अवैध रेत खनन को लेकर जमकर बवाल, फायरिंग, खदानकर्मियों को अगवा करने का आरोप

-जमकर चली लाठियां, खननकर्मियों को किया लहुलुहान

By: Ajay Chaturvedi

Published: 28 May 2021, 03:33 PM IST

नरसिंहपुर. अवैध रेत खनन को लेकर बीती रात रेत माफिया के गुर्गों और रेत खनन कंपनी के कर्मचारियों में जमकर बवाल हुआ। माफिया के गुर्गों ने कर्मचारियो को लाठियों से पीट-पीट कर लहुलुहान कर दिया। इतना ही नहीं फायरिंग भी की। माफिया के गुर्गों पर दो कर्मचारियों को अगवा करने का भी आरोप लगाया जा रहा है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची। लेकिन क्षेत्र में तनाव कायम है।

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि दूधी नदी किनारे स्थित रेत खदान पर अवैध कब्जे और खनन को लेकर लंबे समय से होशंगाबाद जिले में सक्रिय आरकेटीसी कंपनी के लोग सक्रिय हैं। वे सालीचौका क्षेत्र के कुछ पुराने खननकर्ताओं को प्रश्रय देकर जिले की शांति में खलल पैदा करने में जुटे हैं। पहले भी बेदर खदान से अवैध रास्ते को लेकर विवाद हो चुका है। उस वक्त भी पुलिसबल की तैनाती तक करनी पड़ी थी।

बताया जा रहा है कि पिछले दिनों मालहन बाड़ा की रॉयल्टी पर्ची पर होशंगाबाद की रेत सप्लाई का मामला सुर्खियों में आया तभी से होशंगाबाद के माफिया को लेकर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की आशंका जताई जा रही थी। क्षेत्रीय पुलिस भी इससे अनजान न थी। बावजूद इसके पुलिस ने कोई एहतियाती कदम नहीं उठाया। नतीजतन बीती रात दूधी नदी खदान में हुई फायरिंग और अपहरण की घटना है। बताया जा रहा है कि केकरा गांव में धनलक्ष्मी के कर्मचारियों को जानकारी लगी कि कुछ लोग दूधी खदान से रेत चोरी कर रहे हैं तो कंपनी के कर्मचारी इसकी पड़ताल करने पहुंचे। कर्मचारियों को देख माफिया के गुर्गों ने फायरिंग कर दी।

इस संबंध में सालीचौका चौकी प्रभारी पीयूष साहू का कहना है कि घटनाक्रम की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दे दी गई है। घटना की जांच की जा रही है। धनलक्ष्मी कंपनी के कर्मचारियों के बयान लिए जा रहे हैं।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned