script20 years rigorous imprisonment for rape accused | बलात्कार के आरोपी को 20 वर्ष का सश्रम कारावास | Patrika News

बलात्कार के आरोपी को 20 वर्ष का सश्रम कारावास

चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश एवं विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट रश्मिना चतुर्वेदी के न्यायालय ने बलात्कार के प्रकरण में आरोपी भागीरथ चौधरी पिता ठाकुर प्रसाद चौधरी निवासी नोनी भागड़ थाना गोटेगांव को दोषसिद्ध पाते हुए धारा 366 क भादवि में 7 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 1000 रुपए अर्थदण्ड तथा पाक्सो एक्ट में 20 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 3000 रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किया है

नरसिंहपुर

Published: July 12, 2022 09:58:27 pm

नरसिंहपुर.चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश एवं विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट रश्मिना चतुर्वेदी के न्यायालय ने बलात्कार के प्रकरण में आरोपी भागीरथ चौधरी पिता ठाकुर प्रसाद चौधरी निवासी नोनी भागड़ थाना गोटेगांव को दोषसिद्ध पाते हुए धारा 366 क भादवि में 7 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 1000 रुपए अर्थदण्ड तथा पाक्सो एक्ट में 20 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 3000 रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किया है।अभियोजन के अनुसार पीडि़ता का पिता मजदूरी करता है 10 जुलाई 2020 को सुबह करीब 10 बजे वह अपनी बकरियां लेकर चराने गया था। घर में उसकी पत्नी एवं दोनों बच्चे थे, वह शाम करीब ५ बजे बकरियां चराकर घर वापस आया तो पत्नी ने बताया कि उसकी मंझली लडक़ी सुबह करीबन 11 बजे घर से पैसा निकालने भारतीय स्टेट बैंक गोटेगांव जाने की कहकर लडक़ा के साथ गोटेगांव गई थी । लडक़ा 12 बजे अकेले घर वापस आ गया पर बेटी नहीं लौटी। उसने बताया कि दीदी ने कहा कि तुम घर चलो मैं अभी आती हूं । जो अभी तक घर वापस नहीं आई है। जिसकी तलाश गोटेगांव एवं रिश्तेदारों में की पर कहीं पता नहीं चला। उसकी लडक़ी को कोई अज्ञात व्यक्ति बहला फुसलाकर कहीं ले गया है । थाना गोटेगांव में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। अनुसंधान के दौरान दस्तयाब पीडि़ता ने अपने न्यायालयीन कथन में बताया कि वह अपने भाई के साथ अस्पताल गोटेगांव इलाज कराने के लिए गई थी। बैंक से पैसे निकालने के लिए आई थी। उसने अपने भाई से कहा था कि तुम घर जाओ मैं आती हूं, फिर वह सरकारी अस्पताल के सामने रुक गई थी। वहां उसका रिश्तेदार भागीरथ आया और उसने कहा कि घूमने जबलपुर चल रही हो तो उसने कहा कि मैं नही जा रही हूं। मुझे बैंक से रुपए निकलवाने जाना है । जिस पर अभियुक्त ने कहा कि मैं तुम्हारी मम्मी को फोन लगा दूंगा, तुम चलो तो वह अभियुक्त के साथ मोटरसाइकिल पर बैठकर जबलपुर चली गई थी। जबलपुर में अभियुक्त ने उसे जिस मोहल्ले में रखा था, उसका नाम उसे नहीं मालूम। शाम साढ़े 4 बजे उसने अभियुक्त से कहा कि वापस घर चलते हैं तो अभियुक्त ने कहा था कि यहीं पर रहना है । अभियुक्त ने उसे जबलपुर में 7-8 दिन तक एक मकान में रखा था और वहां पर उसने उसके साथ 5 बार जबरदस्ती गलत काम किया । वह अभियुक्त से कहती थी कि मुझे छोड़ दो तो अभियुक्त कहता था कि मैं तुम्हें जाने नहीं दूंगा। जबलपुर जाने के 4-5 दिन बाद उसने एक दिन अपनी मम्मी को फोन लगाया था, तो अभियुक्त ने उसकी मां से कहा था कि पहले रिपोर्ट कटाओ तब लडक़ी को भेजेंगे। उसी रात गोटेगांव पुलिस वहां पहुंची और उन्हें गोटेगांव थाने लेकर आई । अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया । अभियोजन की ओर से प्रस्तुत किए गए साक्ष्य एवं तर्कों को दृष्टिगत रखते हुए न्यायालय ने आरोपी के विरुद्ध मामला सिद्ध होना पाया और आरोपी को उक्त सजा से दंडित किया। प्रकरण में विशेष लोक अभियोजक संगीता दुबे ने पैरवी की।
---------------------------------
फोटो-१
नेशनल लोक अदालत को लेकर न्यायिक अधिकारियों की बैठक आयोजित
नरसिंहपुर. जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं प्रधान जिला न्यायाधीश एमके शर्मा की अध्यक्षता में नेशनल लोक अदालत का आयोजन आज किया जाएगा। इस संबंध में मंगलवार को जिला स्थापना के न्यायाधीशों के साथ-साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से तहसील न्यायालयों के समस्त न्यायाधीशों की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में प्रधान जिला न्यायाधीश ने प्रत्येक न्यायाधीश से चर्चा कर लंबित प्रकरण जो आपसी राजीनामा योग्य हंै उन्हें चिन्हित किये जाने व प्रभावी प्री-सिटिंग आयोजित कर प्रकरणों के सौहाद्र्रपूर्ण निराकरण हेतु विशेष निर्देश दिए। साथ ही बैठक में एनआई एक्ट 138, एमएसीटी, विभिन्न बैकों एवं नगर पालिका, विद्युत विभाग, बीएसएनएल इत्यादि से संबंधित प्रकरणों के अधिक से अधिक संख्या में निराकरण हेतु दिशाा निर्देश न्यायिक अधिकारियों को दिए। बैठक में सुदीप श्रीवास्तव, प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय, जसवंत सिंह, जिला न्यायाधीश एवं नोडल अधिकारी नेशनल लोक अदालत एवं विवेक बुखारिया, सचिव जिला प्राधिकरण द्वारा न्यायाधीशों से उक्त नेशनल लोक अदालत में पिछली नेशनल लोक अदालत में निराकृत प्रकरणों से अधिक प्रकरणों के निराकरण हेतु अनुरोध किया गया। इस अवसर पर जिला न्यायाधीश अखिलेश धाकड़, रश्मिना, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट अर्पणा आर शर्मा, जिला रजिस्ट्रार मंजुल सिंह सहित समस्त न्यायाधीश उपस्थित रहे।
court.jpg
court

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

पीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरसुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टीसुप्रीम कोर्ट से नूपुर शर्मा को बड़ी राहत, सभी FIR को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देशBihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएमनाम लिए बिना PM मोदी पर नीतीश का हमला, बोले- '2014 वाले 2024 में रहेंगे तब न, विपक्ष में हमलोग आ गए हैं अब सब होगा'Maharashtra: महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार के बाद नाराजगी की खबर, CM से मुलाकात के बाद बच्चू कडू ने कही ये बातBihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली सीएम पद की शपथ, तेजस्वी बने डिप्टी CM, कैबिनेट विस्तार बाद में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.