29वां श्री राजराजेश्वरी महायज्ञ व शतचंडी यज्ञ जारी

29वां श्री राजराजेश्वरी महायज्ञ व शतचंडी यज्ञ जारी
सातदिवसीय धार्मिक अनुष्ठान का समापन १५ को

By: ajay khare

Published: 10 Feb 2018, 07:04 PM IST

29वां श्री राजराजेश्वरी महायज्ञ व शतचंडी यज्ञ जारी
सातदिवसीय धार्मिक अनुष्ठान का समापन १५ को
नरङ्क्षसहपुर/करेली-नर्मदा उत्तर तट तेंदूखेड़ा के समीप स्थित ललिता घाट हीरापुर में प्रति वर्षानुसार इस वर्ष भी 29वां श्री राजराजेश्वरी महायज्ञ,महारुद्र यज्ञ एवं शतचंडी यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। विगत 7 फरवरी से 15 फरवरी 2018 तक आयोजित कार्यक्रम में प्रतिदिन प्रात: से याज्ञिक अनुष्ठान के साथ साथ संत षण्मुखानंद महाराज के द्वारा मां राजराजेश्वरी का दिव्य पूजन भी किया जा रहा है। साथ ही प्रतिदिन अपरान्ह 2 बजे से 5 बजे तक कथा व्यास, भागवत किंकर पंडित कृष्णकांत शास्त्री तेंदूखेड़ा के द्वारा भागवत कथा महापुराण का वाचन किया जा रहा है।आयोजन की संपन्नता पर 15 फरवरी को नर्मदा दक्षिण तक भटेरा में प्रात: 10 बजे से 6 बजे तक पादुका पूजन एवं भंडारे का आयोजन रखा गया है। कार्यक्रम में श्री राजराजेश्वरी भक्त मंडल ने सभी श्रद्धालुओं से उपस्थिति की अपील की है।नर्मदा उत्तर तट तेंदूखेड़ा के समीप स्थित ललिता घाट हीरापुर में प्रति वर्षानुसार इस वर्ष भी 29वां श्री राजराजेश्वरी महायज्ञ,महारुद्र यज्ञ एवं शतचंडी यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। विगत 7 फरवरी से 15 फरवरी 2018 तक आयोजित कार्यक्रम में प्रतिदिन प्रात: से याज्ञिक अनुष्ठान के साथ साथ संत षण्मुखानंद महाराज के द्वारा मां राजराजेश्वरी का दिव्य पूजन भी किया जा रहा है। साथ ही प्रतिदिन अपरान्ह 2 बजे से 5 बजे तक कथा व्यास, भागवत किंकर पंडित कृष्णकांत शास्त्री तेंदूखेड़ा के द्वारा भागवत कथा महापुराण का वाचन किया जा रहा है।आयोजन की संपन्नता पर 15 फरवरी को नर्मदा दक्षिण तक भटेरा में प्रात: 10 बजे से 6 बजे तक पादुका पूजन एवं भंडारे का आयोजन रखा गया है। कार्यक्रम में श्री राजराजेश्वरी भक्त मंडल ने सभी श्रद्धालुओं से उपस्थिति की अपील की है।नर्मदा उत्तर तट तेंदूखेड़ा के समीप स्थित ललिता घाट हीरापुर में प्रति वर्षानुसार इस वर्ष भी 29वां श्री राजराजेश्वरी महायज्ञ,महारुद्र यज्ञ एवं शतचंडी यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। विगत 7 फरवरी से 15 फरवरी 2018 तक आयोजित कार्यक्रम में प्रतिदिन प्रात: से याज्ञिक अनुष्ठान के साथ साथ संत षण्मुखानंद महाराज के द्वारा मां राजराजेश्वरी का दिव्य पूजन भी किया जा रहा है। साथ ही प्रतिदिन अपरान्ह 2 बजे से 5 बजे तक कथा व्यास, भागवत किंकर पंडित कृष्णकांत शास्त्री तेंदूखेड़ा के द्वारा भागवत कथा महापुराण का वाचन किया जा रहा है।आयोजन की संपन्नता पर 15 फरवरी को नर्मदा दक्षिण तक भटेरा में प्रात: 10 बजे से 6 बजे तक पादुका पूजन एवं भंडारे का आयोजन रखा गया है। कार्यक्रम में श्री राजराजेश्वरी भक्त मंडल ने सभी श्रद्धालुओं से उपस्थिति की अपील की है।

ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned