लॉक डाउन में कर्नाटक में फंसे जवाहर नवोदय के 24 छात्र छात्राओं की हुई वापसी

जवाहर नवोदय विद्यालय बोहानी के 24 छात्र छात्राएं एक वर्ष के लिए शैक्षणिक स्थानांतरण पर कर्नाटक के जवाहर नवोदय विद्यालय सींगोड़ जिला चिकमंगलूर गए थे। लॉक डाउन के चलते अचानक ट्रेन सेवा बंद होने के कारण वहीं फंस गए थे।

By: ajay khare

Published: 05 May 2020, 07:18 PM IST

गाडरवारा. जवाहर नवोदय विद्यालय बोहानी के 24 छात्र छात्राएं एक वर्ष के लिए शैक्षणिक स्थानांतरण पर कर्नाटक के जवाहर नवोदय विद्यालय सींगोड़ जिला चिकमंगलूर गए थे। लॉक डाउन के चलते अचानक ट्रेन सेवा बंद होने के कारण वहीं फंस गए थे। पालकों एवं छात्र छात्राओं की मांग को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर दीपक सक्सेना ने छात्र छात्राओं को वापस बुलाने की कवायद शुरू की। सांसद राव उदय प्रताप सिंह एवं कलेक्टर के विशेष प्रयासों से उक्त छात्र, छात्राएं बस द्वारा नवोदय विद्यालय बोहानी पहुंचे। विद्यालय पहुंचकर छात्र छात्राओं के चेहरों पर मुस्कान आ गई। यहां मेडिकल परीक्षण में सभी बच्चे स्वस्थ्य पाए गए । उन्हें विद्यालय में 14 दिन के लिए क्वॉरंटीन किया गया है।
घर वापसी के लिए मदद का इंतजार कर रहे मजदूर -तेंदूखेड़ा में फ ंसे छत्तीसगढ़ राज्य के मुंगेली जिले के लगभग 17 मजदूर घर वापसी की बाट जोह रहे हैं। एक तो लॉक डाउन ने उनके समक्ष रोटी का संकट पैदा कर दिया है तो दूसरी ओर उनके ठेकेदार द्वारा समय पर मजदूरी का भुगतान न करने के कारण उनके समक्ष पेट भरने के लाले पड़ गये हैं। मजदूर कलेश्वर ने बताया कि 12 महिला पुरुषों के साथ 5 छोटे छोटे बच्चे हंै। ठेकेदार से बारंबार अनुरोध करने के बावजूद भी न तो उसके द्वारा मजदूरी का ही भुगतान किया गया, और न ही घर वापसी के लिए वाहनों का ही प्रबंध किया गया है। उक्त मजदूर अपनी बेबसी के साथ शासन की ओर उम्मीदों की टकटकी लगाये बैठे हंै कि शासन उनकी सुरक्षित घर वापसी की व्यवस्था करे। तहसीलदार एवं मुख्य नगर पालिका अधिकारी ने इनके राशन पानी की व्यवस्था कर दी है साथ ही इनकी शीघ्र घर वापसी के लिए शासन के गाईडलाईन के हिसाब से शीघ्र ही कार्रवाई का आश्वासन दिया है। घर वापसी तक इनके राशन पानी के प्रबंध के साथ ठेकेदार द्वारा मजदूरों की रोकी गई मजदूरी को भी शीघ्र दिलवाने हेतु आश्वस्त किया है। संकट की इस घड़ी में मृगन्नाथ सेवा संस्थान के प्रमुख अखंड चेतन्य बापू महाराज के द्वारा गरीब बेसहारा दिहाड़ी मजदूरों को लगातार भोजन की व्यवस्था कराई जा रही है। इसी सिलसिले में उक्त संस्थान द्वारा विगत 36 दिनों से इन मजदूरों की भोजन की व्यवस्था शाम के शाम की जाती है। उक्त मजदूर पुराने पुलिस थाना ग्राउण्ड परिसर में बन रही आवासीय कॉलोनी के निर्माण के दौरान यहां पर पहुंचे थे।

COVID-19 virus
ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned