scriptNarmadapuram's sweet watermelon is giving water to other states | नर्मदापुरम का मीठा-रसीला तरबूज दूसरे राज्यों को भी दे रहा तरावट | Patrika News

नर्मदापुरम का मीठा-रसीला तरबूज दूसरे राज्यों को भी दे रहा तरावट

-जिले की थोक फल मंडी से रोजाना जा रहा 50 गाड़ी, किसानों को मिल रहे अच्छे दाम, नर्मदा एवं तवा के किनारे डंगरबाड़ी में अच्छी पैदावार निकली है इस बार

नर्मदापुरम

Published: April 07, 2022 12:34:55 pm

देवेंद्र अवधिया
नर्मदापुरम. जिले में नर्मदा और तवा के किनारे रेत बाडिय़ों में उत्पादित मीठे-रसीले लाल तरबूजों की इन दिनों आईटीआई रोड किनारे स्थित कृषि मंडी परिसर की थोक फल मंडी में बंपर आवक हो रही है। रोजाना पचास से अधिक गाडिय़ों से यहां तरबूज की खैप लेकर किसान थोक व्यापारियों को बेचने के लिए आ रहे हैं। किसानों के मुताबिक इस बार तरबूज की अच्छी पैदावार हो रही है, लेकिन खरबूज बेहद कम मात्रा में निकल रहा है। इसलिए अभी मंडी में यह नहीं आ रहा। गर्मी के मौसम में लोगों को तरबूज तपन-उमस से राहत दे रहा है। इसके मीठे स्वाद के कारण इसकी खासी डिमांड बनी हुई है। मंडी के व्यापारियों के जरिए जिले एवं प्रदेश के बाहर के राज्यों में भी बड़े व्यापारी अपने यहां तरबूज की गाडिय़ां बुला रहे हैं।

इन क्षेत्रों में पहुंच रहा तरबूजा
फल मंडी के थोक व्यापारी घूडऩ बाबा ने बताया कि जिले के नर्मदा-तवा नदी के किनारे व केसला-सुखतवा में डंगरबाडिय़ों में उत्पादित तरबूज की डिमांड प्रदेश के राजगढ़, ब्यावरा, छतरपुर, टीकमगढ़, भोपाल-इंदौर के साथ ही यूपी में भी बनी हुई है। यूपी के झांसी, इटावा, महोबा, ऐटा तक तरबूज की खैप गाडिय़ों से पहुंचाई जा रही है।

इसलिए पसंद कर रहे इस फल को
किसानों एवं व्यापारियों के मुताबिक नर्मदापुरम के तरबूज फल को गर्मी में इसलिए पसंद किया जा रहा क्योंकि ये बेहद लाल रंग का होने के साथ स्वाद में मीठा-रसीला होता है। इसके सेवन से तपन-उमस से राहत, तरावट मिलती है। स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसके दाम भी 20 रुपए किलो हैं, इसलिए लोग इसे आसानी से खरीद रहे हैं। नर्मदा के तरबूज को काफी महत्व दिया जाता है।
नर्मदापुरम का मीठा-रसीला तरबूज दूसरे राज्यों को भी दे रहा तरावट
नर्मदापुरम का मीठा-रसीला तरबूज दूसरे राज्यों को भी दे रहा तरावट
हाइवे किनारे, ढाबे-रेस्टोरेंट में भी डिमांड
नर्मदा-तवा नदी के इस मीठे तरबूज फल की जिले से लेकर प्रदेश के हाइवे किनारे एवं इससे जुड़े ढाबों, रेस्टोरेंट और पर्यटन निगम की होटलों में भी डिमांड बनी हुई है। यहां लोगों को भोजन एवं नाश्ते के साथ तरबूज भी सर्व किया जा रहा है।

किसान बोले- तरबूज के अच्छे दाम मिल रहे
सुखतवा से आए किसान रमेश ने बताया कि उनकी इस बार की तरबूज डंगरबाड़ी में फसल अच्छी निकली है। वे रोजाना गाड़ी से तरबूज को बेचने थोक फल मंडी नर्मदापुरम में आ रहे हैं। डंगरबाड़ी खेती कभी घाटा कभी मुनाफा की रहती है। बीते बीते दो साल से कोरोना संक्रमण के लॉकडाउन के कारण घाटा झेलना पड़ा था, लेकिन इस बार के सीजन में तरबूज के अच्छे दाम मिल रहे हैं। डांडीवाड़ा के विशन, विष्णु ने बताया कि वह तरबूज की खेती करते हैं। इस बार अच्छी पैदावार होने से इसकी मंडियों में आवक के साथ दाम भी अच्छे मिल रहे हैं। माल-भाड़ा की कोई समस्या नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.