पूर्व सीएम ने सीएम शिवराज पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- इन्हीं के संरक्षण में हो रहा अवैध खनन

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि, शिवराज सरकार के संरक्षण में ही अवैध खनन हो रहा है।

By: Faiz

Published: 19 Feb 2021, 12:19 AM IST

नरसिंहपुर/ मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ग्राम रोहाणी में पत्रकारों से चर्चा करते हुए आरोप लगाया कि, नरसिंहपुर सहित पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के संरक्षण में अवैध उत्खनन हो रहा है। उनकी मिलीभगत से ही खनिज माफिया नर्मदा नदी की दशा और दिशा बिगाड़ रहा है। सिंह ने नर्मदा नदी में मशीनों से रेत उत्खनन करने पर चिंता व्यक्त करते हुए तत्काल मशीनों के उपयोग पर रोक लगाने की मांग की। साथ ही कहा कि, प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटैल की मिलीभगत से प्रदेश में नकली खाद्य पाउडर बिक रहा है और वो कार्रवाई करने की बातें भर करते हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- सीधी सड़क हादसे के बाद एक्शन मोड में प्रशासन : दस दिन में मिशन मोड पर किया जाएगा कार्य

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

परिक्रमा के बाद नर्मदा वासियों से हुआ भावनात्मक लगाव- दिग्विजय सिंह

ग्राम पंचायत अमोदा के ग्राम रोहाणी में मां नर्मदा सरंक्षण न्यास द्वारा आयोजित निशुल्क स्वास्थ्य शिविर को संबोधित करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि, नर्मदा परिक्रमा के बाद नर्मदा के किनारे बसे लोगों से भावनात्मक लगाव हो गया है। यही वजह है कि, इन क्षेत्रों के लोगों से मिलने का मन होता रहता है। सिंह ने ग्राम रोहाणी को गोद लेने की घोषणा करते हुए क्षेत्र के विकास की बात कही और कहा कि, भविष्य में भी ऐसे क्षेत्रों में सेवाभावी कार्य मां नर्मदा संरक्षण न्यास के माध्यम से किए जाएंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- पत्नी और ससुराल पक्ष की प्रताड़ना से परेशान था न्यायालयीन कर्मचारी! फांसी लगाकर की आत्महत्या


'मां नर्मदा के दर्शन से जीवन धन्य होता है'

इससे पूर्व सुबुद्धानंद महाराज ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि, मां नर्मदा के दर्शन से हम सबका जीवन धन्य हो जाता है। यही कारण है कि हम सबकी यही आस्था नर्मदा में है। प्रसन्नता का विषय है कि, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और उनके सहयोगी नर्मदा तटों पर सेवाभावी कार्य कर रहे हैं। सुबुद्धानंद ने अपने आशीष वचन में धर्म, कर्म और नर्मदा के महत्व पर विस्तार से प्रकाश डाला। कार्यक्रम को पूर्व सांसद रामेश्वर नीखरा, विधायक संजय शर्मा एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की पत्नी अमृता सिंह ने संबोधित करते हुए नर्मदा नदी के महत्व प्रकाश डाला व स्वास्थ्य शिविर का लाभ उठाने का आह्वान किया।

 

पढ़ें ये खास खबर- भूमाफियाओं पर अबतक की सबसे बड़ी कार्रवाई, 3250 करोड़ की जमीन मुक्त कराई, 1500 हितग्राहियों को मिलेगा लाभ


'भविष्य में भी नर्मदा किनारे बसे गांव में सेवाभावी कार्य'

कार्यक्रम का संचालन करते हुए पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कहा कि, भविष्य में भी नर्मदा किनारे बसे गांव में सेवाभावी कार्य पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के मार्गदर्शन में होते रहेंगे। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष संदीप पटैल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष देवेन्द्र पटैल, सत्यनारायण तिवारी, डॉ. संजीव चांदोरकर, डॉ.बेहरानी, डॉ.धीरावानी, डॉ. ग्रोवर, डॉ. अभिषेक चांदोरकर, सुरेन्द्र ढिमोले, देवेन्द्र पटैल के अलावा बड़ी संख्या में क्षेत्रीय नागरिक और मां नर्मदा सरंक्षण न्यास के पदाधिकारी एवं सदस्य व स्वयंसेवक मौजूद थे। शिविर में 700 से अधिक ग्रामीणों ने पंजीयन कराकर स्वास्थ्य परीक्षण एवं निशुल्क दवा प्राप्त की तथा आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिये पंजीयन करवाया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned