scriptIAS bride did not allow her to kanyaadaan, I am not a thing of charity | IAS दुल्हन ने नहीं करने दिया कन्यादान, बोली - मैं बेटी हूं, दान की चीज नहीं | Patrika News

IAS दुल्हन ने नहीं करने दिया कन्यादान, बोली - मैं बेटी हूं, दान की चीज नहीं

2018 बैच की महिला अफसर है तपस्या परिहार

नरसिंहपुर

Updated: December 18, 2021 01:18:42 pm

नरसिंहपुर. बेटी की शादी में कन्यादान का विशेष महत्व होता है, हर माता-पिता अपनी बेटी का कन्यादान करके अपने आप को खुशनसीब मानते हैं। वहीं मध्यप्रदेश में एक आइएएस महिला अफसर ने इस मानसिकता को बदलते हुए अपने पिता को कन्यादान नहीं करने दिया, उन्होंने कहा मैं आपकी बेटी हूं, कन्यादान की चीज नहीं, उनकी इस बात पर उनके पति ने भी समर्थन किया, ऐसे में एमपी में बिना कन्यादान के हुई यह शादी चर्चा का विषय बन गई है।

IAS दुल्हन ने नहीं करने दिया कन्यादान, बोली - मैं बेटी हूं, दान की चीज नहीं
IAS दुल्हन ने नहीं करने दिया कन्यादान, बोली - मैं बेटी हूं, दान की चीज नहीं

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले के छोटे से गांव जोवा में 2018 बैच की आईएएस महिला अफसर तपस्या परिहार की शादी आईएफएस अधिकारी गर्वित गंगवार से हुई। शादी के दौरान जब कन्यादान की रस्म का वक्त आया तो बेटी ने अपने पिता को रोक दिया, वे बोली मैं कोई दान की चीज नहीं हूं, आपकी बेटी हूं। इस प्रकार इस बेटी ने अपनी शादी में कन्यादान की रस्म नहीं करवाई, यह बात सुनकर हर कोई इस शादी की चर्चा करता नजर आया, क्योंकि हिंदू रीति रिवाजों के अनुसार शादी में बेटी के कन्यादान की रस्म जरूर होती है। लेकिन यह शादी बिना कन्यादान की रस्म के सम्पन्न हुई, जिसमें पूरा परिवार भी सहमत नजर आया।

21 दिसंबर को इतने समय के लिए बंद रहेंगे पेट्रोल पम्प

यूपीएससी में हासिल की थी 23 वीं रैंक
तपस्या परिहार ने यूपीएससी परीक्षा में 23 वीं रैंक हासिल कर आईएएस अफसर बनीं, उन्होंने आईएफएस अफसर गर्वित गंगवार से शादी की, तपस्या का कहना है कि जब दोनों परिवार मिलकर विवाह का आयोजन करते हैं, दोनों बराबर की स्थिति में होते हैं, तो छोटा या बड़ा या ऊंचा नीचा वाली कोई बात नहीं होना चाहिए, वहीं किसी प्रकार का दान भी नहीं होना चाहिए, इसलिए मैंने शादी में परिजनों से चर्चा कर कन्यादान की रस्म को दूर रखा है। इस बारे में उनके पति गर्वित की भी इसी प्रकार की राय है, उनका कहना है क्यों किसी लड़की को शादी के बाद पूरी तरह बदला जाए, चाहे बात मांग भरने की हो या अन्य कोई परंपरा की, ऐसी रस्में लड़के के लिए कभी लागू नहीं होती है। हमें इस तरह की मन्यताओं को धीरे धीरे दूर करना चाहिए। उनका कहना है कि इस तरह की रस्मों से लड़की को पिता के घर से बेदखल करने जैसा हो जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.