script10 years rigorous imprisonment for rape accused | दुष्कर्म के आरोपी को 10 वर्ष का कठोर कारावास | Patrika News

दुष्कर्म के आरोपी को 10 वर्ष का कठोर कारावास

विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट ने दुष्कर्म के प्रकरण में आरोपी रामाधर जंघेला पिता रामनारायण जंघेला निवासी ग्राम विहारिया थाना सिवनी को अलग अलग धाराओं में 10 वर्ष का कठोर कारावास एवं 3000 रुपए जुर्माना और 5 वर्ष के कठोर कारावास एवं 2000 रुपये के जुर्माने से दंडित किया है।

नरसिंहपुर

Published: December 24, 2021 09:53:26 pm

नरसिंहपुर. विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट ने दुष्कर्म के प्रकरण में आरोपी रामाधर जंघेला पिता रामनारायण जंघेला निवासी ग्राम विहारिया थाना सिवनी को अलग अलग धाराओं में 10 वर्ष का कठोर कारावास एवं 3000 रुपए जुर्माना और 5 वर्ष के कठोर कारावास एवं 2000 रुपये के जुर्माने से दंडित किया है। जिला अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी ने बताया है कि अभियोक्त्री का भाई चंचलेश जब 9 मार्च २०17 को शाम लगभग 6.30 बजे काम कर अपने घर आया तो उसे अपनी बहन अभियोक्त्रीे घर पर नहीं मिली। उसने अपनी बहन को घर के आसपास अपने रिश्तेदारों में खोजा और जब उसे अपनी बहन की कोई जानकारी नहीं मिली तो उसने 22 मार्च को थाना स्टेजशगंज में अपनी बहन की गुमशुदी की रिपोर्ट दर्ज करायी । 4 मई को दस्तयाब अभियोक्त्री ने अपने कथनों में बताया कि जब वह अपने पिता का इलाज कराने बटकाखापा गई थी तब उसकी मुलाकात रामाधर से हुई थी । जहांं उन्होंने एक दूसरे का मोबाइल नम्बर लिया और फिर बात करने लगे। आरोपी रामाधर ने अभियोक्त्री से कहा कि वह उसे पसंद करता है और शादी करना चाहता है। आरोपी रामाधर,अभियोक्त्री के घर आया और उसे छिंदवाड़ा ले गया और फिर दिल्ली ले गया। दिल्ली में अभियोक्त्री आरोपी रामाधर के साथ लगभग दो माह किराए के मकान में रही। जहांं पर आरोपी रामाधर ने अभियोक्त्री के साथ गलत काम किया। कुछ समय बाद आरोपी रामाधर ने अभियोक्त्री से कहा कि उसकी बहन की शादी होने वाली है तो आरोपी रामाधर अभियोक्त्री को अपनी बड़ी मां के घर छिंदवाड़ा में छोड़ कर चला गया। सूचनाकर्ता अभियोक्त्री द्वारा लेख कराई गई रिपोर्ट के आधार पर पुलिस थाना स्टेशनगंज में अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया। विवेचना उपरांत अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। लीना दीक्षित विशेष न्यायाधीश ने अभियोक्त्री की साक्ष्य, एवं डीएनए रिपोर्ट,वैज्ञानिक साक्ष्य के आधार पर आरोपी को उक्त दण्ड से दण्डित किया। अभियोजन की ओर से प्रकरण का संचालन अति. जिला लोक अभियोजन अधिकारी प्रदीप भटेले ने किया।
----------------------
In the case both the parties had agreed but the court sentenced
In the case both the parties had agreed but the court sentenced

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

क्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबVideo: बॉम्बे हाई कोर्ट के जज के चैंबर में मिला 5 फीट लंबा सांप, वन विभाग की टीम ने किया रेस्क्यूदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारUP Assembly Elections 2022 : एकाएक राजनीति में उतरकर इन महिलाओं ने सबको चौंकाया, बटोरी सुर्खियांभारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में Adani Group की हो सकती है धमाकेदार एंट्री, कंपनी ने ट्रेडमार्क किया दायरशहीद हेमू कालाणी: आज भी हैं युवा वर्ग के लिए आदर्शDriving License पर पता बदलने के लिए अब नहीं पड़ेगी RTO के चक्कर लगाने की जरूरत, मिनटों में समझे प्रोसेसइंडिया गेट पर जहां लगेगी सुभाष चंद्र बोस की मूर्ति, जानिए वहां पहले किसकी थी प्रतिमा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.