Flood : नहीं उतरा नर्मदा नदी के पुलों से पानी, कई गांव में भरा रहा पानी

Flood : नहीं उतरा नर्मदा नदी के पुलों से पानी, कई गांव में भरा रहा पानी
Flood, rain, Narmada river, bridge, village, wall falls, farmers

Narendra Shrivastava | Publish: Sep, 10 2019 11:25:18 PM (IST) Narsinghpur, Narsinghpur, Madhya Pradesh, India

मंगलवार को भी जारी रहा रिमझिम बरसात का दौर

गाडरवारा। अंचल में जारी लगातार बरसात का क्रम मंगलवार को भी रुक-रुक कर चलता रहा। हालांकि इसमें सोमवार की तुलना में कुछ कमी आईं लेकिन फिर भी पानी बरसने से अव्यवस्थाएं बनी रहीं। सुबह से नर्मदा नदी के ककराघाट पुल एवं झिकौली पुल पर कई फुट पानी बहता रहा।
उधर, अनेक गांवों में बरसाती पानी भरने से लोगों को परेशानी से जूझना पड़ा। अत्यधिक वर्षा के कारण अनेक जगह कच्चे मकानों की दीवारें गिरीं। ऐसे ही भौंरझिर के पास ग्राम बिलौनी मे योगेंद्र, सब्बूलाल दीवान के मकान की दीवार गिर गई। गनीमत रही कि किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई।

सोमवार तक 40 मिमी एवं अब तक 1386 मिमी बरसात
तहसील कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह तक बीते 24 घंटों में 40 मिलीमीटर बरसात हुई। अब तक कुल 1386 मिमी बरसात हो चुकी है। मंगलवार को रिमझिम बरसात के बीच नर्मदा के पुलों से पानी कम होने की खबर मिली, वहीं तेज बरसात न होने से सोमवार की तुलना में कुछ राहत रही।

अत्यधिक बारिश से गिरी दीवार व घर, बाइक जर्जर
गांगई.चीचली. अत्यधिक बारिश से गांगई ग्राम में बहुत से घर गिर गए हैं कुछ लोगों की दीवारें गिरी हैं। इनमें गांगई ग्राम के ही अखिलेश जैन के यहां दीवार गिर गई, जिससे बाजू में रखी उनकी बाइक दब गई और क्षतिग्रस्त हो गई है। ग्राम के रंजीत गौड़ का घर भी गिर गया है।

जारी रही आफत की बरसात
कौंडिय़ा. ग्रामीण इलाकों में लगातार बारिश आफत बन गई है। लगातार बारिश का चल रहा सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। इससे चारों तरफ पानी ही पानी रहा। ऐसे में निचले इलाकों में जलभराव और कीचड़ से लोग जूझते रहे तो वहीं तेज हवा और बारिश से कई स्थानों पर पेड़ गिरने से क्षति हुई। बिजली आपूर्ति ठप होने से लोग परेशान रहे।

दीवार गिरने से गृहस्थी का सामान खराब
जिले में शनिवार की रात से आरंभ हुई झमाझम बारिश ने कच्चे मकानों में रहने वालों के लिए आफत भी बन गई। एक कच्चे मकान की दीवार गिरने से महिला एवं उसका पोता बाल-बाल बच गया। कोठिया गांव में रेवा बाई पति वंशी किरार (65) अपने पोते सूरज (15) वर्ष के साथ रहती हैं।

भारी बारिश से किसानों की फसलें चौपट
समीपी गांव कोठिया में नर्मदा का जलस्तर बढऩे के कारण पानी गांव तक आ पहुंचा। लगातार वर्षा के कारण किसानों की फसलें चौपट हो गई हैं। किसान भजन चौधरी, दिनेश चौधरी, नर्मदा प्रसाद, गोकल परोसी, बसंत बोहरे, ओंकार पटेल, शिव चौधरी, हीरालाल, जयदयाल चौधरी, विजय ठाकुर, अजय शास्त्री आदि किसानों ने बताया है कि उनकी प्रमुख फसल तुवर एवं सोयाबीन भारी बारिश के कारण प्राकृतिक आपदा
में खराब हो गए हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned