परीक्षा में लगी ड्यूटी, स्कूलों में लटके ताले

परीक्षा में लगी ड्यूटी, स्कूलों में लटके ताले

narendra shrivastava | Publish: Mar, 15 2018 06:00:00 AM (IST) Narsinghpur, Madhya Pradesh, India

भैंसा संकुल के स्कूलों का मामला, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी के आदेश का भी नहीं हुआ पालन

नरसिंहपुर। गोटेगांव क्षेत्र में माध्यमिक शिक्षा मंडल की बोर्ड परीक्षा में उन शालाओं के शिक्षकों की भी ड्यूटी लगा दी गई है, जिनमें एक या दो शिक्षक मौजूद थे। इसके कारण परीक्षा वाले दिन इन स्कूलों में ताले लटके रहते हैं। पत्रिका ने पूर्व में इस संबंध मे खबर प्रकाशित की थी, जिसके बाद ब्लॉक शिक्षा अधिकारी आरके भांडे ने गोटेगांव ब्लॉक के सभी संकुल प्राचार्यों को आदेश दिया था कि बोर्ड परीक्षा के समय किसी भी स्कूल में ताला नहीं लगा होना चाहिए, बल्कि ऐसी शालाओं में किसी न किसी शिक्षक को पदस्थ करने की समुचित कार्रवाई करें। लेकिन इस आदेश की अवहेलना संकुल प्राचार्यों के द्वारा की गई जिसका परिणाम मंगलवार को सामने आया कि कई स्कूलों में ताले लटके नजर आए।
पत्रिका ने मंगलवार को संकुल भैंसा के कई स्कूलों का अवलोकन किया तो दो माध्यमिक स्कूलों में ताले लटके हुए थे, जिसके कारण बच्चे स्कूल आकर वापस लौट गए।

एक अध्यापक, फिर भी लगा दी ड्यूटी
शासकीय नवीन माध्यमिक शाला खोबी में सिर्फ एक अध्यापक देवी सिंह पदस्थ हैं। इनकी ड्यूटी बोर्ड परीक्षा में लगा दी गई है, जिसके कारण शाला मेें ताला लटका हुआ था, यहां पर पढऩे वाले बच्चे आकर वापस लौट गए। इसी तरह शासकीय माध्यमिक शाला मोहास में सहायक अध्यापक शशिकांता पटैल एवं सुमिता पगारे कार्यरत हैं। इन दोनों शिक्षकों के स्कूल नहीं पहुंचने पर शाला में ताला लटका हुआ था। इस शाला के बाजू मे मौजूद प्राथमिक शाला के शिक्षक ने बताया कि दोनों की ड्यूटी बोर्ड परीक्षा में भैंसा में लगी है। इसके कारण स्कूल नहीं खुला है।

दो शिक्षक, दोनों परीक्षा में
पत्रिका ने इसी दौरान शासकीय माध्यमिक शाला सिमरी बड़ी एवं शासकीय माध्यमिक शाला कमोद का अवलोकन किया तो यहां पर कार्यरत शिक्षक तो मौजूद थे, लेकिन शाला में एक भी बच्चे मौजूद नहीं थे पूछने पर शिक्षक ने बताया कि माध्यमिक शाला की परीक्षाएं चल रही हैं इसके कारण बच्चे स्कूल नहीं आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि बच्चों को बुलाया जाता है तो वह नहीं आते हैं। उल्टे कहते हैं कि वह परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं।

मामले की जांच की जाएगी
इस संबंध में ब्लॉक शिक्षा अधिकारी आरके भांडे का कहना है कि उनके आदेश का पालन संकुल प्राचार्यों द्वारा क्यो नहीं किया गया है वह बंद स्कूलों के संंबंध मे जानकारी एकत्रित करके समुचित कार्रवाई करेंगे।

Ad Block is Banned