लाखों पर जा रही गजराज की मेहमानी

बाहर से आए दो जंगली हाथियों की किसानों के खेतों में मेहमानी शासन को महंगी पड़ रही है। दोनों हाथी यहां करीब 15 दिन से मेहमानी कर रहे हैं।

नरसिंहपुर. बाहर से आए दो जंगली हाथियों की किसानों के खेतों में मेहमानी शासन को महंगी पड़ रही है। दोनों हाथी यहां करीब १५ दिन से मेहमानी कर रहे हैं। यहां के कई किसानों की गन्ना की फसलों को हाथियों ने भारी नुकसान पहुंचाया है। जिसके मुआवजा के लिए राजस्व विभाग सर्वे करा रहा है। जानकारी के अनुसार प्राथमिक सर्वे में यह बात सामने आई है कि हाथियों ने कई किसानों के गन्ना और अन्य फसलों को जमकर नुकसान पहुंचाया है। ग्रामीणों के मुताबिक फसलों को कम से कम १० लाख रुपए का नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है। राजस्व विभाग इसका सर्वे कर रहा है कि कहां और किस किसान के खेत में हाथियों ने कितनी फसलों को नुकसान पहुंचाया है। अभी तक किए गए सर्वे में केवल बचई क्षेत्र का सर्वे रह गया है। गौरतलब है कि फसलों को हुए नुकसान के लिए शासन के नए नियमों के मुताबिक राजस्व विभाग को मुआवजा देना है।
जानकारी के अनुसार बचई, चीलाचौन, डांगीढाना, महमदपुर आदि के कई किसानों की फसलों को हाथियों ने चौपट कर दिया है। खेती के उपकरणों को भी भारी नुकसान पहुंचाया है। हाथी यहां रात में खेतों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं जबकि सुबह होते ही जंगल की ओर चले जाते हैं। वन विभाग हाथियों पर पूरी नजर रखे हुए है और उसके प्रयास हैं कि हाथी मुख्य मार्ग पर न आएं। बताया गया है कि दोनों हाथी जंगल से लगे खेतों में ज्यादा नजर आ रहे हैं।
--------------
वर्जन
हाथी अभी भी क्षेत्र में बने हुए हैं, वन विभाग के प्रयासों से दोनों हाथी जंगल से लगे खेतों तक सीमित हो गए हैं। उन्हें इससे आगे नहीं बढऩे दिया जा रहा है। किसानों की फसलों के नुकसान के लिए राजस्व विभाग सर्वे कर रहा है। हाथी रात में खेतों में आ जाते हैं और दिन में जंगल की ओर चले जाते हैं।
डीके श्रीवास्तव, एसडीओ वन विभाग

ajay khare Bureau Incharge
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned