नरसिंहपुर संभाग के40  करोड़ 37  लाख रुपए दबा कर बैठे उपभोक्ता दे रहे बिजली कंपनी को झटका

न्यूज पंच-मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के नरसिंहपुर संभाग में फरवरी 2021 की स्थिति में 40 करोड़ 37 लाख78 हजार रुपये की बकाया राशि उपभोक्ताओं पर लंबित है, इसकी वसूली में अब न केवल बिजली कंपनी के अफसरों को पसीने छूट रहे हैं बल्कि वसूली के दबाव से मैदानी स्टाफ के दिमाग की बत्ती गुल हो रही है।

By: ajay khare

Published: 05 Mar 2021, 11:47 PM IST

नरसिंहपुर. मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के नरसिंहपुर संभाग में फरवरी 2021 की स्थिति में 40 करोड़ 37 लाख 78 हजार रुपये की बकाया राशि उपभोक्ताओं पर लंबित है, इसकी वसूली में अब न केवल बिजली कंपनी के अफसरों को पसीने छूट रहे हैं बल्कि वसूली के दबाव से मैदानी स्टाफ के दिमाग की बत्ती गुल हो रही है। गौरतलब है कि बिजली कंपनी के मुख्यालय से अफसरों पर यह दबाव है कि वे हर हाल में 31 मार्च तक बकाया राशि वसूल कर जमा कराएं। वसूली के लिए बिजली कंपनी के अफसर बिजली सप्लाई लाइन काटने, सामान की कुर्की करने से लेकर बैंक खाते तक सीज करने की सख्त कार्रवाई कर रहे हैं। इसके बावजूद करोड़ों रुपए दबा कर बैठे हजारों उपभोक्ता स्वेच्छा से बकाया राशि जमा करने नहीं आ रहे। गौरतलब है कि जिले के दोनों संभागों नरसिंहपुर व गाडरवारा के उपभोक्ताओं पर करीब 90 करोड़ रुपये का पुराना राजस्व बकाया है, जिसमें करीब 80 फीसदी ग्रामीण क्षेत्र के हैं।

40 टीमों का गठन, कुर्की से लेकर खाते सीज करने तक की कार्रवाई
नरसिंहपुर संभाग में बिजली कंपनी द्वारा बकाया राशि की वसूली के लिए चलाए जा रहे अभियान के अंतर्गत 40 टीमों का गठन किया गया है। जो माह फरवरी 2021 की स्थिति में 40 करोड़ 37 लाख 78 हजार रुपये की बकाया राशि उपभोक्ताओं से वसूलने के लिए हर तरह के जतन कर रही है। डोर टू डोर जाकर बकायादारों से बात कर उनसे रुपए जमा कराने के लिए कार्रवाई का डर दिखाने से लेकर मनाने तक के जतन किए जा रहे हैं।वसूली हेतु गठित टीमों ने अभी तक 425 उपभोक्ताओं पर बकाया 116.04 लाख रुपए वसूलने के लिए 8 मोटर साईकिल, 40 नम्बर मोटरपंप, एवं 619 पाईप जब्त किए हैं , 227 बकायादार उपभाक्ताओं से 56 लाख की वसूली की है। 285 उपभोक्ताओं के बैंक खाते सीज किये, 823 उपभोक्ता जिनकी बकाया राशि 355.09 लाख थी, उनके परिसर में कुर्की के नोटिस चस्पा कर 175 बकायादारों से 44.40 लाख की वसूली की है। विद्युत बकाया राशि की वसूली के अभियान के तहत इस माह 500 रुपये से अधिक बकाया राशि वाले सभी उपभोक्ताओं की बिजली सप्लाई लाइन काटने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है,शुक्रवार तक 1050 बकायादार उपभोक्ताओं से 63.10 लाख बकाया वसूलने के लिए कनेक्शनों को विच्छेदित कर 35 लाख की वसूली की है।
पांच हजार बकायादारों को भेजे हैं कुर्की के नोटिस
बिजली कंपनी को जिले के दोनों डिवीजन नरसिंहपुर व गाडरवारा के ५ हजार बकायादारों से बिजली बिल का करीब ९० करोड़ रुपए वसूलना है। बिजली कंपनी के नरसिंहपुर सर्किल में अधिकांश बकायादार उपभोक्ता ग्रामीण क्षेत्रों के हैं जो बार बार नोटिस के बाद भी बिल जमा नहीं कर रहे हैं।
३ हजार उपभोक्ताओं पर ४ हजार रुपए से ज्यादा बकाया
फरवरी की स्थिति में जिन तीन हजार उपभोक्ताओं को नोटिस दिए गए उन पर 4 हजार रुपये से ज्यादा का बिजली बिल बकाया है। जबकि 10 हजार रुपए से अधिक के बकायादारों के खिलाफ कुर्की के अलावा बैंक खाते सीज करने की कार्रवाई चल रही है। गौरतलब है कि लाइन लॉस के कारण भी बढ़ते राजस्व के घाटे का असर मेंटेनेंस पर पड़ता है। दोनों डिवीजनों में 30.65 प्रतिशत लाइन लॉस है। सबसे अधिक लाइन लॉस नरसिंहपुर डिवीजन में 34.54 प्रतिशत जबकि गाडरवारा में 21.58 प्रतिशत है।
वर्जन
40 करोड़ 37 लाख ७८ हजार रुपये की बकाया राशि वसूलने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। बकाया राशि जमा कराने के लिए उपभोक्ताओं से लगातार बात भी की जा रही है
। इसके अलावा कुर्की, खाते सीज करने आदि की कार्रवाई की जा रही है।
संजय सोलंकी, एसई बिजली कंपनी

ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned