सेंट्रल जेल के बंदियों ने दिखाई खेल कूद में अपनी प्रतिभा

केन्द्रीय जेल में परिरुद्ध बंदियों में छिपी हुई सृजनशीलता, सकारात्मक सोच, अनुशासन, खेल भावना, एवं अच्छे स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुए प्रतिभा खोज प्रतियोगिता का आयोजन खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से किया जा रहा है।

By: ajay khare

Published: 09 Jan 2021, 09:55 PM IST

नरसिंहपुर. केन्द्रीय जेल में परिरुद्ध बंदियों में छिपी हुई सृजनशीलता, सकारात्मक सोच, अनुशासन, खेल भावना, एवं अच्छे स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुए प्रतिभा खोज प्रतियोगिता का आयोजन खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से किया जा रहा है। मुख्य अतिथि संजय कुमार गुप्ता , विशेष न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया । इस अवसर पर उन्होंने अपने उद्धबोधन में कहा कि खेल शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक विकास एवं नवीन उर्जा उत्सर्जन के लिए बहुत ही महत्पूर्ण है। बंदियों के मध्य सदभावनापूर्ण वातावरण बनाये रखने के उद्देश्य से 10 दिन तक चलने वाली प्रतिभा खोज प्रतियोगिता में क्रिकेट मैच, कैरम, शतरंज, बैडमिंटन, वॉलीबाल पेंटिंग, निबंध लेखन, महिला बंदियों के लिए मेंहदी, रंगोली, कुर्सी दौड़, जलेबी दौड़ एवं लोक नृत्य, कविता, गायन आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन में जेल अधीक्षक, शेफाली तिवारी के साथ ही जेल उप अधीक्षक, सुभाष कुमार सागर, सहायक जेल अधीक्षक संतोष हरियाल, ओंमकार झारिया, फार्मासिस्ट, वंशपति पटैल, योगेन्द्र उइके, राकेश शुक्ला शिक्षक, सुभाष जायसवाल सिलाई प्रशिक्षक के साथ ही समस्त सुरक्षा स्टाफ उपस्थित रहा ।

ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned