हत्या के २ आरोपियों को आजीवन कारावास

ajay khare

Publish: Feb, 15 2018 08:00:42 PM (IST)

Narsinghpur, Madhya Pradesh, India
हत्या के २ आरोपियों को आजीवन कारावास

पुरानी रंजिश को लेकर इमरत एवं नन्हा मल्लाह ने धर्माबाई को मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी थी।

हत्या के २ आरोपियों को आजीवन कारावास
नरसिंहपुर। प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश शिवकांत पांडेय ने महिला को जला कर मारने के अपराध में दो लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। अभियोजन के अनुसार 19 जनवरी 2016 को ग्राम करहैया हार में धरमाबाई मल्लाह अपने घर पर थी । पुरानी रंजिश को लेकर इमरत एवं नन्हा मल्लाह ने धर्माबाई को मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी थी। उसेे उपचार के लिए चिकित्सालय लाया गया जहां धर्माबाई ने नायब तहसीलदार के समक्ष मृत्यु कालिक कथन दिए थे जिसे अभियोजन ने न्यायालय में साक्षियों के साक्ष्य देकर प्रमाणित कराया। न्यायालय ने अभियोजन की और से पैरवी कर रहे अपर लोक अभियोजक शरद कुमार शर्मा के तर्कों से सहमत होते हुए आरोपियों को आजीवन कारावास एवं 1000 रुपए के अर्थदंड से दण्डित किया।
एक आदतन अपराधी जिला बदर
नरसिंहपुर। मप्र राज्य सुरक्षा अधिनियम 1990 के प्रावधानों के तहत जिला दण्डाधिकारी अभय वर्मा ने जिले के एक आदतन अपराधी को पुलिस अधीक्षक के प्रतिवेदन के आधार पर जिला बदर किया है। जिला दंडाधिकारी द्वारा जारी आदेश के अनुसार मुंगवानी थाना के अंतर्गत बचई के निवासी अन्ना उर्फ महेश पिता मनोरंजनदास गुप्ता को जिला बदर किया गया है। अन्ना उर्फ महेश गुप्ता को नरसिंहपुर जिला और उससे लगे जिलों छिंदवाहड़़ा सिवनी, जबलपुर,दमोह, सागर,रायसेन एवं होशंगाबाद की राजस्व सीमाओं से 6 माह की अवधि के लिए निष्कासित किया गया है। जिला दण्डाधिकारी ने महेश गुप्ता को आदेशित किया है कि वह उक्त आदेश की प्राप्ति के 48 घण्टों के भीतर उक्त जिलों की सीमाओं से बाहर चला जाए तथा अपने आचरण में सुधार करे। साथ ही इस जिले की सीमाओं में 6 माह की अवधि तक जिला दण्डाधिकारी की अनुमति के बगैर प्रवेश नहीं करे। जिला बदर की अवधि में जारी आदेश का उल्लंघन करने पर संबंधित के विरूद्ध मप्र राज्य सुरक्षा अधिनियम 1990 की धारा 14 के प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जायेगी।

1
Ad Block is Banned