आठ साल की बच्ची संग दुष्कर्म व हत्या का आरोपी पकड़ा गया

-पुलिस ने उसे अहमदाबाद से किया गिरफ्तार
-पत्रिका ने 8 जून को चलाई थी खबर

By: Ajay Chaturvedi

Published: 10 Jun 2021, 02:40 PM IST

नरसिंहपुर. तेंदूखेड़ा थाना क्षेत्र निवासी आठ साल की बच्ची के अपहरण, दुष्कर्म व हत्या के आरोपी को पुलिस ने पकड़ लिया है। उसे अहमदाबाद से गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि बच्ची संग कुकृत्य कर उसकी हत्या करने वाले पर पुलिस ने 30 हजार रुपये का ईनाम घोषित कर रखा था।

बता दें कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने छह टीम बनाई थी। फिर भी आरोपी की गिरफ्तारी न होने से पुलिस की काफी किरकिरी हो रही थी। इस संबध में पत्रिका ने 8 जून को खबर भी चलाई थी। लेकिन इन सब पर गौर किए बिना पुलिस अपनी मुहिम में जुटी रही। नतीजा सामने है कि पुलिस ने आरोपी नितिन पटेल को अहमदाबाद से गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़ें- मासूम के अपहरण, दुष्कर्म व हत्या के चौथे दिन भी पुलिस के हाथ खाली

पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव ने मीडिया को बताया कि इस मामले में आरोपी की बरामदगी के लिए एएसपी सुनील कुमार शिवहरे, एसडीओपी तेन्दूखेडा मेहंती मरावी के मार्गदर्शन में छह पुलिस टीम गठित की गई थी। आरोपी नितिन के लापता होने से उसकी तलाश के लिए पुलिस टीमों को अलग-अलग स्थानों पर रवाना किया गया। साथ ही रेल्वे स्टेशन, बस स्टैंड व आसपास के क्षेत्रों पर सधन चैकिंग कराई गई।

आरोपी की बरामदगी के लिए तकनीकी माध्यमों का भी उपयोग किया गया। उसके संपर्क में आए लगभग 350 लोगों से पूछताछ की गई। साथ ही आसपास के क्षेत्रों एवं रेलवे स्टेशनों पर लगे सीसीटीवी कैमरों की भी जांच की गई। परिणाम स्वरूप इटारसी रेल्वे स्टेशन में लगे सीसीटीवी कैमरे मे संदेही नितिन की फुटेज मिली जिसमें वह ट्रेन में बैठकर जाता हुआ दिखाई दिया। संदेही नितिन के ट्रेन में बैठकर भागने के फुटेज सामने आने पर पुलिस अधीक्षक श्रीवास्तव स्तर से गठित टीमों को संदेही की तलाश के लिए भुसावल, बडोदा, सूरत एवं अहमदाबाद की ओर रवाना किया गया।

मामले की गंभीरता के मद्देनजर पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन जबलपुर भगवत सिंह चैाहान ने आरोपी की बरामदगी और गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले व गिफ्तार करने वाले को 30 हजार रूपये के नकद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की।

संदेही नितिन की तलाश में तकनीकी माध्यमों का उपयोग किया गया। मुखबिर तंत्र को भी सक्रीय कर आवश्यक जानकारियां एकत्रित की गईं। इसी के तहत जानकारी मिली कि संदेही नितिन वर्तमान में अहमदाबाद (गुजरात) में है। सूचना मिलते ही पुलिस टीम को तत्काल अहमदाबाद रवाना किया गया तब जा कर अहमदाबाद पुलिस की मदद से संदेही नितिन को गिरफ्त में लेने में सफलता प्राप्त मिली। संदेही नितिन की गिरफ्तारी बाद उसे थाना तेंदूखेड़ा लाकर पूछताछ की तो उसने आरोप कबूल कर लिया।

बताया जा रहा है कि आरोपी ने बच्ची कोबॉल देने के बहाने से बुलाया था। उसके बाद कमरा बंद करके दुराचार किया फिर साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से बच्ची की हत्या कर शव को छुपा दिया। अब पुलिस आरोपी नितिन को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत करने के लिए जरूरी साक्ष्य एकत्र करने में जुटी है।

बता दें कि तेंदूखेड़ा थाना क्षेत्र से अपहृत नाबालिग बच्ची की तलाश के लिए गठित पुलिस टीम ने केदार सिंह पटेल के बंद पडे़ मकान की 6 जून को तलाशी ली थी। उसी दौरान भूसे के डेर से बच्ची का शव वरामद हुआ था। उसके बाद नाबालिग बच्ची के संबंध में आसपास के क्षेत्रों में की जाकर क्षेत्रीय लोगों से पूछताछ की गई थी। पूछताछ के दौरान ही पुलिस को संदेही नितिन पटेल के उक्त घटना में संलिप्त होने का संदेह हुआ। संदेही नितिन की तलाश करने पर उसके संबंध में जानकारी प्राप्त नहीं हो रही थी एवं वह अपनी लोकेनशन बार-बार बदल रहा था जिससे पुलिस को उसका पता लगाने में विलंब हो रहा था।

उसके बाद ही तेंदूखेड़ा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी, कि आठ वर्षीय बच्ची घर से लापता है जिसके संबंध में आसपास के स्थानों और जान पहचान के लोगों से पूछने पर कोई जानकारी प्राप्त नही हुई है। शिकायत दर्ज कराने वाले ने आशंका व्यक्त की थी कि उसकी बेटी को अज्ञात व्यक्ति उसको बहला फुसलाकर ले गया है। सूचना पर तत्काल कार्रवाई करते हुए थाना तेंदूखेड़ा केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

बच्ची के अपहरण, दुष्कर्म व ह्त्या के आरोपी की तलाश से लेकर गिरफ्तारी तक में गुजरात पुलिस का योगदान सराहनीय रहा। इसमें डीसीपी करन वघेला, भापुसे, थाना वटवा, गुजरात से इंसपेक्टर एचव्ही सिसारा, सब इंसपेक्टर वी एम सतिया, सहा उप निरीक्षक विजय राज सिंह, सहा उप निरीक्षक मनोज कुमार, सहा उप निरीक्षक महेंद्र सिंह, पीसी हितेश भाई नागजी भाई, पीसी प्रतिपाल सिंह, पीसी जगदीश सिंह, पीसी मनीष कुमार, पीसी रविकुमार प्रमुख रहे। इसके अलावा नरसिंहपुर पुलिस की गठित टीम में एसडीओपी तेंदूखेड़ा मरावी, उप पुलिस अधीक्षक महिला अपराध राजेश्वरी कौरव, थाना प्रभारी करेली निरीक्षक अनिल सिंघई, थाना प्रभारी तेंदूखेड़ा श्रंगेश राजपूत, थाना प्रभारी सुआतला निरीक्षक ज्योति दिखित, थाना प्रभारी पलोहा निरीक्षक सरोज ठाकुर, थाना प्रभारी गाडरवारा निरीक्षक राजपल वघेल, उनि अक्रजय धुर्वे, उनि रूचिका सूर्यवंशी, उनि विजय सेन, प्रधान आरक्षक संजय शाह, आरक्षक बहादुर कुशवाह, आरक्षक सुदीप घाकड, आरक्षक आकाश दीक्षित, आरक्षक साईबर सेल धारा सिंह, महिला आरक्षक साईबर सेल कुमुद पाठक, आरक्षक साईबर सेल अभिषेक सूर्यवंशी की सराहनीय भूमिका रही है।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned