बिगड़ रहे हालात, कोविड वार्ड हुआ फुल नए मरीजों के लिए नहीं बेड

जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढऩे की वजह से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। स्थिति यह हो गई है कि अब संदिग्ध कोरोना मरीजों को भर्ती किए जाने वाले कोविड वार्ड में बेड खाली नहीं हैं।

By: ajay khare

Published: 06 Apr 2021, 10:30 PM IST

नरसिंहपुर. जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढऩे की वजह से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। स्थिति यह हो गई है कि अब संदिग्ध कोरोना मरीजों को भर्ती किए जाने वाले कोविड वार्ड में बेड खाली नहीं हैं। इन हालातों में लोगों से यह अपेक्षा की जाती है कि वे घर पर रहें, मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंस बना कर अपने जरूरी काम करें ताकि जिले में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण पाया जा सके।
जिले में सबसे ज्यादा मरीज नरङ्क्षसहपुर और साईंखेड़ा गाडरवारा में हैं। जिला अस्पताल का कोविड वार्ड व संदिग्ध मरीजों को भर्ती करने वाला संदिग्ध कोविड वार्ड फुल हो चुका है। यहां आए नए मरीजों को भर्ती करने के लिए बेड खाली नहीं हैं। इस स्थिति में मरीज के लिए अन्य वैकल्पिक व्यवस्थाएं करनी पड़ रही हैं। यदि यही हाल रहा और मरीज बढ़ते गए तो आगामी दिनों में मरीजों को भर्ती करने व उपचार आदि को लेकर जटिल स्थिति बन सकती है।
---------------------
आईसीयू में ८ बेड भरे कोविड वार्ड फुल
जिला अस्पताल में कोविड मरीजों के उपचार के लिए ऑक्सीजन सप्लाई वाले कुल १४५ बेड हैं जिनमें से १२ आईसीयू बेड शामिल हैं। आईसीयू के १२ में से ८ बेड भरे हुए हैं जबकि कोविड वार्ड के सभी बेड फुल हो चुके हैं। कोविड संदिग्ध वार्ड के भी सभी १२३ बेड भरे हुए हैं। यदि मरीजों की संख्या बढ़ती है तो विकट हालात हो सकते हैं। हालांकि गाडरवारा, करेली, गोटेगांव और तेंदूखेड़ा के शासकीय अस्पतालों में १०-१० ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा एनटीपीसी के अस्पताल में २० ऑक्सीजन बेड और पराड़कर अस्पताल व अग्रवाल हॉस्पिटल के १०-१० ऑक्सीजन बेड भी प्रशासन ने लिए हैं।
--------------
५ अप्रेल को यह थे हालात
जिले में 5 अप्रैल की स्थिति में कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों के 350 एक्टिव केस थे जिसमें ब्लाक नरसिंहपुर में 118, गोटेगांव में 25, करेली में 36, चांवरपाठा में 18, सांईखेड़ा गाडरवारा में 111 व चीचली सांईखेड़ा में 42 कोरोना के एक्टिव केस थे। जिले में 5 अप्रैल तक कोविड 19 के कुल एक लाख 7 हजार 841 सेंपल लिये गये। इन सेंपल की जांच के बाद 4152 सेंपल पॉजीटिव, एक लाख एक हजार 729 निगेटिव पाए गए जबकि 1207 रिजेक्ट हुए और 710 सेंपल की रिपोर्ट प्रतीक्षारत है। इस तरह जिले में 4189 सेंपल पॉजीटिव पाये गये, जबकि कोरोना के 3807 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और 32 की मृत्यु हो गई है।
नोट -रात में इसके आंकड़े मिलने पर इसे अपडेट कर दिया जाएगा
--------------
वर्जन
जिले में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है जिला अस्पताल में कोविड से संबंधित सभी वार्ड के बेड फुल हैं। इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए मरीजों के उपचार के लिए अन्य वैकल्पिक व्यवस्थाएं की गई हैं। जो भी नए मरीज आएंगे उनके उपचार की पूरी व्यवस्था है। कोई भी कोरोना मरीज उपचार से वंचित नहीं रहेगा।
डॉ.मुकेश जैन, सीएमएचओ

ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned