scriptPolice stations and courts start only after worshiping Bajrangbali | बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट | Patrika News

बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट

संकट मोचन बजरंगबली के लिए मां नर्मदा की नगरी में जगह-जगह मंदिर हैं। जिनमें शहरवासियों की अटूट आस्था है। आईए जानते हैं कुछ चुनिंदा मंदिरों से जुड़ी रोचक बातें।

नर्मदापुरम

Updated: April 16, 2022 08:50:28 am

नर्मदापुरम. संकट मोचन बजरंगबली के लिए मां नर्मदा की नगरी में जगह-जगह मंदिर हैं। जिनमें शहरवासियों की अटूट आस्था है। इसी तरह थाना परिसरों में भी हनुमानजी सीनियर कोतवाल के रूप में विराजमान हैं। यहां कामकाज शुरू करने से पहले ड्यूटी पर आने वाले अधिकारी-कर्मचारी मत्था टेकना नहीं भूलते है। आईए जानते हैं कुछ चुनिंदा मंदिरों से जुड़ी रोचक बातें।

बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट
बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट
hanuman jaynti

कोर्ट परिसर: पीपल के पेड़ से निकले
कोर्ट स्थापना के दो साल बाद पीपल के पेड़ के नीचे श्रीहनुमानजी का प्राकट्य हुआ। वरिष्ठ अधिवक्ता अखिलेश मिश्रा बताते हैं कि दक्षिण मुखी छोटी मढिय़ा तैयार करके मूर्ति को स्थापित किया गया। बाद में जीर्णोद्धार कर इसे भव्य मंदिर का स्वरूप दिया।

बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट

27 साल से लाइन में हो रही सेवा
जिला पुलिस लाइन में 1995 में पुलिसकर्मियों ने हनुमानजी की छोटी सी मढिय़ा का निर्माण किया था। 2015 में जीर्णोद्धार कर इसे भव्य स्वरूप दिया गया। ड्यूटी करने से पहले भगवान को मत्था टेकने व दर्शन का नियम बन गया है। हनुमान जयंती पर भी धार्मिक अनुष्ठान होंगे।

बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट

अजाक थाना: मत्था टेककर काम
जिला अजाक थाना परिसर में गेट के पास हनुमान मंदिर में अधिकारी-कर्मचारी यहां मत्था टेककर काम शुरू करते हैं। इससे किसी तरह का संकट नहीं रहता और कामकाज में ऊर्जा बनी रहती है। पं. दीपक शर्मा बताते हैं कि जन्मोत्सव पर हनुमान को सिंदूरी चोला चढ़ेगा।

बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट

इटारसी हनुमान धाम: ट्रेन चालक हॉर्न बजाकर करते हैं सुखद यात्रा की कामना

इटारसी. नगर में ओवरब्रिज के नीचे ब्रिटिश काल में बना हनुमान धाम क्षेत्र के लोगों के लिए आस्था का केंद्र है। यहां की विशेषता है कि ट्रेन गुजरने के समय चालक हॉर्न बजाकर बाबा को सलामी देते हुए सुखद और सकुशल यात्रा की कामना करते हैं। हनुमान धाम मंदिर समिति सदस्य लखन बैस बताते हैं कि मंदिर 100 साल से भी अधिक पुराना है। रेल के लिए पटरी बिछाने के दौरान अग्रेजों ने मंदिर को हटाने का प्रयास किया था लेकिन वे विफल रहे। इसकी बाद चर्चा आसपास फैली तो यहां के निवासी दुर्गाप्रसाद मुकदम ने इस स्थान को मढिय़ा का रूप दे दिया। यहां दूर-दूर से श्रद्धालु आने लगे। आज यह सिद्ध स्थान बन गया है। बैस बताते हैं कि लोग इस जगह को गेट वाले बाबा के नाम से जानते थे।

बजरंगबली को मत्था टेकने के बाद ही शुरू होते हैं थाने और कोर्ट

बालागंज स्थित हनुमान: : करते
हैं भक्तों की रक्षा, रखते हैं ध्यान
बालागंज स्थित हनुमान मंदिर लोगों की आस्था का केन्द्र है। कहते हैं भगवान अपने भक्तों का ध्यान रखते हैं और उनकी रक्षा करते हैं। ऐसा ही मामला सामने आया यहां भी। दरअसल कुछ साल पहले आकाशीय बिजली मंदिर में लगे पेड़ पर गिरी। आसपास घनी बस्ती होने के बाद भी बिजली पेड़ से होती हुई जमीन में समा गई। हादसे में किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। इसी तरह एक बार चोर मंदिर से छत्र चुराकर ले गए थे। किसी बात को लेकर उनके बीच विवाद हो गया। इसी बीच अचानक पुलिस भी मौके पर पहुंची पूरा माजरा समझकर पुलिस ने चोरों को गिरफ्तार कर लिया और मंदिर का का छत्र वापस मंदिर में पहुंच गया। महाबली हनुमान एक बार चोला भी छोड़ चुके हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.