihar

शनिवार को नर्मदा जंयती, गौरव दिवस व रामजी बाबा मेले की रूपरेखा के संबंध में सर्किट हाउस में हुई बैठक

जलमंच के सामने घाट पर बैठने के लिए जारी होंगे 150 पास, 14 को होगी अतिथियों की फाइनल
जलमंच के सामने घाट पर बैठने के लिए जारी होंगे 150 पास, 14 को होगी अतिथियों की फाइनल
नर्मदापुरम. 15 फरवरी से नर्मदा जयंती महोत्सव मनाया जाएगा। हालांकि मुख्य कार्यक्रम 16 फरवरी को होगा। इस बार जलमंच पर बैठने वाले वाले लोगों के साथ ही जलमंच के सामने घाट पर बैठने वाले लोगों के लिए पास जारी किए जाएंगे। जलमंच पर बैठने वाले अतिथियों की संख्या जलमंच की भार सहने की क्षमता के आधार पर ही 14 फरवरी को निर्धारित होगी। वहीं जलमंच के सामने घाट पर बैठने वाले 150 लोगों के लिए पास जारी किए जाएंगे। पहली बार जलमंच पर शहर के सभी 33 वार्ड के पार्षदों को भी बैठने की जगह मिलेगी। शनिवार को इस संबंध में सर्किट हाउस में विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा की मौजूदगी में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान नपा के अधिकारियों ने नर्मदा जयंती महोत्सव, गौरव दिवस व रामजी बाबा मेले की रूपरेखा के बारे में जानकारी दी। बैठक में नपाध्यक्ष नीतू यादव, एडीएम डीके सिंह, जिपं सीईओ एसएस रावत, विधायक प्रतिनिधि महेंद्र यादव, जनपद अध्यक्ष भूपेंद्र चौकसे समेत जिला प्रशासन, गणमान्य नागरिक, पार्षद सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।
दो दिवसीय होगा जयंती महोत्सव
नर्मदा जयंती महोत्सव दो दिन मनेगा। 16 फरवरी को मुख्य कार्यक्रम होगा। जलमंच से मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री मोहन यादव नर्मदा का पूजन अभिषेक करेंगे। इस दिन नर्मदापुरम शहर का गौरव दिवस भी मनाया जाएगा। 15 को मंगलाचरण के साथ उत्सव की शुरू होगी। पूरे शहर को सजाया जाएगा। प्रवेश मार्ग पर स्वागत द्वार लगाया जाएगा। मां नर्मदा के सभी घाट रोशनी से जगमग होंगे। रामजी बाबा मेला 22 फरवरी से 5 मार्च तक आयोजित होगा। पारदर्शी प्रक्रिया से मेले में दुकानों का आवंटन 22 फरवरी से पहले करने के निर्देंश दिए गए है।
ड्रॉप गेट का बड़ा होगा आकार
सराफा चौक, जिला अस्पताल और पुराने तहसील कार्यालय के पास ड्रॉप गेट बनाए जाएंगे। इन गेटों का आकार गत वर्षों के मुकाबले बड़ा बनाया जाएगा। जिससे महोत्सव के दौरान लोगों को परेशानी न हो। साथ ही घाट जाने वाले मार्ग पर सेंट्रल बैंक, सराफा चौक, एकता चौक व मेनबोर्ड चौराहे के बेरिकेडिंग की जाएगी। बेरिकेड के बाद सिर्फ पैदल ही लोगों को प्रवेश दिया जाएगा।
अलग-अलग होगी पार्किंग
नर्मदा जयंती पर यातायात व्यवस्था बदली रहेगी। बड़े वाहनों को एसएनजी ग्राउंड पर ही खड़े कराया जाएगा। वहीं छोटे वाहनों को एकता चौक के पास सेठ गुरुप्रसाद स्कूल प्रांगण में पार्किंग की व्यवस्था होगी। सेठानी घाट सहित अन्य क्षेत्रों मेें 15 फरवरी को सुबह 10.30 बजे से ही प्रशासन पार्किंग व बेरिकेडिंग व्यवस्था को लागू कर देगा।

ट्रेंडिंग वीडियो